ADVERTISEMENTREMOVE AD

किसानों पर लोकसभा में हंगामा, PM मोदी ने विपक्ष पर बोला हमला

लोकसभा में बुधवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव के दौरान जमकर हंगामा हुआ

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

लोकसभा में बुधवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव के दौरान जमकर हंगामा हुआ. इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्ष पर हमलावर नजर आए और उन्होंने कृषि कानून पर किसानों के विरोध से लेकर विपक्ष के आरोपों पर जवाब दिया.

लोकसभा में पीएम के संबोधन के दौरान कांग्रेस सांसदों ने जमकर हंगामा किया. प्रधानमंत्री की बार-बार अपील पर कांग्रेस सांसद नहीं माने. इसके बाद राहुल गांधी और अधीर रंजन समेत सभी कांग्रेस सांसदों ने सदन से वॉकआउट कर दिया.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

विपक्ष पर बरसे पीएम मोदी

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर कृषि कानून की आड़ में किसानों को गुमराह करने का आरोप लगाया. कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए पीएम ने कहा कि ‘’ना खेलेंगे, ना खेलने देंगे, सिर्फ खेल बिगाड़ेंगे.’’ प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस को विभाजित और भ्रमित पार्टी कहते हुए कहा कि कांग्रेस न तो अपना भला कर सकती है और ना ही देश की समस्याओं के समाधान के बारे में सोच सकती है.

कांग्रेस सांसदों का हंगामा

लोकसभा में पीएम मोदी के संबोधन के दौरान नेता प्रतिपक्ष अधीर रंजन चौधरी हस्तक्षेप करने लगे. तब प्रधानमंत्री ने कहा कि सदन के अंदर हो रहा यह हंगामा एक सोची-समझी रणनीति के तहत हो रहा है, जो हंगामा बाहर हो रहा है वही अंदर किया जा रहा है. हालांकि कांग्रेस को इससे कुछ मिलने वाला नहीं है और ना ही इससे आपको जनता का विश्वास हासिल होगा.

सदन में लगातार हो रहे हंगामे के बीच प्रधानमंत्री मोदी ने नेता प्रतिपक्ष अधीर रंजन चौधरी से कहा कि अब ये ज्यादा हो रहा है. बंगाल में टीएमसी से ज्यादा लोकप्रिता आपको मिल जाएगी. यह सब अच्छा नहीं लगता है, हद से ज्यादा क्यों कर रहे हैं.

हंगामे के बीच कृषि कानून पर पीएम ने कहा

नए कृषि कानून पर बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि ये कानून किसी के लिए बंधनकारी नहीं हैं. किसानों के पास विकल्प है और यह कानून किसानों पर थोपा नहीं गया है. पीएम ने कहा कि सदन और सरकार किसानों की भावनाओं का आदर करती है और उनकी हर समस्या सुनने को तैयार है। किसानों के साथ सरकार की बातचीत जारी रहेगी और उनकी सभी शंकाओं का समाधान किया जाएगा.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

0
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×