ADVERTISEMENT

सरकार बनने के बाद पहली बार राउत और देवेंद्र फडणवीस की बैठक: सूत्र

हाल-फिलहाल में देवेंद्र फडणवीस महाराष्ट्र सरकार पर जमकर हमला बोल रहे थे 

Updated
सरकार बनने के बाद पहली बार राउत और देवेंद्र फडणवीस की बैठक: सूत्र
i

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से ही महाराष्ट्र की राजनीति में ये केस छाया हुआ है. इसकी आंच अब ''ड्रग रैकेट' तक पहुंच गई है. इस बीच सुशांत केस और कई दूसरे मुद्दों को लेकर बीजेपी लगातार महाराष्ट्र की महाविकास अघाड़ी सरकार पर निशाना साधती रही है और अब सूत्रों के हवाले से खबर है कि शिवसेना नेता और सामना के कार्यकारी संपादक संजय राउत और पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस की मुलाकात हुई है. ये मुलाकात करीब 2 घंटे चली.

ADVERTISEMENT

हाल-फिलहाल में देवेंद्र फडणवीस महाराष्ट्र सरकार पर जमकर हमला बोल रहे थे, ऐसे में इस बैठक के बाद से कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं. क्विंट हिंदी ने दोनों ही पार्टियों से इस मुलाकात के बारे में पूछा है.

बीजेपी की तरफ से बताया गया है कि बतौर एडिटर संजय राउत सामना के लिए बिहार चुनाव पर फडणवीस का इंटरव्यू करना चाहते हैं और देवेंद्र फडणवीस की इच्छा है कि इंटरव्यू बिना एडिट के ही जाना चाहिए. बीजेपी की तरफ से ये भी कहा गया है कि इस मुलाकात का कोई राजनीतिक मतलब नहीं निकाला जाना चाहिए

शिवसेना और बीजेपी की राहें जुदा होने के बाद पहली बार संजय राउत और देवेंद्र फडणवीस मिले हैं. राज्य में कोरोना के बढ़ते प्रकोप और टेस्टिंग को लेकर भी देवेंद्र फडणवीस कई बार सवाल उठा चुके हैं. कुल 13,00,757 मामलों और 34,761 मौतों के साथ देश में महाराष्ट्र इस बीमारी से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य बना हुआ है.

दूसरी तरफ, सरकार बनने के बाद से ही कई मुद्दों पर महाविकास अघाड़ी की सहयोगी पार्टियों कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना में मतभेद की खबरें भी सामने आ चुकी हैं. पिछले दिनों भीमराव अंबेडकर से जुड़े एक भूमिपूजन कार्यक्रम को केवल इस लिए स्थगित करना पड़ा क्योंकि सररकार में शामिल मंत्रियो को को भी समारोह का निमंत्रण नहीं दिया गया था. एनसीपी-कांग्रेस नेताओं की तरफ से नाराजगी देखने को मिली थी. ऐसे में संजय राउत और फडणवीस के बीच की इस मुलाकात के कई मायने निकाले जाने तय हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी पर लेटेस्ट न्यूज और ब्रेकिंग न्यूज़ पढ़ें, news और politics के लिए ब्राउज़ करें

ADVERTISEMENT
Published: 
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×