ADVERTISEMENTREMOVE AD

UP चुनाव: RLD प्रमुख जयंत चौधरी के नाम का फर्जी ट्वीट वायरल, किया गया ये दावा

इस ट्वीट के वायरल होने के बाद ही आरजेडी समर्थकों में हड़कम्प मच गया.

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) का विधानसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है, राजनीतिक गलियारों में उथल-पुथल मचती दिख रही है. राजनीतिक दलों के प्रत्याशी और उनके समर्थक एक दूसरे को परास्त करने के लिए सभी हथकंडे अपना रहे हैं. बागपत में आरएलडी (RLD) प्रमुख जयन्त चौधरी का एक ट्वीट सुर्खियों में है. वायरल हुए इस ट्वीट में बागपत विधानसभा सीट से प्रत्याशी अहमद हमीद के टिकट देने को जीवन की सबसे बड़ी गलती बताई गई और कहा गया की मेरा समाज अब बागपत में आजाद होकर वोट दे.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

वायरल ट्वीट में दावा किया गया...ट्वीटर हैंडल @jayantrld से लिखा गया है कि

बागपत में मेरे और आरएलडी पार्टी के द्वारा अहमद हमीद को दिया गया टिकट मेरे जीवन की सबसे बड़ी गलती है. मुझे नही पता था कि अहमद हमीद का परिवार बाबा शाहमल तोमर जाट को मारा और मुजफ्फरनगर दंगो में जाटो को मारने के लिए हथियार भेजे थे. मैं इस टिकट को रद्द कर रहा हूं, पर्चा वापस होगा नही पर मेरा समाज अब बागपत में आजाद होकर वोट दे.

इस ट्वीट के वायरल होने के बाद ही आरजेडी समर्थकों में हड़कम्प मच गया. इसके बाद जब मामला जयंत चौधरी के ऑफिस तक पहुंचा तो पता चला कि यह ट्वीट पूरी तरह से फर्जी है. किसी व्यक्ति ने उनके ट्विटर अकाउंट की पोस्ट को एडिट करके सोशल मीडिया पर वायरल किया था.

0

जयंत चौधरी ने खुद बताई सच्चाई

हालांकि इस पोस्ट के वायरल होने के बाद सच्चाई सामने आ चुकी है. मामला इतना बढ़ा की खुद जयन्त चौधरी ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा कि बागपत चुनाव पर झूठा पोस्ट बनाकर वाययल किया जा रहा है, बागपत पुलिस को तहरीर दी गई है. विकास पर जवाब जब दे नहीं पा रहे तो फोटोशॉप द्वारा फर्जी पोस्ट बनाने वाले कौन हैं जनता पहचान ले.

बता दें कि चुनावी मौसम में कई तरह के फर्जी ट्वीट्स, स्क्रीन शॉट्स और ऑडियो जमकर वायरल हो रहे हैं. जयन्त चौधरी के इस ट्वीट को भी विपक्षी पार्टियों और उनके समर्थकों ने सोशल मीडिया पर खूब शेयर किया.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें