ADVERTISEMENT

उत्तराखंड: रुड़की में धर्मांतरण को लेकर चर्च पर हमला, 250 लोगों के खिलाफ FIR

चर्च में सुबह प्रार्थना के दौरान किया गया हमला, बीजेपी युवा मोर्चा और विश्व हिंदू परिषद के लोगों पर आरोप

Updated
भारत
2 min read
ADVERTISEMENT

वीडियो प्रोड्यूसर/एडिटर: कनिष्क दांगी

उत्तराखंड के रुड़की (Uttarakhand Roorkee) में कुछ लोगों पर धर्मांतरण का आरोप लगाते हुए उनके साथ मारपीट की गई. चर्च में सुबह प्रार्थना कर रहे लोगों पर कुछ लोगों ने लाठी-डंडों से हमला बोल दिया. हमले की सूचना मिलते ही भारी संख्या में पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन तब तक हमलावर भाग निकले. आरोप है कि मारपीट के दौरान चर्च में तोड़फोड़ और लूटपाट भी की गई.

इस घटना में 8 लोग घायल हुए हैं, जिसमें बच्चे और बुजुर्ग भी शामिल हैं. एक शख्स की मारपीट के बाद हालत गंभीर थी, जिसे देहरादून रेफर किया गया है. तनाव को देखते हुए मौके पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है. इस घटना के बाद ईसाई धर्म के लोगों ने कोतवाली पहुंचकर हमलावरों की गिरफ्तारी और सुरक्षा की मांग उठाई.

250 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

तहरीर के आधार पर पुलिस ने बीजेपी युवा मोर्चा, बीजेपी ओबीसी मोर्चा, विहिप और बीजेपी महिला मोर्चा के नेताओं समेत ढाई सौ लोगों के खिलाफ कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

ADVERTISEMENT

दरअसल सिविल लाइंस कोतवाली क्षेत्र स्थित सोलानीपुरम में एक चर्च है. रविवार सुबह करीब दस बजे ईसाई धर्म के लोग यहां प्रार्थना कर रहे थे. बताया जा रहा है कि इसी बीच करीब ढाई सौ लोगों ने धर्मांतरण कराने का आरोप लगाते हुए लाठी-डंडों से प्रार्थना कर रहे लोगों पर हमला बोल दिया.

हमलावरों ने कुर्सी, खिड़की, बाइक और फर्नीचर में तोड़फोड़ कर दी. साथ ही सीसीटीवी कैमरे तोड़ दिए और डीबीआर चोरी कर ले गए. बुजुर्गों, महिलाओं और बच्चों से भी मारपीट की गई. आरोप है कि हमलावरों ने महिलाओं से पर्स, मोबाइल और अन्य सामान लूट लिया. मारपीट के बाद घायलों को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया.

इन लोगों पर लगाए गए हैं आरोप

आरोप है कि BJYM के प्रदेश मंत्री सागर गोयल, बीजेपी ओबीसी मोर्चा के प्रदेश मंत्री धीर सिंह, विहिप मंत्री शिवप्रसाद त्यागी, महिला मोर्चा की मंडल अध्यक्ष सीमा गोयल, बबीता चौहान, सुनील, राखी प्रधान, रजनी गोयल समेत ढाई सौ लोगों ने चर्च पर हमला किया.

इस मामले को लेकर एसपी देहात प्रमेंद्र सिंह डोभाल ने बताया कि आठ नामजद समेत ढाई सौ लोगों पर मारपीट, तोड़फोड़, जान से मारने की कोशिश और डकैती का केस दर्ज कर लिया है. मामले में जांच कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT