Live

बंगाल:ममता के खिलाफ BJP का प्रदर्शन,गवर्नर ने बुलाई 4 दलों की बैठक

बीजेपी अपने कार्यकर्ताओं की हत्या के खिलाफ कोलकाता में विरोध मार्च निकाल रही है.

Updated12 Jun 2019, 02:35 PM IST
पॉलिटिक्स
2 min read

पश्चिम बंगाल में बुधवार को बीजेपी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने कोलकाता पुलिस मुख्यालय तक पार्टी के मार्च में हिस्सा लिया, लेकिन पुलिस ने उन्हें बीच में ही रोक दिया. पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े और पानी की बौछारें की.

सुरक्षा के कड़े इंतजाम के बीच, पार्टी के कार्यकर्ताओं ने बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, प्रदेश पार्टी अध्यक्ष दिलीप घोष, सांसद एस.एस. अहलूवालिया और मुकुल रॉय की अगुवाई में लालबाजार तक 'निंदा मार्च' शुरू किया. ये प्रदर्शन बीजेपी के कार्यकर्ताओं की कथित हत्या के खिलाफ और राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति के खराब होने की वजह से आयोजित किया गया.

बता दें, बंगाल में लोकसभा चुनाव के बाद भी हिंसा जारी है. बीजेपी और टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच झड़प की खबरें कई बार सामने आई हैं. बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दावा किया कि चुनाव बाद हिंसा में 10 मारे गए लोगों में से आठ उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस से हैं, जबकि दो बीजेपी से हैं. उन्होंने राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी पर मृतकों की संख्या गलत बताने का आरोप लगाया.

वहीं, बीजेपी नेता मुकुल रॉय ने सोमवार को दावा किया था कि चुनाव बाद हिंसा में बीजेपी के सात कार्यकर्ता मारे गए हैं, जबकि तीन अन्य लापता हैं और उनके मारे जाने का अंदेशा है.

इस मामले से जुड़े सभी अपडेट जानने के लिए इस लाइव ब्लॉग से जुड़े रहिए.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

2:35 PM, 12 Jun

पुलिस के लाठीचार्ज में घायल कार्यकर्ताओं से मुलाकात करने अस्पताल पहुंचे कैलाश विजयवर्गीय

11:07 AM, 12 Jun

बीजेपी महासचिव ने कहा, "जब तक ममता जी का अहंकार नहीं टूटेगा, तब तक आंदोलन जारी रहेगा"

बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, “आज बहुत दिनों बाद पश्चिम बंगाल सरकार की अप्रजातांत्रिक सरकार के खिलाफ प्रजातांत्रिक तरीके से आंदोलन कर रहे थे. फिर ममता जी ने अपना अप्रजातांत्रिक हिटलरशाही वाला रूप दिखाया. लगभग पचास हजार से ज्यादा कार्यकर्ता थे, अचानक आंसू गैंस के गोले दागे गए. हम पर लाठी चार्ज किया. काफी कार्यकर्ता घायल हुए हैं. लेकिन हम इस हिटलरशाही के खिलाफ प्रदर्शन करते रहेंगे. जब तक ममता जी का अहंकार नहीं टूटेगा, तब तक प्रजातांत्रिक तरीके से हमारा आंदोलन चलता रहेगा.”

11:02 AM, 12 Jun

आंदोलनकारी न तो हिंसक थे न कानून हाथ में लिया, फिर भी बरसाई लाठियां: BJP

11:02 AM, 12 Jun

बंगाल: बीजेपी का लाल बाजार मार्च

10:46 AM, 12 Jun

बंगाल में ममता के खिलाफ बीजेपी का विरोध प्रदर्शन, राज्यपाल ने बुलाई बैठक

लोकसभा चुनाव के बाद पश्चिम बंगाल में हिंसा को लेकर राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी ने गुरुवार को राजभवन में शाम चार बजे चार दलों की बैठक बुलाई है. इस बैठक में शामिल होने के लिए बीजेपी, टीएमसी, सीपीआई और कांग्रेस को न्योता भेजा गया है. ममता बनर्जी ने कहा है कि वो अपने प्रतिनिधि को इस बैठक में भेजेंगे.

9:35 AM, 12 Jun

कोलकाता में BJP के विरोध प्रदर्शन की तस्वीरें

  • 01/02
    पुलिस ने बीजेपी कार्यकर्ताओं पर की पानी की बौछार(फोटो: ANI)
  • 02/02
    ममता सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते बीजेपी कार्यकर्ता(फोटो: @BJP4Bengal)
9:33 AM, 12 Jun

BJP Protest Live: कोलकाता में बीजेपी का प्रदर्शन जारी

बंगाल बीजेपी ने ट्वीट करके कहा, "हमारे कार्यकर्ताओं के हत्यारों की गिरफ्तारी, उनको अधिकतम सजा की मांग के साथ ममता बनर्जी के नेतृत्व वाले राज्य में खून की राजनीति को रोकने के लिए पार्टी विरोध प्रदर्शन कर रही है."

8:35 AM, 12 Jun

बंगाल: बीजेपी के लापता कार्यकर्ता का मिला शव

आज (बुधवार) को मालदा में बीजेपी के एक लापता कार्यकर्ता का शव मिला है. पश्चिम बंगाल बीजेपी ने अनिल सिंह नाम के इस कार्यकर्ता की हत्या का आरोप ममता बनर्जी सरकार पर लगाया है.

बंगाल बीजेपी ने अपने कार्यकर्ता के शव की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, “बंगाल के मालदा में बीजेपी के कार्यकर्ता अनिल सिंह का शव मिला है. ममता बनर्जी के गुंडों ने अनिल की हत्या कर दी. अनिल पिछले कुछ दिनों से लापता थे."

ट्ववीट में आगे लिखा, "अब छाती ठोककर 'अवॉर्ड वापसी' वाले उदारवादी लोग खामोश क्यों हैं? चुप इसलिए हैं क्योंकि बंगाल में बीजेपी की सरकार नहीं है?"

8:33 AM, 12 Jun

कोलकाता में विरोध कर रहे बीजेपी कार्यकर्ताओं पर आंसू गैस के गोले दागे

कोलकाता पुलिस ने बिपिन बिहारी गांगुली स्ट्रीट पर बीजेपी कार्यकर्ताओं पर लाठी चार्ज किया. कार्यकर्ता ममता सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए लाल बाजार की तरफ मार्च कर रहे थे.

Published: 12 Jun 2019, 08:27 AM IST

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!