ADVERTISEMENT

चॉकलेटी चेहरों के सहारे चुनाव जीतना चाहती है कांग्रेस: विजयवर्गीय

प्रियंका का राजनीति में आना बताता है कि कांग्रेस और राहुल गांधी के पास आत्मविश्वास की कमी है.

Published
बीजेपी  नेता कैलाश विजयवर्गीय (फाइल फोटोः PTI)

प्रियंका गांधी वाड्रा की राजनीति में एंट्री के बाद बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कांग्रेस पर कटाक्ष किया है. शनिवार को विजयवर्गीय ने कहा, कि कांग्रेस के पास मजबूत नेताओं की कमी है, इसलिए पार्टी चॉकलेटी चेहरे वालों को लोकसभा चुनावों में उतार रही है.

विजयवर्गीय ने कहा, 'एक कांग्रेस नेता कहता है कि भोपाल से करीना कपूर को चुनाव लड़ा दो. कुछ कहते हैं कि सलमान खान को इंदौर से लड़वा दो. इसी तर्ज पर प्रियंका को सक्रिय राजनीति में लाया गया है.'

कैलाश विजयवर्गीय के मुताबिक, 'अगले लोकसभा चुनाव में उतरने कांग्रेस के पास मजबूत नेता नहीं हैं. इसलिए वो ऐसे चॉकलेटी चेहरे के माध्यम से चुनाव लड़ना चाहती है.' विजयवर्गीय ने अपनी बात में जोड़ा कि अगर राहुल गांधी में आत्मविश्वास की कमी नहीं होती तो प्रियंका गांधी को राजनीति में नहीं लाया जाता.

बिहार: BJP नेता ने की थी प्रियंका पर विवादित टिप्पणी

बिहार सरकार में मंत्री विनोद नारायण झा ने शुक्रवार को प्रियंका गांधी पर विवादित टिप्पणी की थी. उन्होंने कहा था कि प्रियंका के केवल सुंदर होने की क्वालिटी है. लेकिन कांग्रेस प्रेसिडेंट को याद रखना चाहिए कि सुंदरता से वोट नहीं मिलते.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमान ने झा के बयान का खंडन किया था. वहीं कांग्रेस और आरजेडी ने बयान पर झा का इस्तीफा मांगा था. दोनों पार्टियों का कहना था कि झा के बयान से महिलाओं के लिए गलत नजरिया पेश होता है.

विजयवर्गीय ने पत्रकारों से बात करते हुए उन लोगों की भी निंदा की, जो प्रणब मुखर्जी को भारत रत्न दिए जाने का विरोध कर रहे हैं. विजयवर्गीय ने कहा, मैं एक टीवी डिबेट देख रहा था, उसमें कहा गया कि प्रणब मुखर्जी को इसलिए भारत रत्न दिया गया ताकि बंगाल में बीजेपी मजबूत हो सके. ऐसा कहने वाले प्रणब दा का अपमान कर रहे हैं.

पढ़ें ये भी: 2019 लोकसभा में बहुजन समाज का समर्थन दिलाएगा सत्ता की चाबी

बता दें विजयवर्गीय बंगाल बीजेपी के प्रभारी हैं. उन्होंने कहा कि प्रणब दा को भारत रत्न दिया जाना इस बात का सबूत है कि अवार्ड दिया जाने वाला सिस्टम फेयर है. इसे राजनीति के साथ जोड़ना गलत है. ऐसे बयानों की निंदा की जानी चाहिए. प्रधानमंत्री मोदी के काल में ऐसे लोग को प्राइज दिए जा रहे हैं, जिन्हें दिया जाना चाहिए.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT