ADVERTISEMENTREMOVE AD

वाराणसी: चलती ट्रक में पीछे से घुसी कार, 8 लोगों की मौत, 4 वर्षीय मासूम का इलाज जारी

Varanasi में हुए कार हादसे पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गहरा दुःख जताया है.

Published
भारत
3 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के वाराणसी (Varanasi Car Accident) में सुरही गांव के सामने 04 अक्टूबर की सुबह एक कार पीछे से चलती हुई ट्रक में जा घुसी. हादसे में कार सवार 8 लोगों की मौत हो गई. वहीं घटना में एक 4 वर्षीय मासूम बच गया, ट्रामा सेंटर में उसका इलाज जारी है. जोरदार टक्कर की आवाज सुनकर ग्रामीण मौके पर पहुंचे, किसी तरह घायलों को बाहर निकाला गया.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

हादसे में कुछ लोगों की मौके पर मौत हो गई तो कुछ घायलों ने अस्पताल में दम तोड़ दिया. घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने क्रेन से कार को सड़क से हटवाया. पुलिस ने मृतकों के शव को मोर्चरी में रखवा कर घर वालों को सूचना दी है. हादसे के शिकार लोग पीलीभीत के निवासी बताए जा रहे हैं.

क्या है पूरा मामला ? 

पीलीभीत जिले के पूरनपुर थाना क्षेत्र के मुजफ्फरनगर गांव निवासी महेंद्र पाल और दामोदर पाल अपने परिवार और सम्बंधियों के साथ पितृ विसर्जन और काशी विश्वनाथ मंदिर में पूजा-पाठ के बाद आज सुबह में अर्टिका कार से घर जा रहे थे. वाराणसी - जौनपुर मार्ग पर सुरही गांव के सामने हाईवे पर आगे चल रही ट्रक में तेज गति से कार घुस गई.

Varanasi में हुए कार हादसे पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गहरा दुःख जताया है.

हादसे में क्षतिग्रस्त हुई कार

(फोटो: क्विंट हिंदी द्वारा प्राप्त)

लोगों के चीखने - चिल्लाने के साथ ही तेज टक्कर की आवाज सुनकर पहुंचे ग्रामीणों ने किसी तरह घायलों को बाहर निकाला और पुलिस को सूचना दी. मौके पर पहुंचे थानाध्यक्ष दीपक कुमार रणावत और चौकी इंचार्ज करखियाव रवि सिंह ने घायलों को अस्पताल भिजवाया.

Varanasi में हुए कार हादसे पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गहरा दुःख जताया है.

हादसे में क्षतिग्रस्त हुई कार

(फोटो: क्विंट हिंदी द्वारा प्राप्त)

जानकारी के मुताबिक, मौके पर ही 6 लोगों की मौत हो गई. 2 लोगों को पुलिस की जीप से पिंडरा पीएचसी पर भेजा गया. यहां एक की मौत हो गई, दूसरे ने दीनदयाल अस्पताल में दम तोड़ दिया. हादसे में 4 वर्षीय शांति स्वरुप जिंदा बच निकला. उसका इलाज दीनदयाल अस्पताल में चल रहा है.

0

50 मीटर तक सड़क पर घिसटती रही कार

वाराणसी में पितृ विसर्जन और दर्शन-पूजन के बाद यह परिवार अपने घर लौट रहा था. कार की गति तेज होने और ड्राइवर को झपकी आने से अर्टिगा पीछे से ट्रक में जा घुसी. तेज रफ्तार कार को ट्रक 50 मीटर से अधिक दूरी तक घसीट कर ले गई. कार सवार 9 लोगों में से 8 की मौत हो चुकी है. एक बच्चा बच गया है.

कार हादसे में इनकी हुई मौत

मृतकों में 3 महिला और 5 पुरुष शामिल हैं. मृतकों पहचान महेंद्र पाल 45 वर्ष, भाई दामोदर पाल 43 वर्ष, चन्दकली पत्नी महेंद्र 42 वर्ष, निर्मला पत्नी दामोदर 38 वर्ष, विपिन 39 वर्ष की मौत हो गई. 4 साल का बच्चा शांति स्वरूप की स्थिति सामान्य बताई जा रही है. सभी एक ही गांव और घर के निवासी बताये जा रहे हैं.

घर वालों के आने के बाद स्थिति होगी स्पष्ट

फूलपुर थानाध्यक्ष दीपक कुमार राणावत ने बताया कि आधार कार्ड और मोबाइल के आधार पर कुछ लोगों की पहचान हुई है, परिवार के लोगों के आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट होगी. मृतकों के शव को शिवपुर के मोर्चरी हाउस में रखवाया गया है. घटना के बाद ट्रक चालक भाग निकला. आसपास के लोगों के मुताबिक भिड़ंत इतनी तेज थी कि 500 मीटर दूर स्थित गांव तक सुनाई दी.

Varanasi में हुए कार हादसे पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गहरा दुःख जताया है.

मौके पर पहुंचे पुलिस के आला अधिकारी

ADVERTISEMENT

कार का एयरबैग खुला लेकिन मौत न टल सकी

कार में सुरक्षा की दृष्टि से लगाए गए एयरबैग ट्रक से भिड़ंत के बाद खुल तो गए थे, लेकिन किसी की जान न बचा सके. अमूमन माना जाता है कि एयरबैग जीवन बचाने के लिए होते हैं, लेकिन इस दुर्घटना में एयरबैग भी कार सवारों की जान बचाने में ना काफी साबित हुआ.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना पर जताया दुख

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस हादसे पर गहरा दुःख जताया है. योगी आदित्यनाथ की ऑफिशियल सोशल मीडिया अकाउंट से लिखा गया है कि जिला प्रशासन के अधिकारी घायलों के अच्छे इलाज के लिए हर व्यवस्था करें. उन्होंने बाबा विश्वनाथ से दिवंगत आत्माओं की शांति और घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की उन्होंने शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त की.

(इनपुट्स - चंदन पांडेय)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENTREMOVE AD
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×