आपातकाल की बरसी पर बोलीं ममता- पिछले 5 साल से ‘सुपर इमरजेंसी’ लागू

ममता बनर्जी ने इमरजेंसी की बरसी पर बोला मोदी सरकार पर हमला

Updated25 Jun 2019, 05:19 AM IST
पॉलिटिक्स
2 min read

देश के लोगों ने आज ही के दिन 44 साल पहले आपातकाल की आहट सुनी थी. देश में 25 जून 1975 को इमरजेंसी लागू कर दी गई थी. इमरजेंसी की बरसी पर सभी लोग उस घटना को याद कर रहे हैं. लेकिन ममता बनर्जी ने इमरजेंसी को याद करते हुए एक बार फिर बीजेपी सरकार को निशाने पर ले लिया. ममता ने कहा कि पिछले पांच साल में देश में इमरजेंसी जैसे हालात बने हुए हैं. इन पांच सालों में सुपर इमरजेंसी लागू हो गई है.

क्या बोलीं ममता?

ममता बनर्जी बीजेपी सरकार पर हमला करने का कोई भी मौका चूकती नहीं हैं. इस बार भी उन्होंने कुछ ऐसा ही किया. इमरजेंसी की बरसी पर अपने ट्विटर हैंडल से उन्होंने लिखा,

आज 1975 में लागू की गई इमरजेंसी की सालगिरह है. लेकिन पिछले पांच साल में देश सुपर इमरजेंसी से गुजरा है. हमें अपने इतिहास से सबक जरूर लेना चाहिए और देश की लोकतांत्रिक संस्थाओं की सुरक्षा के लिए लड़ना चाहिए.

बीजेपी-टीएमसी के बीच घमासान

ममता बनर्जी पिछले लंबे समय से बीजेपी के खिलाफ बयानबाजी करती आई हैं. वहीं बीजेपी के बड़े नेता और खुद अमित शाह भी कई बार ममता को ललकार चुके हैं. अमित शाह की रैली में हुए बवाल के बाद हालात और भी बिगड़ गए. लोकसभा चुनाव के बीच बीजेपी और टीएमसी की लड़ाई ने खूब सुर्खियां बटोरीं. जिसका नतीजा ये रहा कि ममता पीएम मोदी के शपथ ग्रहण में भी शामिल नहीं हुईं.

पश्चिम बंगाल में बीजेपी ने लोकसभा चुनाव में शानदार प्रदर्शन किया था. 2 सीटों वाली बीजेपी ने इस बार यहां 18 सीटों पर कब्जा किया. इस जीत के बाद बीजेपी के कई नेता विधानसभा चुनाव में भी क्लीन स्वीप का दावा करने लगे हैं. वहीं कुछ नेता तो ये भी दावा कर रहे हैं कि बंगाल में 2021 से पहले ही चुनाव हो जाएंगे. बीजेपी नेताओं का दावा है कि टीएमसी के कई विधायक धीरे-धीरे पार्टी छोड़ने का मन बना रहे हैं. हाल ही में कुछ विधायकों और पार्षदों ने टीएमसी छोड़कर बीजेपी ज्वॉइन की है.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 25 Jun 2019, 04:14 AM IST

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर को और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!