ADVERTISEMENT

हार्दिक पटेल की नाराजगी पर जिग्नेश मेवाणी बोले-वो मेरा भाई है,दोस्त है, मनाऊंगा

हार्दिक पटेल ने अपने ट्विटर बायो से कांग्रेस का नाम हटा दिया है.

Published
हार्दिक पटेल की नाराजगी पर जिग्नेश मेवाणी बोले-वो मेरा भाई है,दोस्त है, मनाऊंगा
i

गुजरात में इसी साल विधानसभा चुनाव होने हैं, लेकिन उससे पहले ही गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष और पाटीदार समाज से आने वाले हार्दिक पटेल (Hardik Patel) अपनी पार्टी से नाराज हैं. अब हार्दिक की नाराजगी पर कांग्रेस नेता और वडगाम से विधायक जिग्नेश मेवाणी ने बयान दिया है. जिग्नेश मेवाणी (Jignesh Mevani) ने क्विंट से बातचीत में कहा कि हार्दिक पटेल पार्टी से नाराज हैं, उनकी नाराजगी दिख रही है और पार्टी उसका समाधान निकालेगी.

ADVERTISEMENT

कांग्रेस पार्टी में फूट को लेकर जब जिग्नेश मेवाणी से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इन खबरों से कोई फर्क नहीं पड़ता ये सब चलता रहता है. नाराजगी है, खुशी है, ये सब राजनीतिक का हिस्सा है.

मैं खुलकर कह रहा हूं कि हार्दिक नाराज हैं, मैं कहां कह रहा हार्दिक नाराज नहीं हैं. दिख रही है उसकी नाराजगी, लेकिन उसे हल किया जाएगा. आज नहीं तो कल ये मामला हल होगा. मीडिया को बढ़िया हेडलाइन तो मिल रहा है न.

जब हार्दिक पटेल से जिग्नेश को मनाने को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मैं बिल्कुल मनाऊंगा. वो मेरा भाई है मेरा दोस्त हैं.

बता दें कि अभी दो दिन पहले ही हार्दिक पटेल ने अपने ट्विटर बायो से कांग्रेस का नाम हटा दिया. इसके अलावा दो हफ्ते पहले ही हार्दिक पटेल नें पार्टी में 'साइडलाइन' किए जाने की बात कही थी. हार्दिक पटेल ने 13 अप्रैल को अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि उन्हें पार्टी में दरकिनार कर दिया गया है और पार्टी नेतृत्व उनके कौशल का उपयोग करने को तैयार नहीं है. हार्दिक ने कहा था,

गुजरात कांग्रेस में मेरी हालत उस दूल्हे जैसी है, जिसकी शादी के बाद नसबंदी करा दी गई हो.

हार्दिक की नाराजगी को लेकर कांग्रेस पार्टी भी उन्हें मनाने की कोशिश कर रही है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पार्टी के महासचिव रणदीप सुरजेवाला ने भी इस बात की पुष्टि की है कि पार्टी नेतृत्व ने हार्दिक पटेल से बात की है. हालांकि अब हार्दिक के आम आदमी पार्टी में जाने की चर्चा जोरों पर है, लेकिन फिलहाल हार्दिक पटेल ने पार्टी छोड़ने को लेकर किसी तरह की बात नहीं कही है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×