ADVERTISEMENTREMOVE AD

कॉलेज-यूनिवर्सिटी के लिए UGC की गाइडलाइन-क्लास में होंगे 50% छात्र

फिलहाल फाईनल एयर, मास्टर्स और रिसर्च के स्टूडेंट के लिए खुलेंगे कॉलेज

Updated
भारत
2 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

देशभर में अब स्कूलों के बाद कॉलेज और यूनिवर्सिटीज को खोलने की तैयारी हो रही है. यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमीशन (UGC) ने इसे लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं. कंटेनमेंट जोन के बाहर आने वाले कॉलेजों को खोलने का फैसला किया गया है, साथ ही बताया गया है कि इन्हें अलग-अलग फेज में खोला जाएगा. सबसे पहले मास्टर्स, रिसर्च और फाईनल एयर के अंडर ग्रेजुएट छात्रों की क्लास शुरू होंगीं, इसके बाद दूसरी क्लासेस के छात्रों के लिए कॉलेज खोले जाएंगे.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

यूजीसी की गाइडलाइन के मुताबिक एक तय संख्या में छात्रों को कॉलेज बुलाया जाएगा. किसी भी क्लास में अगर 100 छात्र हैं तो एक दिन में सिर्फ 50 ही छात्र आ सकते हैं. बता दें कि पिछले महीने केंद्र सरकार की तरफ से जारी हुई गाइडलाइंस में बताया गया था कि 15 अक्टूबर के बाद स्कूल और कॉलेज खोलने का फैसला राज्य ले सकते हैं. इसके बाद अब कुछ राज्यों ने स्कूल खोल दिए हैं, वहीं कुछ राज्य कॉलेज और यूनिवर्सिटी खोलने जा रहे हैं.

0

कॉलेज और यूनिवर्सिटी के लिए ये दिशा निर्देश-

  • सभी छात्रों और टीचरों की कॉलेज में एंट्री के दौरान थर्मल स्क्रीनिंग होगी, जिसमें देखा जाएगा कि किसी को बुखार तो नहीं है.
  • छात्रों को पढ़ाने के लिए क्लासेस का वक्त बढ़ाने और हफ्ते में 6 दिन वाला शेड्यूल बनाने का सुझाव दिया गया है
  • कॉलेजों में अलग-अलग बैच में पढ़ाई होगी, इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का खयाल रखना जरूरी है, साथ ही सभी को मास्क पहनना भी जरूरी है.
  • कॉलेज में छात्रों की अटेंडेंस मौखिक आधार पर होगी.
  • जो छात्र ऑनलाइन ही पढ़ाई करना चाहते हैं, उनके लिए यूनिवर्सिटी को इंतजाम करने को कहा गया है.
  • रेजिडेंशियल हॉस्टल में छात्र रहना शुरू कर सकते हैं, लेकिन रूम शेयरिंग पर रोक है.
  • जिन छात्रों में लक्षण पाए जाते हैं उन्हें क्वॉरंटीन करने की व्यवस्था और संपर्क में आए छात्रों के आइसोलेशन की व्यवस्था भी सुनिश्चित होगी.
ADVERTISEMENT

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENTREMOVE AD
Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×