‘वायु’ चक्रवात से मॉनसून में और देरी, रूपाणी बोले- गुजरात अब सेफ
वेरावल तट पर समुद्र में उठती लहरों से अपनी नाव को सुरक्षित स्थान पर ले जाते मछुआरे
वेरावल तट पर समुद्र में उठती लहरों से अपनी नाव को सुरक्षित स्थान पर ले जाते मछुआरे(फोटो: PTI)
Live

‘वायु’ चक्रवात से मॉनसून में और देरी, रूपाणी बोले- गुजरात अब सेफ

चक्रवात ‘वायु’ गुजरात के सौराष्ट्र तट से गुजरते हुए अब ओमान की ओर रुख कर चुका है. तूफान का केंद्र गुजरात से दूर चला गया है, लेकिन चक्रवात के बाहरी दायरे का तटवर्ती इलाकों पर असर पड़ सकता है. गुजरात के सीएम विजय रूपाणी ने कहा है कि गुजरात अब पूरी तरह सुरक्ष‍ित है.

'वायु' की वजह से पश्चिमी रेलवे ने एहतियात के तौर पर कुछ और ट्रेनें रद्द की हैं. इस लाइव ब्‍लॉग में आप 'वायु' चक्रवात से जुड़े ताजा अपडेट देख सकते हैं.

NEWEST FIRSTOLDEST FIRST
(3) NEW UPDATES

#CycloneVayu: पश्चिमी रेलवे ने कैंसिल की और ट्रेने

शुक्रवार को पश्चिमी रेलवे ने 7 ट्रेेने रद्द कर दी साथ ही 5 अन्य ट्रेनों को सुरक्षा के लिहाज से अस्थायी रूप से भी रोक दिया गया है.

'वायु' से अब सुरक्ष‍ित है गुजरात: विजय रूपाणी

गुजरात के सीएम विजय रूपाणी ने कहा है कि अब यह पूरी तरह साफ हो चुका है कि चक्रवात गुजरात से नहीं टकराएगा. उन्‍होंने कहा कि अब गुजरात पूरी तरह सुरक्ष‍ित है. सरकार ने सीनियर मंत्रियों और अधिकारियों को वापस बुलाने का फैसला किया है, जो 10 इलाकों में भेजे गए थे.

'वायु' के कारण कई और गाड़‍ियां रद्द

पश्चिमी रेलवे ने 'वायु' चक्रवात के मद्देनजर मुख्‍य लाइन की 37 और ट्रेनों को कैंसिल कर दिया है. 9 गाड़ि‍यों को आंशिक तौर पर रद्द किया गया है.

'वायु' की वजह से मॉनसून में और देरी

मौसम विभाग ने कहा, 'वायु' चक्रवात की वजह से मॉनसून के मुंबई पहुंचने में एक सप्‍ताह की और देरी हो सकती है.

गुजरात के सभी एयरपोर्ट पर हवाई सेवा जल्द हो जाएगी शुरू

एयरपोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (AAI) ने गुजरात के एयरपोर्ट की स्थिति की समीक्षा की. कांडला और केशोद एयरपोर्ट पर आज रात 12 बजे से सामान्य हवाई सेवा शुरू कर दी जाएगी. कल सुबह 6 बजे से भावनगर एयरपोर्ट पर हवाई सेवा शुरू हो जाएगी. जबकि दीव और पोरबंदर एयरपोर्ट पर कल सुबह 10 बजे से सेवा शुरू कर दी जाएगी.

गुजरात से ओमाना की ओर गया 'वायु'

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा, जो चक्रवात 'वायु' गुजरात में दस्तक देने वाला था, अब ओमान की ओर बढ़ गया है. लेकिन फिर भी 24 घंटे के लिए प्रशासन हाई अलर्ट पर रहेगा, शुक्रवार को 10 जिलों के स्कूल बंद रहेंगे.

गुजरात के वेरावल तट पर साइक्लोन 'वायु' की तेज हवाओं से घायल हुए वृद्ध आदमी को सुरक्षित स्थान पर ले जाते लोग

जैसा कि आशंका थी ‘भयावह चक्रवाती तूफान’ ने गुजरात में दस्तक नहीं दी
जैसा कि आशंका थी ‘भयावह चक्रवाती तूफान’ ने गुजरात में दस्तक नहीं दी
(फोटो: PTI)

पोरबंदर के भूतेश्वर महादेव मंदिर का एक हिस्सा ढह गया

चक्रवात ‘वायु’ ने गुजरात तट से टकराया
चक्रवात ‘वायु’ ने गुजरात तट से टकराया
(फोटो: ANI)

चक्रवात 'वायु' के दौरान गुजरात के सोमनाथ मंदिर का दृश्य

चक्रवात ‘वायु’ ने गुजरात तट पर दी दस्तक
चक्रवात ‘वायु’ ने गुजरात तट पर दी दस्तक
(फोटो: IANS)

चक्रवात 'वायु' गुजरात तट से टकराया, भारी बारिश

उत्तर-पश्चिम की तरफ बढ़ता चक्रवात 'वायु' दोपहर बाद गुजरात के सौराष्ट्र तट से टकराया. इससे तटवर्ती इलाकों में भारी बारिश हुई, जिसके शाम तक जारी रहने की उम्मीद है.

जैसा कि आशंका थी 'भयावह चक्रवाती तूफान' ने गुजरात में दस्तक नहीं दी, लेकिन यह सौराष्ट्र तटीय क्षेत्र से होकर गुजर रहा है, जिससे अमरेली, गिर सोमनाथ, दीव, जूनागढ़, पोरबंदर, राजकोट, जामनगर और द्वारका जिले प्रभावित हुए. इस कारण भारी बारिश हुई.

इसके पहले ही गुजरात ने करीब 3.1 लाख लोगों और सौराष्ट्र से लगे हुए केंद्र शासित प्रदेश दीव से 10 हजार लोगों को सुरक्षित निकाल लिया है.

मॉनसून को महाराष्ट्र से और दूर उड़ा ले गया ‘वायु’

पूरी खबर यहां पढ़ें

चक्रवात वायु ने गोवा में मॉनसून में देरी की: IMD

चक्रवात 'वायु' गोवा के तट से गुजर चुका है और गुजरात तट की ओर बढ़ रहा है, लेकिन चक्रवात ने गोवा में मॉनसून के आगमन में और देरी कर दी है.

भारतीय मौसम विभाग (IMD) के राज्य के निदेशक के. वी. पद्गलवार ने कहा, "चक्रवात दीव, सोमनाथ, जूनागढ़ और द्वारका के क्षेत्रों के प्रभावित होने की संभावना है. चक्रवात की हवा की गति लगभग 135 किलोमीटर प्रति घंटे से लेकर 145 किलोमीटर प्रति घंटे तक है."

‘वायु’ के कारण गुजरात के 560 गांवों में बिजली आपूर्ति बाधित

‘वायु’ चक्रवात के कारण गुजरात के करीब 560 गांवों में बिजली आपूर्ति बाधित हुई है और आपूर्ति बहाल करने के लिए कोशिश की जा रही है. गुजरात सरकार के स्वामित्व वाली कंपनी गुजरात ऊर्जा विकास निगम लिमिटेड (जीयूवीएनएल) की प्रबंध निदेशक शहमीना हुसैन ने बताया कि जीयूवीएनएल ने चक्रवात के खतरे को देखते हुए पहले से ही कार्य योजना तैयार कर ली थी.

चक्रवात ‘वायु’: गुजरात में हवाई अड्डों को अब तक कोई नुकसान नहीं

चक्रवात ‘वायु’ का गुजरात के अधिकतर हवाई अड्डों पर कोई खास असर नहीं पड़ा है और न ही अब तक इससे हवाई अड्डों की आधारभूत संरचना को कोई नुकसान पहुंचा है. भारतीय हवाई अड्डा प्राधिकरण (एएआई) ने गुरुवार को यह जानकारी दी है.

साइक्लोन ‘वायु’ के चलते पश्चिम रेलवे ने 9 और ट्रेनें रद्द कर दी. इसके अलावा चार ट्रेनों को आंशिक रूप से रद्द कर दिया. 

NDRF ने गर्भवती महिला को पहुंचाया अस्पताल

एनडीआरएफ ने एक गर्भवती महिला को शियालबेट गांव से जफराबाद के एक अस्पताल पहुंचाया. यहां महिला ने एक बच्चे को जन्म दिया, बच्चे और मां दोनों की हालत स्थिर है.

Slide 1 of 2
  • शियालबेट गांव से गर्भवती महिला को अस्पताल ले जाती एनडीआरएफ की टीम
    शियालबेट गांव से गर्भवती महिला को अस्पताल ले जाती एनडीआरएफ की टीम
    (फोटो: ANI)
  • एनडीआरएफ ने महिला को जफराबाद के एक अस्पताल पहुंचाया
    एनडीआरएफ ने महिला को जफराबाद के एक अस्पताल पहुंचाया
    (फोटो: ANI)

साइक्लोन वायु: रेलवे ने रद्द कीं 77 ट्रेनें

रेलवे ने चक्रवात ‘वायु’ के चलते 77 ट्रेनों को रद्द कर दिया है. इसके अलावा 33 अन्य ट्रेनें आंशिक रूप से रोक दी गई हैं. हालांकि चक्रवात ने अपना रास्ता बदल लिया है लेकिन फिर भी एहतियात के तौर पर ये ट्रेनें रद्द की गई हैं. वेरावल-अमरेली, अमरेली-जूनागढ़, देलवाडा-वेरावल ट्रेनों को रद्द किया गया है.

गुजरात में मछुआरों ने किया भारी नुकसान का दावा, सरकार से मांगी मदद

गुजरात के वेरावल में मछुआरों का कहना है कि चक्रवाती तूफान वायु के चलते उनकी 40 से 45 नावें तबाह हो गई हैं. इन मछुआरों का कहना है कि ये नावें उनके जीवनयापन का साधन थीं. ऐसे में उन्होंने सरकार से अपने नुकसान की भरपाई के लिए मदद मांगी है.

पीएम मोदी ने विजय रूपाणी को दिलाया मदद का भरोसा

गुजरात CMO के मुताबिक, पीएम नरेंद्र मोदी ने बिश्केक पहुंचने के बाद गुजरात के सीएम विजय रूपाणी से 'वायु' से निपटने की तैयारियों को लेकर फोन पर बातचीत की. इस दौरान पीएम मोदी ने केंद्र सरकार की तरफ से हर संभव मदद का भरोसा दिलाया.

रक्षा मंत्री ने की 'वायु' से निपटने की तैयारियों की समीक्षा

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने चक्रवाती तूफान वायु से निपटने के लिए इंडियन कोस्ट गार्ड और नेवी की तैयारियों की समीक्षा की. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, वह इस मामले की स्थिति पर लगातार नजर बनाए हुए हैं.

साइक्लोन वायु: गुजरात में कई जगह स्थिति सामान्य

सूरत, भुज, केशोड, कांडला, जामनगर, वडोडरा और अहमदाबाद में स्थिति सामान्य है. दीव, पोरबंदर और भावनगर एयरपोर्ट्स पर इस वक्त 30-40 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से हवाएं चल रही हैं.

साइक्लोन वायु से गुजरात में अब तक कोई हताहत नहीं

गुजरात सरकार के राजस्व विभाग के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी पंकज कुमार ने बताया, ''चक्रवाती तूफान वायु की वजह से अब तक कोई भी हताहत नहीं हुआ है. (पिछले दो दिनों में हुईं 6) मौतें तूफान की वजह से नहीं, बल्कि मॉनसून की वजह से हुई हैं.''

(फोटो: ANI)

'साइक्लोन वायु के असर से निपटने को गुजरात सरकार तैयार'

गुजरात सरकार के राजस्व विभाग के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी पंकज कुमार ने कहा, ''चक्रवाती तूफान वायु को लेकर सरकार लगातार चौकन्नी है. लोगों को शेल्टर होम्स में ले जाया गया है.''

साइक्लोन वायु: गुजरात के पोरबंदर में NDRF की 6 टीमें अलर्ट पर

(फोटो: ANI)

साइक्लोन वायु: कोंकण में जनता के लिए बीच बंद

महाराष्ट्र: अरब सागर में उठ रहे चक्रवाती तूफान वायु को ध्यान में रखते हुए कोंकण इलाके में जनता के लिए बंद किए गए बीच.

(फोटो: ANI)

चक्रवात ‘वायु’ गुजरात के सौराष्ट्र तट से गुजरते हुए अब ओमान की ओर रुख कर चुका है. तुफान ने भले ही गुजरात को अछूता छोड़ दिया है लेकिन राज्य के तटवर्ती इलाकों में अभी भी भारी बारिश और तेज हवाएं चलने का खतरा बना हुआ है. ‘तूफान का केंद्र’ गुजरात से दूर चला गया है, लेकिन चक्रवात के बाहरी दायरे का तटवर्ती क्षेत्रों पर प्रभाव अभी भी होगा.

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि मौसम विभाग की बुलेटिन के अनुसार, गुजरात की ओर आ रहा चक्रवात ‘वायु’ अब ओमान की ओर मुड़ गया है. लेकिन प्रशासन अगले 24 घंटे तक हाई अलर्ट पर रहेगा.

'गुजरात के तटों से नहीं टकराएगा वायु तूफान'

भारत मौसम विज्ञान विभाग की वैज्ञानिक मनोरमा मोहंती ने बताया, ''साइक्लोन वायु के गुजरात के तटों से टकराने की संभावना नहीं है. यह वेरावल, पोरबंदर, द्वारका के पास से गुजर जाएगा. तटीय इलाकों में इसका असर देखने को मिलेगा क्योंकि तेज हवाएं चलेंगी और भारी बारिश होगी.''

वायु तूफान को लेकर मौसम विभाग ने जताई ये संभावना

मौसम विभाग के मुताबिक, अरब सागर में काफी खतरनाक चक्रवाती तूफान वायु पिछले 6 घंटों में उत्तर-उत्तर-पश्चिम की तरफ बढ़ा है. यह वेरावल से (दक्षिण-पश्चिम दिशा में) 130 किलोमीटर की दूरी पर और पोरबंदर से (दक्षिण दिशा में) 180 किलोमीटर की दूरी पर है. कुछ समय के लिए इसके उत्तर-उत्तर-पश्चिम दिशा की तरफ बढ़ने की संभावना है, उसके बाद आज दोपहर से यह 135-145 किलोमीटर/घंटा की स्पीड के साथ उत्तर-पश्चिम की तरफ बढ़ेगा.

साइक्लोन वायु: तेज हवाओं का चलना जारी

गिर सोमनाथ, गुजरात: तेज हवाओं के चलते सोमनाथ मंदिर का शेड टूटा.

अगले 12 घंटे स्थिति असामान्य रहेगी

मौसम विभाग के मुताबिक, समुद्र की स्थिति अगले 12 घंटों के दौरान पूर्वमध्य और आसपास के पूर्वोत्तर अरब सागर और गुजरात तट पर असामान्य रहेगी. 13 से 15 जून के दौरान उत्तर अरब सागर में तेज हवाएं चलेंगी.

गुजरात के कई जिलों पर असर डालेगा 'वायु'

मौसम विभाग के मुताबिक 'वायु' के सौराष्ट्र तट के साथ लगभग उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है. ये गुजरात के अमरेली, गिर सोमनाथ, दीव, जूनागढ़, पोरबंदर, राजकोट, जामनगर, देवभूमि द्वारका और कच्छ जिले को प्रभावित करेगा. गुरुवार की दोपहर तक हवा की गति 155-165 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से लेकर 180 किमी प्रति घंटे की रफ्तार तक होगी.

पोरबंदर के चौपाटी तट पर ऊंची लहरें उठ रही हैं

गुजरात के वीरावल में जलेश्वर तट पर समुद्र में तेज हलचल शुरू हो गई है

तूफान के टकराने से पहले पोरबंदर के चौपाटी तट का नजारा

गुरुवार को गुजरात के तट से टकराएगा वायु

चक्रवाती तूफान 'वायु' के 155 से 180 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से गुरुवार को गुजरात के तट से टकराने की आशंका है.

गुजरात के पश्चिमी इलाकों में 24 घंटों के लिए उड़ान सेवाएं बंद

गुजरात के पश्चिमी इलाकों पोरबंदर, दीव, भावनगर, केशोड़ और कंडला में उड़ान सेवाएं बंद करने का ऐलान किया गया है. एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने हवाई अड्डों पर नुकसान न पहुंचे इसलिए बुधवार रात 12 बजे से गुरुवार रात 12 बजे तक के लिए उड़ान सेवाएं रोक दी हैं.

‘लोगों की सुरक्षा के लिए प्रार्थनारत हूं’-शाह

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, ‘‘चक्रवात वायु पोरबंदर और दीव के बीच से होकर गुजरेगा, मैं लोगों की सुरक्षा के लिए प्रार्थना कर रहा हूं. गृह मंत्रालय लगातार गुजरात सरकार/केंद्र शासित राज्य और एजेंसियों के संपर्क में है. NDRF ने 52 टीमें भी तैनात की है.’’

गुजरात के राजस्व विभाग के अतिरिक्त सचिव ने चक्रवात वायु पर दी जानकारी

पंकज कुमार (अतिरिक्त सचिव राजस्व विभाग, गुजरात सरकार) ने बताया कि गुजरात के तटिय इलाकों के 500 गांवों को खाली करवाया गया है. साथ ही 2 लाख 15 हजार लोगों को सुरक्षित जगह पर रखा जा चुका है. रात 12 बजे से चक्रवात की चपेट में आए गांव मे पुलिस पैट्रोलिंग करेगी.

#CycloneVayu | VIdeo: पोरबंदर में चक्रवात से पहले उठी उंची लहरें

गुरुवार को आने वाले चक्रवात ‘वायु’ से पहले पोरबंदर के चौपाटी बीच पर तेज हवाएं चल रही हैं और उंची लहरें उठ रही हैं.

चक्रवात वायु से प्रभावित 10 इलाकों से डेढ़ लाख से ज्यादा लोगों को निकाला

गुजरात राज्य की डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी ने शाम 4 बजे तक चक्रवात ‘वायु’ से प्रभावित 10 इलाकों से 1,64,090 लोगों को निकाला गया है.

चक्रवात 'वायु': गुजरात सरकार ने लोगों के लिए जारी की गाइडलाइन्स

समुद्री तट खाली करवा रही है NDRF की टीमें

कल आने वाले चक्रवाती तूफान वायू के मद्देनजर NDRF की टीम एक्शन में है. द्वारका में बीच पर से लगातार लोगों को निकाल रही है.

#CycloneVayu: पीएम मोदी बोले, ''केंद्र सरकार ले रही है पल पल की रिपोर्ट''

पीएम मोदी ने कहा है कि केंद्र सरकार गुजरात और भारत के बाकी हिस्सों में आने वाले चक्रवात ‘वायू’ पर नजर बनाए हुए हैं. मैं राज्य सरकारों के साथ लगातार संपर्क में हूं. NDRF और बाकी के दल हम संभव सहायता के लिए लगातार काम कर रहे हैं.

#CycloneVayu: सोमनाथ मंदिर के आसपास धूल भरी तेज आंधी

गुजरात के गिर में सोमना मंदिर के आसपास धूल भरी आंधी चल रही है. बता दें कि चक्रवात ‘वायू’ गुरुवार को गुजरात के तट से टकराएगा.

गुजरात से 170 KM की रफ्तार से टकराएगा ‘वायु’

मौसम विभाग के मुताबिक ‘वायु’ तूफान लगभग उत्तर की ओर बढ़ते हुए और वेरावल के पश्चिम में पोरबंदर और दीव के बीच गुजरात तट को पार कर सकता है. 13 जून 2019 की सुबह लगभग हवा की गति 145-155 किमी प्रति घंटे रह सकती है, जिसके बढ़कर 170 किमी प्रति घंटे की रफ्तार पार करने की बहुत संभावना है. मतलब ये तूफान 155 से 170 किमी. प्रति घंटा की रफ्तार से गुजरात के तटों से टकराएगा.

लोगों को सुरक्षित जगह पहुंचाने के लिए ओखा से चलेंगी दो ट्रेनें

लोगों को सुरक्षित निकालने के लिए आज राजकोट और अहमदाबाद के लिए दो खास ट्रेनें ओखा स्टेशन से चलाई जाएंगी. शाम 5 बजकर 45 मिनट और रात 8 बजकर 05 मिनट में ओखा स्टेशन से चलेंगी ये ट्रेनें.

अहमदाबाद से पोरबंदर और भावनगर के लिए कल उड़ान रद्द

अहमदाबाद के सरदार वल्लभभाई पटेल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से पोरबंदर, दीव, कांडला, मुंद्रा और भावनगर के लिए उड़ान संचालन कल के लिए रद्द कर दिया गया है.

वायु तूफान पर सीएम विजय रूपानी ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक

भयंकर चक्रवाती तूफान को देखते हुए गुजरात के सीएम विजय रूपानी ने आज राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की. बता दें कि वायु तूफान के कल सुबह पोरबंदर और महुवा के तट को पार करने की संभावना है.

चक्रवाती तूफान में क्या करें और क्या ना करें

चक्रवाती तूफान वायु के प्रकोप से बचने के लिए क्या करें और क्या ना करें

Cyclone Vayu के समय क्या न करें

  • अफवाहों से बचें, घबराएं नहीं- तूफान आने से पहले इसे लेकर कई तरह की अफवाहें उड़ती हैं, ऐसे में जल्दबाजी बिलकुल भी न दिखाएं और हो सके तो इन अफवाहों को क्रॉस चेक जरूर कर लें.
  • अपने मोबाइल फोन को चार्ज कर लें
  • अपने कार, स्कूटर या किसी भी गाड़ी को पेड़ के नीचे न खड़ा करें. साथ ही इन्हें बेसमेंट एरिया में भी पार्क करने से बचें.
  • खुद को सुरक्षित रखने के लिए या तूफान के दौरान किसी पुरानी या टूटी हुई बिल्डिंग में न जाएं.
  • मौसम की जानकारी के लिए वॉट्सऐप या किसी अन्य सोशल साइट पर निर्भर न रहें, बल्कि रेडियो सुनें, टीवी देखें और अखबार पढ़ते रहें.
  • पेड़ के नीचे न खड़े हों.
  • किसी भी तेज धार वाली चीज को बाहर खुला न छोड़ें.
  • किसी भी तार को न छुएं, उससे करंट लग सकता है.
  • तूफान में अपने घर से तब तक बाहर न निकलें, जब तक आपको इसे लेकर कोई आधिकारिक सूचना नहीं मिल जाती.

ये भी पढ़ें : Cyclone Vayu: जानें तूफान से बचने के लिए क्या करें और क्या नहीं 

NDRF की 12 और टीमें गुजरात रवाना

चक्रवात से पहले, INS Rajali और पटना से 12 और टीमों को गुजरात और दीव के लोगों की मदद और सुरक्षा के लिए भेजा गया है.

लोगों को सुरक्षित जगह पहुंचाते हुए NDRF की टीम

गुजरात के जिला मोरबी के इलाके नवलखी और गांधीधाम कांडला पोर्ट से लोगों को सुरक्षित जगह पहुंचाते हुए एनडीआरएफ की टीम.

गुजरात के द्वारका के रूपन बंडर इलाके से लोगों को समय रहते निकालने में जुटी NDRF टीम.

वायु तूफान को लेकर गुजरात के सीएम विजय रुपाणी की प्रेस कॉन्फ्रेंस

रेलवे ने रद्द की कई ट्रेनें

गुजरात में तूफान ‘वायु’ को देखते हुए आज शाम से 6 बजे से कई ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है. वेरावल, ओखा, पोरबंदर, भावनगर, भुज और गांधीधाम स्टेशनों के लिए ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं. पश्चिम रेलवे के मुताबिक इन स्टेशनों के लिए 14 जून तक फिलहाल ट्रेनें रद्द रहेंगी. साथ ही हर स्टेशन से एक स्पेशल ट्रेन का इंतजाम किया गया है जो तूफान वाले इलाकों में फंसे लोगों को बाहर निकालेगी.

मॉनिटरिंग टीम मुसतैद

कमांडेंट वी. डोगरा, आईसीजी रीजनल ऑपरेशन एंड प्लानिंग ऑफिसर, मुंबई के मुताबिक, “सभी यूनिट तैयार हैं. अगर कोई मछुआरा या पोत समुद्र में पाया जाता है, तो हम उन्हें वापस बंदरगाह पर भेज रहे हैं. मैरीटाइम रेस्क्यू कोऑर्डिनेशन सेंटर क्षेत्र के सभी मछुआरों को भी सलाह दी गई है.”

NDRF की टीम ने दीव से 65 लोगों को निकाला

एनडीआरएफ (नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स) की टीम ने पुलिस और सिविल प्रशासन की मदद से दीव से 65 लोगों को निकाला और उन्हें शेल्टर में शिफ्ट किया.

कच्छ: कांदला बंदरगाह अस्थायी रूप से बंद किया गया

कच्छ: कांदला बंदरगाह अस्थायी रूप से चक्रवात वायु को देखते हुए बंद कर दिया गया है. पोर्ट के पास के इलाकों में रहने वाले स्थानीय लोगों को और मछुआरों को NDRF की टीम की मदद से सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया जा रहा है.

यहां देखें अभी कहां पर है वायु तूफान

वलसाड: 39 स्कूलों को बंद के आदेश

वलसाड: गुजरात में वलसाड जिले के 20 गांवों को अलर्ट पर रखा गया है. वलसाड में तटों के पास के गांवों के 39 स्कूल को बंद के आदेश दिए गए हैं. आग और बचाव दल भी अलर्ट पर हैं.

  • 03
    (फोटो: ANI)
  • 02
    (फोटो: ANI)
  • 01
    (फोटो: ANI)

अभी गुजरात से 340 किमी दूर है वायु

मौसम विभाग के मुताबिक ‘वायु’ तूफान पूर्वोतर अरब सागर के ऊपर लगभग दक्षिण में वेरावल (गुजरात) से 340 किमी दूर है. 13 जून 2019 की सुबह इसके वेरावल और दीव क्षेत्र के आसपास पोरबंदर और महुवा के बीच लगभग उत्तर की ओर बढ़ने और गुजरात तट को पार करने की बहुत संभावना है.

इंडियन कोस्ट गार्ड ने आपदा राहत टीमों का गठन किया

इंडियन कोस्ट गार्ड ने आपदा राहत टीमों का गठन किया है और वायु तूफान को देखते हुए दमन, दहानू मुंबई, मुरुदजीरा, रत्नागिरि, गोवा कारवार, मंगलौर, बेयपोर, विजहिंजम और कोच्चि में टीम को तैयार रहने को कहा है.

द्वारका, सोमनाथ में पर्यटकों को सुरक्षित जगहों पर जाने की सलाह

कच्छ: # चक्रवात वायू की वजह से गुजारत में गुरुवार को सुबह भूस्खलन की आशंका है. 12 जून की दोपहर के बाद द्वारका, सोमनाथ, सासन, कच्छ के पर्यटकों को सुरक्षित स्थानों पर जाने की सलाह दी गई है.

Cyclone Vayu | "मुंबई पर वायु तूफान का नहीं पड़ेगा ज्यादा असर"

वायु तूफान पर क्षेत्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र, मुंबई के निदेशक, प्रभारी, बिशमोम्बर सिंह का कहना है कि इसका मुंबई पर ज्यादा असर नहीं पड़ेगा. शहर में हल्की बारिश होगी और हवा की गति में बढ़ोतरी हो सकती है.

महाराष्ट्र में भी मछुआरों को समुद्र में ना जाने की चेतावनी

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) मुंबई के उप महानिदेशक (DDG) के.एस. होसलिकर के मुताबिक भयंकर चक्रवाती तूफान वायु अब मुंबई से 280 किमी दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में है. उत्तर महाराष्ट्र के तट पर हवाएं आज 70-60 किमी प्रति घंटा से 50-60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने की संभावना है.

साथ ही उन्होंने कहा, “12 और 13 जून को महाराष्ट्र के तट पर समुद्र की लहरें ऊंची होने की संभावना है. समुद्री तटों पर खास ध्यान देने की आवश्यकता होगी. मछुआरों की चेतावनी जारी कर दी गई है. तेज हवाओं के कारण पेड़ गिरने की घटनाएं भी हो सकती हैं.”

मौसम विभाग का अपडेट

मौसम विभाग के आधिकारिक ट्वीट के मुताबिक चक्रवाती तूफान 'वायु' पिछले 6 घंटे में पूर्वी मध्य अरब सागर के ऊपर उत्तर की ओर बहुत गंभीर तरीके आगे बढ़ा है. 12 जून को रात के करीब 02:30 बजे पूर्वी मध्य अरब सागर में गोवा से 450 किलोमीटर पश्चिम-उत्तर-पश्चिम में, मुंबई से 290 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में और वेरावल (गुजरात) से लगभग 380 किमी की दूरी पर केंद्रित रहा.

अलर्ट पर सेना

चक्रवाती तूफान में लोगों की मदद के लिए सर्विलांस एयरक्राफ्ट और हेलीकॉप्टर हवाई निगरानी कर रहे हैं. रक्षा विभाग के पीआरओ विंग कमांडर पुनीत चड्ढा ने बताया कि हेडक्वार्टर्स साउथ वेस्टर्न एयर कमांड ने चक्रवाती तूफान वायु से निपटने के लिए तैयारी पूरी कर ली है. मीडियम लिफ्ट हेलिकॉप्टर और लाइट यूटिलिटी हेलिकॉप्टर को तैनात किया गया है. इन हेलिकॉप्टरों को आपदा से निपटने के उपकरणों से लैस किया गया है. रडार और सैटेलाइट कम्युनिकेशन सिस्टम को भी दूरदराज के इलाकों में तैनात किया जा रहा है, ताकि राहत और बचाव कार्य को आसानी से अंजाम दिया जा सके.

राहुल गांधी ने चक्रवात 'वायु' से बचने के लिए कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मदद की अपील की

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने चक्रवात 'वायु' से बचने के लिए कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मदद की अपील की है. उन्होंने कहा, “चक्रवात 'वायु' गुजरात तट के करीब पहुँचने वाला है. मैं गुजरात के सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं से अपील करता हूं कि वे इसके रास्ते में आने वाले सभी क्षेत्रों में मदद के लिए तैयार रहे. मैं चक्रवात से प्रभावित होने वाले क्षेत्रों के सभी लोगों की सुरक्षा और कल्याण के लिए प्रार्थना करता हूं.”

140 से 165 किलो मीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं

मौसम विभाग का अनुमान है कि यह चक्रवाती तूफान 13 जून की सुबह पोरबंदर और महुआ से होता हुआ गुजरात के वेरावल और दीव के बीच समुद्र पट को पार करेगा. इसको देखते हुए सभी बंदरगाहों पर अलर्ट जारी किया गया है. मछुआरों को समुद्र में न जाने का आदेश दिया गया है.

मौसम विभाग के मुताबिक यह गुरुवार सुबह गुजरात के तटीय इलाकों में दस्तक देगा. इस दौरान 140-150 से लेकर 165 किलो मीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं.

NDRF की 26 टीम तैनात

राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) ने 26 टीमों को पहले से तैनात किया गया है. हर टीम में करीब 45 कर्मी हैं. बचाव दल नावों, टेलीकॉम इक्विपमेंट्स जैसी जरूरी चीजों से लैस हैं. गुजरात सरकार के अनुरोध पर एनडीआरएफ अन्य 10 टीमें भी भेज रहा है.

गृह मंत्री अमित शाह ने की समीक्षा बैठक

गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को चक्रवात वायु के मद्देनजर तैयारियों की समीक्षा की. इस दौरान उन्होंने अधिकारियों को लोगों की सुरक्षा के लिए हरसंभव कदम उठाने का निर्देश दिया.

समीक्षा के बाद, गृह मंत्री अमित शाह ने वरिष्ठ अधिकारियों को लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के लिए हर संभव उपाय करने के निर्देश दिए हैं.

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि गृह मंत्री ने बिजली, टेलीकम्यूनिकेशन, स्वास्थ्य, पेयजल जैसी सभी जरूरी सेवाओं को बरकरार रखने और चक्रवात से नुकसान होने की स्थिति में तत्काल उन सेवाओं को बहाल किए जाने पर भी जोर दिया.

गुजरात के समुद्र से सटे शहरों के स्कूल कॉलेज बंद

वायु तूफान को देखते हुए गुजरात के मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी ने अधिकारियों के साथ बैठक की, जिसमें पूरे प्रशासन को अलर्ट पर रहने के लिए कहा गया है. वहीं पूरे राज्य में 13 से 15 जून तक 3 दिवसीय शाला प्रवेशोत्सव (स्कूल उत्सव का स्वागत) रद्द कर दिया गया है.

साथ ही अहमदाबाद, सूरत, गांधीनगर, राजकोट, भुज, भावनगर, सोमनाथ, वेरावल, जामनगर, पोरबंदर और कच्छ जिलों के स्‍कूलों और कॉलेजों में 13 और 14 जून को छुट्टी का ऐलान किया गया है.

गुजरात और महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों पर चक्रवाती तूफान 'वायु' का खतरा मंडरा रहा है. ‘वायु’ तेजी से गुजरात के तटीय इलाकों की ओर बढ़ रहा है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने गुजरात के तटवर्ती इलाकों समेत दमन और द्वीप में तूफान का हाई अलर्ट जारी किया है. साथ ही इसकी वजह से कई इलाकों में भारी बारिश हो सकती है. 2.75 लाख से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया है.

मौसम विभाग के मुताबिक, अरब सागर से उठने वाला चक्रवाती तूफान 'वायु' 145 किलोमीटर से लेकर अधिकतम 180 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार के साथ गुरुवार दोपहर तक गुजरात के कई तटीय इलाकों में दस्तक देगा. इस Live ब्लॉग में आपको चक्रवाती तूफान 'वायु' से जुड़े हर अपडेट मिलेंगे.

ये भी पढ़ें : 110 KM की रफ्तार से गुजरात की ओर बढ़ रहा ‘वायु’, केंद्र ने की बैठक

(सबसे तेज अपडेट्स के लिए जुड़िए क्विंट हिंदी के Telegram चैनल से)

Follow our भारत section for more stories.

    वीडियो