ADVERTISEMENT

मुरादाबाद: सामूहिक नमाज पढ़ने पर FIR दर्ज हुई थी, पुलिस ने की जांच- केस खत्म

Moradabad: दुल्हेुपुर गांव में मस्जिद नहीं है. आसपास रहने वालों की सामूहिक रूप से नमाज पढ़ने पर आपत्ति.

Published
न्यूज
2 min read
मुरादाबाद: सामूहिक नमाज पढ़ने पर FIR दर्ज हुई थी, पुलिस ने की जांच- केस खत्म
i

रोज का डोज

निडर, सच्ची, और असरदार खबरों के लिए

By subscribing you agree to our Privacy Policy

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुरादाबाद (Moradabad Namaz Offering Case) में सार्वजनिक स्थान पर सामूहिक नमाज पढ़ने को लेकर दर्ज हुए मामले को अब पुलिस ने रद्द कर दिया है. बिना अनुमति के नमाज पढ़ने का मामला दर्ज हुआ था लेकिन अब मुरादाबाद पुलिस ने कहा कि आरोप प्रमाणित नहीं हो पाए हैं इस वजह से मुकदमा खत्म कर दिया गया है.

ADVERTISEMENT

24 अगस्त को उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले के दुल्हेपुर गांव में 26 मुसलमानों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी. पुलिस ने "पड़ोसियों की आपत्तियों" का हवाला दिया था और भारतीय दंड संहिता की धारा 505-2 (धार्मिक प्रार्थना करने वाली सभा में शरारतपूर्ण बयान) के तहत नमाजियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था.

इस गांव में कोई मस्जिद नहीं है जहां नमाज अदा की जा सके और आसपास रहने वालों की आपत्ति है कि कोई भी सामूहिक रूप से नमाज नहीं पढ़ सकता.

24 अगस्त को मामला दर्ज होने के बाद जम्मू और कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट किया था कि, "मुझे यकीन है कि अगर किसी पड़ोसी ने 26 दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ हवन किया होता तो वह पूरी तरह से स्वीकार्य होता.

मुरादाबाद एसएसपी हेमंत कुटियाल ने कहा कि मामला में जांच की गई थी लेकिन कोई प्रमाण न मिलने की वजह से इस केस को बंद किया गया है.

पुलिस ने बताया कि, 24 अगस्त को स्थानीय निवासी चंद्र पाल सिंह की शिकायत पर एफआईआर दर्ज की गई थी, जिसमें लिखा था, "सभा में नमाज पढ़कर ये लोग लोगों में नफरत और दुश्मनी फैला रहे हैं. सोलह लोगों के नाम थे, जबकि 10 अन्य अज्ञात थे. सभी स्थानीय बताए जा रहे हैं. लेकिन अब पुलिस ने जांच के बाद यह मामला खत्म कर दिया है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
500
1800
5000

or more

प्रीमियम

3 माह
12 माह
12 माह
मेंबर बनने के फायदे
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×