ADVERTISEMENTREMOVE AD

शुरू हुई वैष्णो देवी की यात्रा, मास्क-आरोग्य सेतू ऐप अनिवार्य

कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए वैष्णो देवी की यात्रा भी 18 मार्च को यात्रा रोक दी गई थी.  

Updated
भारत
1 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

कोरोना वायरस महामारी के कारण रोकी गई वैष्णो देवी की यात्रा आज से फिर शुरू हो गई है. करीब पांच महीने बाद यात्रा को फिर से शुरू किया जा रहा है. नई गाइडलाइंस के मुताबिक, अब रोजाना केवल 2 हजार श्रद्धालुओं को ही दर्शन की अनुमति होगी. इसमें से केवल 100 ही जम्मू-कश्मीर से बाहर के होंगे.

ADVERTISEMENTREMOVE AD
कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए बाकी तीर्थ यात्रा की तरह वैष्णो देवी की यात्रा भी 18 मार्च को यात्रा रोक दी गई थी.

श्रीमाता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के सीईओ, रमेश कुमार ने बताया है कि पहले हफ्ते रोजाना 2 हजार श्रद्धालु दर्शन करेंगे. इसमें से 1900 जम्मू-कश्मीर से होंगे और केवल 100 श्रद्धालु बाहर से होंगे. अभी यात्रा में पिट्ठू और पालकी की सुविधा भी नहीं मिलेगी.

आरोग्य सेतू ऐप, फेस मास्क अनिवार्य

श्रद्धालुओं को दर्शन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना होगा. इसके साथ ही उनके फोन में आरोग्य सेतु ऐप इंस्टॉल करना होगा. फेस मास्क और फेस कवर सभी श्रद्धालुओं के लिए अनिवार्य है. यात्रा के एंट्री प्वाइंट्स पर श्रद्धालुओं को थर्मल स्कैनिंग से गुजरना होगा.

प्रेगनेंट महिलाएं, को-मॉर्बिड वाले लोग, 60 साल से अधिक बुजुर्ग और 10 साल से छोटे बच्चों को यात्रा से बचने की सलाह दी गई है.

दिखानी होगी COVID-19 नेगेटिव रिपोर्ट

जम्मू-कश्मीर के रेड जोन और बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं की नेगेटिव COVID-19 रिपोर्ट भी चेक की जाएगी. जिन श्रद्धालुओं कोरोना वायरस रिपोर्ट नेगेटिव होगी, केवल उन्हें ही भवन जाने की अनुमति दी जाएगी.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×