ADVERTISEMENTREMOVE AD

कांग्रेस में बड़ा फेरबदल, प्रियंका गांधी की जगह अविनाश पांडे होंगे UP के प्रभारी

Congress नेता सचिन पायलट को छत्तीसगढ़ कांग्रेस का प्रभारी बनाया गया है.

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
पार्टी ने 12 महासचिवों के साथ-साथ 11 राज्य प्रभारियों की भी नियुक्ति की है.
  • 01/02
  • 02/02
वरिष्ठ नेता मुकुल वासनिक को गुजरात का प्रभार सौंपा गया है और रणदीप सिंह सुरजेवाला को कर्नाटक का प्रभारी नियुक्त किया गया है.

इसके अलावा कांग्रेस नेता जयराम रमेश को संचार प्रभारी महासचिव नियुक्त किया गया है, और केसी वेणुगोपाल संगठन के प्रभारी महासचिव हैं. प्रियंका गांधी को कोई विशेष विभाग नहीं सौंपा गया है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

2024 लोकसभा चुनाव से पहले पिछले कुछ दिनों से कांग्रेस (Congress) पार्टी में बड़े-बड़े बदलवा किए जा रहे हैं. एक बार फिर पार्टी आलाकमान ने बड़ा फेर-बदल किया है. कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) को यूपी कांग्रेस के AICC प्रभारी पद से मुक्त कर दिया गया है और उनकी जगह पर कांग्रेस नेता अविनाश पांडे को यूपी प्रभारी बनाया गया है. वहीं दूसरी तरफ राजस्थान के कांग्रेस नेता सचिन पायलट को छत्तीसगढ़ कांग्रेस का प्रभारी बनाया गया है. इसके अलावा रमेश चेन्निथला को महाराष्ट्र का AICC प्रभारी नियुक्त किया गया है.

सीनियर कांग्रेस नेता अजय माकन AICC के कोषाध्यक्ष बने रहेंगे.

हाल ही में हुए पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में से चार सूबों में चुनावी हार के कुछ हफ्ते बाद पार्टी में फेरबदल किया जा रहा है. कांग्रेस में हो रहे फेरबदल को मई 2024 से पहले होने वाले लोकसभा चुनावों से पहले पार्टी के पुनरुद्धार की कोशिश के रूप में देखा जा रहा है.

संगठनात्मक पुनर्गठन के साथ-साथ पार्टी आधार को मजबूत करने के लिए कई जमीनी स्तर की पहल की भी योजना बना रही है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

इससे पहले मध्य प्रदेश में भी फेरबदल 

पिछले दिनों मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की हार के बाद MP राज्य कांग्रेस कमेटी में भी बड़ा फेरबदल किया गया. पार्टी आलाकमान ने पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ की जगह जीतू पटवारी (Jitu Patwari) को कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष बनाया. इसके अलावा कांग्रेस ने चरण दास महंत को तत्काल प्रभाव से छत्तीसगढ़ के CLP नेता के रूप में नियुक्त किया है, जबकि दीपक बैज को प्रदेश अध्यक्ष के पद पर बरकरार रखा गया.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×