ADVERTISEMENTREMOVE AD

Uttarakhand: चमोली में करंट लगने से 15 लोगों की मौत, मजिस्ट्रियल जांच के आदेश

Chamoli electrocution incident: हादसा अलकनंदा नदी के तट पर नमामि गंगे प्रोजेक्ट साइट पर हुआ है.

Updated
भारत
2 min read
छोटा
मध्यम
बड़ा

उत्तराखंड (Uttarakhand) में एक बड़ा हादसा हुआ है. बुधवार, 19 जुलाई को चमोली जिले में अलकनंदा नदी के तट पर नमामि गंगे प्रोजेक्ट साइट पर करंट फैलने से कम से कम 15 लोगों की मौत हो गई. इस हादसे में कई लोग घायल भी बताए जा रहे हैं. मरने वालों में पुलिस और होमगार्ड के कई जवान शामिल हैं. सूबे के सीएम पुष्कर सिंह धामी ने मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए गए हैं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

15 की मौत, 7 घायल

उत्तराखंड एडिशनल डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस वी मुरुगेसन ने घटना की जानकारी मीडिया से साझा करते हुए 15 लोगों की मौत की पुष्टि की है. उन्होंने ये भी बताया कि घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

हादसे में जान गंवाने वालों में एक सब इंस्पेक्टर और पांच होम गार्ड के जवान हैं. डीजीपी अशोक कुमार के अनुसार पीपलकोटी चौकी प्रभारी की इस हादसे में मौत हो गई है.

हादसे के बारे में कहा जा रहा है कि नमामी गंगे प्रोजेक्ट का काम चल रहा था. अचानक वहां करंट फैल गया. कुल 22 लोग इसकी चपेट में आए. इस घटना में कुल 15 लोगों की मौत हो गई और 7 घायल हैं. 2 घायलों की स्थिती ज्यादा गंभीर है जिन्हें हेलिकॉप्टर के जरिए ऋषिकेश AIIMS लाया जा रहा है.

0

सीएम ने दिए जांच के आदेश

इस घटना के बाद सीएम पुष्कर सिंह धामी ने मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए हैं. उन्होंने ट्वीट कर कहा, "चमोली में करंट लगने से कई लोगों के हताहत होने का अत्यंत पीड़ादायक समाचार प्राप्त हुआ. दुर्घटना में घायल हुए लोगों को उपचार हेतु नजदीकी अस्पताल भेज दिया गया है. इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए हैं. ईश्वर से दिवंगत आत्माओं की शांति एवं घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ हेतु प्रार्थना करता हूं."

5 घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. अधिकारी मौके पर मौजूद हैं और इस बात का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि करंट कैसे फैला.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×