UP कांग्रेस के कुछ नेताओं की मांग-जितिन प्रसाद पर हो कार्रवाई

अपने लेटर में पार्टी कार्यकर्ताओं ने दावा किया है कि जितिन प्रसाद और उनका परिवार हमेशा गांधी परिवार के खिलाफ रहा है

Updated
पॉलिटिक्स
1 min read
UP कांग्रेस के कुछ नेताओं की मांग-जितिन प्रसाद पर हो कार्रवाई

कांग्रेस की लखीमपुर इकाई ने बुधवार को सोनिया गांधी को पत्र भेजकर पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद को बर्खास्त करने की मांग की है. प्रसाद उन नेताओं में से एक थे, जिन्होंने कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक से पहले पार्टी में नेतृत्व बदलने की मांग वाले लेटर पर हस्ताक्षर किए थे. लखीमपुर धौरहरा का एक हिस्सा है जो प्रसाद का निर्वाचन क्षेत्र है. प्रसाद के इस कदम के चलते कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बुधवार की रात पार्टी कार्यालय में प्रदर्शन किया और प्रसाद के खिलाफ नारेबाजी की.

'प्रसाद और परिवार पर निशाना'

अपने लेटर में पार्टी कार्यकर्ताओं ने दावा किया है कि जितिन प्रसाद और उनका परिवार हमेशा गांधी परिवार के खिलाफ रहा है. इतना ही नहीं, उनके दिवंगत पिता जितेंद्र प्रसाद ने भी सोनिया गांधी के खिलाफ पार्टी में चुनाव लड़ा था.बता दें कि जितिन प्रसाद सीडब्ल्यूसी के विशेष आमंत्रित सदस्य हैं.

निशाना बनाना दुर्भाग्यपूर्ण: सिब्बल

पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने ट्विटर के जरिए आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश में जितिन को आधिकारिक तौर पर निशाना बनाया जा रहा है. सिब्बल ने कहा, "यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि जितिन प्रसाद को उप्र में आधिकारिक तौर पर निशाना बनाया जा रहा है. कांग्रेस को अपने ही लोगों पर निशाना बनाने में अपनी ऊर्जा बर्बाद करने की बजाय भाजपा पर सर्जिकल स्ट्राइक के साथ निशाना साधने की जरूरत है."

इस बीच उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने प्रसाद के खिलाफ इस अभियान पर चुप्पी साध रखी है. इसके चलते पार्टी के दिग्गजों ने आरोप लगाया है कि राज्य के बड़े नेताओं ने इस अभियान का समर्थन किया जा रहा है.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!