हाउस अरेस्ट से छूटे नायडू, बोले- चेतावनी देता हूं, रोक नहीं सकते
Chandrababu Naidu House Arrest Live Updates in Hindi: नायडू ने जगनमोहन सरकार के खिलाफ चलो आत्माकुर रैली बुलाई थी 
Chandrababu Naidu House Arrest Live Updates in Hindi: नायडू ने जगनमोहन सरकार के खिलाफ चलो आत्माकुर रैली बुलाई थी (फोटो:Reuters)
Live

हाउस अरेस्ट से छूटे नायडू, बोले- चेतावनी देता हूं, रोक नहीं सकते

आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और टीडीपी प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू को उनके बेटे नारा लोकेश के साथ घर में ही नजरबंद कर दिया गया. पुलिस ने उनके घर के मेन गेट पर ताला लगा दिया. नायडू ने पार्टी कार्यकर्ताओं पर हो रहे लगातार हमलों के विरोध में एक विशाल मार्च बुलाया था, जिसके बाद पुलिस ने इलाके में धारा-144 लगा दी थी. मार्च से पहले ही नायडू और उनके बेटे को हाउस अरेस्ट कर लिया गया.

लेकिन घर में ही हिरासत में लिए जाने के बाद अब नायडू बाहर निकल चुके हैं. नायडू अपनी चलो आत्माकुर रैली में शामिल होने के लिए निकले हैं. उन्होंने बाहर निकलते ही बताया कि जगनमोहन रेड्डी सरकार ने उनके सभी नेताओं को हिरासत में ले लिया है.

NEWEST FIRSTOLDEST FIRST
(3) NEW UPDATES

पुलिस ने नायडू के घर को किया लॉक

आंध्र प्रदेश के पूर्व सीएम और टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू के घर को अब पुलिस ने पूरी तरह से लॉक कर दिया है. पुलिस ने उनके घर के मेन गेट को रस्सियों से बांध दिया है. बता दें कि हाउस अरेस्ट होने के बाद भी नायडू अपनी पार्टी की रैली में शामिल होने के लिए निकल चुके हैं.

नायडू ने सरकार और पुलिस को दी चेतावनी

नायडू ने रैली के लिए निकलते हुए कहा, यह सरकार मानवाधिकारों का उल्लंघन कर रही है. हम सरकार के खिलाफ लड़ रहे हैं. अल्पसंख्यकों पर लगातार अत्याचार हो रहे हैं. इसीलिए हम चलो आत्माकुर रैली कर रहे हैं. इस सरकार ने सभी नेताओं को हाउस अरेस्ट कर लिया है. मैं सरकार और पुलिस को चेतावनी देता हूं कि आप हमें हाउस अरेस्ट करके रोक नहीं सकते हैं.

पुलिस की हिरासत के बाद भी रैली के लिए निकले नायडू

आंध्र प्रदेश के पूर्व सीएम चंद्रबाबू नायडू अपने घर से बाहर निकल चुके हैं और अब अपनी पार्टी की रैली चलो आत्माकुर में शामिल होने जा रहे हैं. नायडू को पुलिस ने उनके घर में ही बंद कर लिया था. उनके गेट पर ताला लगा दिया गया था, लेकिन इसके बावजूद वो बाहर आए और अपनी कार में बैठकर निकल गए. जिसके बाद अब पुलिस उन्हें अपनी हिरासत में ले सकती है.

नायडू के बेटे बोले- ये तानाशाही है

टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू के बेटे नारा लोकेश ने उन्हें हिरासत में लिए जाने पर कहा, "यह तानाशाही है. हमें अलोकतांत्रिक तरीके से रोका जा रहा है. टीडीपी के नेता और कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित किया जा रहा है. वाईएसआरसीपी के विधायक खुलेआम हमें धमका रहे हैं, बोल रहे हैं कि पुलिस उनके साथ है."

लगाई गई थी धारा 144

टीडीपी प्रमुख नायडू के बुलाए गए मार्च के चलते आंध्र प्रदेश पुलिस ने पहले ही पूरे इलाके में धारा 144 लागू कर दी थी. पुलिस का कहना था कि इस इलाके में किसी भी तरह का धरना प्रदर्शन और रैली की इजाजत नहीं है. पुलिस प्रमुख ने कहा था कि किसी को भी कानून-व्यवस्था बिगाड़ने का अधिकार नहीं है. उन्होंने कहा कि राजनीतिक पार्टियों को चाहिए की वह शांति बनाए रखने में पुलिस की मदद करें.

हालांकि पुलिस की चेतावनी के बाद और धारा 144 लगाए जाने के बाद भी एन चंद्रबाबू नायडू ने कहा था कि प्रदर्शन होगा और उनके कार्यकर्ताओं के खिलाफ वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के नेताओं की ज्यादतियों को उजागर किया जाएगा.

टीडीपी नेता को लिया हिरासत में

आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा में पूर्व मंत्री और टीडीपी नेता भुमा अखिल प्रिय को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. उन्हें एक होटल में नजरबंद कर लिया गया है.

नायडू के बेटे के साथ पुलिस की बहस

बुधवार सुबह टीडीपी प्रमुख नायडू के बेटे नारा लोकेश की पुलिस अधिकारियों के साथ बहस हुई थी. जिसके बाद पुलिस ने उन्हें और उनके पिता को घर में ही नजरबंद कर लिया गया.

चलो आत्माकुर रैली का किया था आह्वाहन

नायडू ने आरोप लगाया था कि टीडीपी कार्यकर्ताओं पर लगातार हमले हो रहे हैं. जिसके विरोध में उन्होंने लोगों और कार्यकर्ताओं को सड़कों पर उतरने को कहा था. इस रैली का नाम उन्होंने ‘चलो आत्माकुर’ दिया था.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our पॉलिटिक्स section for more stories.

    Loading...