गिरफ्तारी से पहले उमर खालिद का आखिरी वीडियो

उमर खालिद ने गिरफ्तारी से पहले बनाया था वीडियो

Published
भारत
2 min read

"अगर आप इस वीडियो को देख रहे हैं... इसका मतलब है कि मुझे गिरफ्तार कर लिया गया है."

दिल्ली हिंसा मामले को लेकर गिरफ्तार हुए पूर्व जेएनयू छात्रसंघ नेता उमर खालिद का ये वीडियो उनके दोस्तों और परिवार की तरफ से वायरल किया जा रहा है. बुधवार 16 सितंबर को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान भी ये वीडियो दिखाया गया.

बता दें कि उमर खालिद को UAPA कानून के तहत 14 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था. खालिद ने अपनी गिरफ्तारी को लेकर बनाए गए इस वीडियो में कहा है,

“जो कोई भी नफरत की इस राजनीति के खिलाफ आवाज उठा रहा है उसे धमकाकर और गिरफ्तार कर चुप कराया जा रहा है. वो हमें डरा रहे हैं, लेकिन वो साथ आप लोगों को भी डराने की कोशिश कर रहे हैं. लेकिन आप डरें नहीं. डरिए मत नाइंसाफी के खिलाफ और बुलंद कीजिए. जिन लोगों को झूठे मुकदमें में फंसाया जा रहा है उन लोगों की रिहाई की मांग कीजिए.”

उमर खालिद ने अपने इस वीडियो में कहा कि, "बिना सबूतों के कई छात्रों को गिरफ्तार कर लिया गया है. उन्हें झूठे मुकदमों में फंसाया जा रहा है. पिछले कई महीनों से मुझे भी गिरफ्तार करने की कोशिश कर रहे हैं. मेरी एक 17 मिनट की स्पीच से 20 सेकेंड की क्विप निकालकर बताया गया कि ये दंगे की साजिश है. लेकिन जब मैंने पूरी स्पीच अपलोड की, जिसमें मैं दंगों और हिंसा की बात तो दूर, सत्याग्रह की बात कर रहा हूं. अब वो मेरे खिलाफ नए-नए झूठे बयान मीडिया में चला रहे हैं, झूठी गवाही दिलवा रहे हैं."

सरकार का विरोध करने वालों को किया जा रहा गिरफ्तार

उमर खालिद ने दिल्ली पुलिस पर सवाल उठाते हुए कहा कि, उसने उन लोगों पर कार्रवाई नहीं की जो खुलेआम दंगा करते नजर आ रहे हैं. उन्होंने कहा, जिन लोगों ने खुलेआम पुलिस की मौजूदगी में, टीवी कैमरे के सामने दंगा भड़काया, उन पर एफआईआर तो दूर की बात पूछताछ के लिए भी नहीं बुलाया गया. वहीं दूसरी तरफ जो सरकार की नीतियों और सीएए-एनआरसी का विरोध कर रहे हैं, उन्हें झूठे मुकदमे में गिरफ्तार कर लिया है.

बता दें कि उमर खालिद का नाम दिल्ली पुलिस ने कई चार्जशीट में लिखा है. जिसमें उन्हें दिल्ली हिंसा का मास्टरमाइंड और षड़यंत्र रचने वाला बताया गया है. उमर खालिद को दिल्ली पुलिस ने समन किया था, जिसके बाद वो अगस्त में कोलकाता से दिल्ली आए. पूछताछ के दौरान दिल्ली पुलिस ने उनसे उनका फोन भी ले लिया. जिसके बाद उनके पिता ने एक ट्वीट के जरिए ये जानकारी दी कि उनके बेटे को गिरफ्तार कर लिया गया है.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!