ADVERTISEMENTREMOVE AD

CBI-ED एक्शन पर तेजस्वी यादव का सरकार पर निशाना- स्क्रिप्ट-डायलॉग राइटर बदल लें

Tejashwi Yadav ने कहा-"तेजस्वी से लड़ने की औकात BJP और RSS में नही है. हांथ खड़े करके सरेंडर कर दिया"

Published
छोटा
मध्यम
बड़ा

ईडी-सीबीआई की कार्रवाई पर आरजेडी नेता और बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला है. पिछले दो दिन से मीडिया में ई़डी के हवाले से लालू यादव के परिवार से करोड़ों रुपए मिलने की खबरें चल रही थीं, इसी पर तेजस्वी ने कहा, "इस क्रोनोलोजी को समझना होगा कि जिस दिन सरकार बनी थी उस दिन भी छापेमारी चल रही थी, क्या मिला? यह बताया जाए. ईडी (ED) को ठेंगा मिला है."

तेजस्वी ने मीडिया को भी निशाने पर लेते हुए कहा कि अभी खबर चलाएंगे बहुत कुछ मिला. शेर जैसा दहाड़ेंगे और दस दिन बाद बिल्ली की तरह म्याऊं करेंगे.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

तेजस्वी यादव ने क्या कहा?

ED की रेड पर पत्रकारों से बात करते हुए बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने कहा कि बीजेपी हार मान चुकी है, इसलिए छापे पे छापे डाल रही है. महागठबंधन की पूर्णिया रैली के बाद से इनकी नींद हराम हो चुकी है.

जिस दिन सरकार बनी उस दिन भी छापे पड़े थे, क्रोनोलॉजी समझिए अमित शाह जी की. जो छापे सरकार बनने के बाद पड़े थे, उनका क्या हुआ? 2017 में 8 हजार करोड़ के बेनामी संपत्ति की बात हुई थी. वो मिले क्या?
तेजस्वी यादव, डिप्टी सीएम, बिहार

उन्होंने आगे सवाल उठाते हुए कहा कि जो हजारों करोड़ की बात कही गई थी, वो सब कहां गया?

तेजस्वी यादव ने कहा कि जो भी इन लोगों के डायरेक्टर हैं, उसको बदल देना चाहिए. एक ही बात बार-बार ठीक नहीं लगती है, कि इतने करोड़ मिले. तेजस्वी के यहां से ठेंगा मिला है.
0

BJP-RSS पर कटाक्ष

तेजस्वी यादव ने बीजेपी की केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि बदनाम करने की राजनीति हद होती है. बीजेपी ने हार स्वीकार कर लिया है. हांथ खड़े करके सरेंडर कर दिया और भाग खड़े हुए...इसलिए छापे पर छापा पड़ रहा है.

उन्होंने आगे कहा कि इनके पास बिहार में कोई राजनीतिक जमीन, चेहरा और वोट नहीं है इसलिए ये संवैधानिक संस्थाओं का दुरुपयोग कर रहे हैं. हम फर्जी एंटायर पॉलिटिकल साइंस वाले नही हैं बल्कि रियल पब्लिक साइंस वाले समाजवादी लोग हैं.

"हमारे पास जनबल है"

तेजस्वी यादव ने कहा, "भाजपाइयों के झूठ, अफवाह और फर्जी राजनीतिक मुकदमों से लड़ने के लिए जिगर चाहिए. हमारे पास राजनीतिक जमीन भी है, जिगर भी है और जमीर भी है. आपके पास छल, बल और धनबल है तो हमारे पास जन बल है."

24 लोकेशन पर इनको इतना भी नहीं मिला, जितना करोड़ों कैश इनके केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के घर से मिला था. कर्नाटक में भाजपाई MLA के घर से 8 करोड़ मिले. क्या IT/CBI/ED वहां भी पहुंची? नहीं ना?
तेजस्वी यादव, डिप्टी सीएम, बिहार
ADVERTISEMENT

तेजस्वी ने कहा कि घर में आपकी मां-बहन, बेटी मंगलसूत्र, कंगन, कानों के आभूषण और हाथ में अंगूठी नहीं पहनती, क्या? मेरी जिन बहनों के घर छापेमारी हुई, उनका हमारी राजनीति से कोई लेना देना नहीं है. उनकी शादी आज से 12-15 साल पहले हुई है, उनके घरों में प्रयोग किए गए आभूषणों की फोटों खींच ये लोग मीडिया को दे रहे हैं. अपनी मां-बहनों और बेटियों के साथ भी ये लोग ऐसा ही करते है क्या? लोकतंत्र में इन लोगों ने कोई लोकलाज नहीं छोड़ी.

ये छापे कौन मार रहा है ये बताने की जरूरत नहीं है. हम लोग बिहार की सेवा और उत्थान करना चाहते हैं और ये लोग हमें डायवर्ट कर रहे हैं.
तेजस्वी यावद, डिप्टी सीएम, बिहार

उन्होंने आगे कहा कि ये ऐसे ही करते रहेंगे, इन लोगों में शर्म और हया नहीं है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENTREMOVE AD
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×