Exit Poll में बंपर जीत के बाद AAP नेताओं को EVM से लगने लगा डर

मनोज तिवारी ने कहा था कि 11 तारीख को ईवीएम को दोष मत देना

Updated
पॉलिटिक्स
2 min read

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए वोट डाले जा चुके हैं और अब 11 फरवरी यानी नतीजों के दिन का इंतजार है. लेकिन नतीजों से पहले ही ईवीएम पर चर्चा शुरू हो चुकी है. पहले दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने ईवीएम का जिक्र किया और अब दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने ईवीएम की सुरक्षा को लेकर बैठक बुला दी है. केजरीवाल ने पार्टी के बड़े नेताओं के साथ ईवीएम सुरक्षा और स्ट्रॉन्ग रूम में तैनाती को लेकर बैठक बुलाई.

ईवीएम सुरक्षा पर सवाल?

वोट डाले जाने के बाद ईवीएम ही सभी उम्मीदवारों का भाग्य तय करेंगीं. लेकिन इसकी सुरक्षा को लेकर अब दिल्ली की सत्ता में काबिज आम आदमी पार्टी को चिंता सताने लगी है. केजरीवाल की बुलाई बैठक में डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, प्रशांत किशोर, संजय सिंह, गोपाल राय समेत अन्य नेता मौजूद थे. बताया जा रहा है कि इस बैठक में आम आदमी पार्टी नेताओं ने स्ट्रॉन्ग रूम के बाहर तैनाती को लेकर चर्चा की.

बता दें कि वोटिंग के बाद सभी ईवीएम को कड़ी सुरक्षा के बीच स्ट्रॉन्ग रूम में रखा जाता है. लेकिन पिछले कुछ चुनावों में स्ट्रॉन्ग रूम से ईवीएम को शिफ्ट करने या छेड़छाड़ करने के कई आरोप लगते आए हैं.

आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने बैठक के बाद कहा कि

“ईवीएम सील होने के बाद सीधे स्ट्रॉन्ग रूम तक पहुंचनी चाहिए, लेकिन दिल्ली की कुछ जगहों पर ऐसा नहीं हुआ है. अभी तक ईवीएम अधिकारियों के पास है. बदरपुर और विश्वास नगर से ऐसे मामले सामने आए हैं. इसीलिए स्ट्रॉन्ग रूम के बाहर इंतजाम करना काफी जरूरी है. हमने अपने पार्टी कार्यकर्ताओं से स्ट्रॉन्ग रूम की सुरक्षा करने को कहा है. जिससे ईवीएम के साथ कोई भी छेड़छाड़ न हो.”
संजय सिंह, AAP सांसद

मनोज तिवारी का EVM पर ट्वीट

इससे पहले मनोज तिवारी ने ईवीएम का जिक्र किया था. दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष तिवारी ने दावा किया था कि बीजेपी की 48 सीटें आ रही हैं. उन्होंने साफ कहा कि मेरा ट्वीट संभालकर रखिएगा... तिवारी ने ट्वीट में लिखा, "ये सभी एग्जिट पोल होंगे फेल, मेरा ये ट्वीट सम्भाल के रखियेगा.. बीजेपी दिल्ली में 48 सीट लेकर सरकार बनायेगी .. कृपया EVM को दोष देने का अभी से बहाना ना ढूंढे."

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!