चीन मामले में ममता ने दिया केंद्र सरकार का साथ, कहा- मिलकर लड़ेंगे

ममता बनर्जी ने सर्वदलीय बैठक बुलाने के फैसले का स्वागत किया

Published17 Jun 2020, 01:56 PM IST
पॉलिटिक्स
2 min read

चीन और भारत के जवानों के बीच हुई झड़प में 20 भारतीय जवानों के शहीद होने के बाद पीएम मोदी ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है. बैठक 19 जून को बुलाई गई है. इस बैठक को लेकर पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी की तरफ से बयान आया है. कई मुद्दों पर केंद्र सरकार को घेरने वाली ममता ने चीन के मामले में पूरी तरह सरकार का साथ देने की बात कही है.

ममता बनर्जी की तरफ से ये बयान तब आया जब पीएमओ की तरफ से बताया गया कि सभी दलों के प्रमुखों के साथ पीएम चीन मुद्दे को लेकर चर्चा करेंगे. ममता ने अपने बयान में कहा,

“इस संकट की घड़ी में हम देश के साथ खड़े हैं. हमें अपने देश पर गर्व है. हम इससे साथ मिलकर लड़ेंगे. केंद्र के सर्वदलीय बैठक बुलाने वाले फैसले का स्वागत करती हूं.”

बुधवार को पीएम मोदी ने कोरोना को लेकर राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात की. इस बैठक में ममता बनर्जी को भी शामिल होना था, लेकिन अचानक बताया गया कि ममता बैठक का हिस्सा नहीं होंगी. सूत्रों ने कहा कि ममता बुधवार के सम्मेलन में बोलने के लिए स्लॉट नहीं दिए जाने से नाखुश थीं.

कांग्रेस नेता जयवीर शेरगिल ने भी केंद्र सरकार के इस फैसले का स्वागत किया. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार का ये फैसला चीन से निपटने की रणनीति की दिशा में उठाया गया एक सकारात्मक कदम है.

कई नेताओं ने की थी मांग

चीन की तरफ से भारतीय जवानों पर किए गए इस हमले के बाद कई दलों के नेताओं ने पीएम मोदी और केंद्र सरकार से अपील की थी कि वो इस मामले को लेकर जल्द से जल्द सर्वदलीय बैठक बुलाएं. इसके अलावा विपक्षी दलों ने पीएम और सरकार से ये भी कहा कि वो चीन को लेकर अपने रुख को साफ करे और देश को बताए कि आखिर चीन सीमा पर क्या चल रहा है.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!