ADVERTISEMENTREMOVE AD

छत्तीसगढ़: बेमेतरा में युवक की हत्या के विरोध में VHP का बंद, रायपुर में तोड़फोड़

Chhattisgarh Bandh: 8 अप्रैल को बेमेतरा के बिरनपुर गांव में दो बच्चों में कहासुनी हुई थी, जिसके बाद हिंसा हुई.

Published
राज्य
2 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बेमेतरा में हिंसा और एक युवक की हत्या का मामला गरमा गया है. विश्व हिंदू परिषद (VHP) ने छत्तीसगढ़ बंद (Chhattisgarh Bandh) का ऐलान किया है. रायपुर में बीएचपी के कार्यकर्ता सड़कों पर उतरे. इस दौरान बीएचपी कार्यकर्ताओं ने नए बस स्टैंड पर कुछ बसों को निशाना बनाया और उनमें तोड़फोड़ की. शहर भर में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

बेमेतरा में क्या हुआ?

दरअसल, 8 अप्रैल को बेमेतरा के बिरनपुर गांव में दो बच्चों में कहासुनी हुई थी. इस दौरान एक बच्चे ने दूसरे बच्चे पर हमला कर दिया था. जिसके बाद विवाद बढ़ गया. दोनों बच्चों के परिवार वाले आमने-सामने हो गए. इसके बाद देखते ही देखते पूरा मामला दो समुदायों के बीच खूनी संघर्ष में बदल गया. एक समुदाय के लोगों ने दूसरे समुदाय के युवक पर धारदार हथियार से हमला कर दिया. इस घटना में 22 साल के युवक भुनेश्वर साहू की मौके पर ही मौत हो गई.

Chhattisgarh Bandh: 8 अप्रैल को बेमेतरा के बिरनपुर गांव में दो बच्चों में कहासुनी हुई थी, जिसके बाद हिंसा हुई.

विवाद के बाद बिरनपुर गांव में आगजनी

(फोटो: क्विंट)

विवाद की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन उग्र भीड़ ने ईंट- पत्थरों से पुलिस पर ही हमला कर दिया. इस घटना में साझा थाने के उपनिरीक्षक बीआर ठाकुर गंभीर रूप से घायल हुए हैं. वहीं तीन-चार पुलिसवालों को भी चोट लगी है.

बाद में किसी तरह से ग्रामीणों की मदद से घायल पुलिसवालों को बाहर निकाला गया और उन्हें सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती करवाया गया. उप निरीक्षक की हालत गंभीर बनी हुई है.

युवक का हुआ अंतिम संस्कार, 9 गिरफ्तार

घटना के बाद पुलिस-प्रशासन की मौजूदगी में युवक का अंतिस संस्कार किया गया. दुर्ग लोकसभा सांसद विजय बघेल, पूर्व विधायक लाभचंद बाफना, अवधेश चंदेल, सियाराम साहू, अशोक साहू सहित अन्य लोगों ने पीड़ित परिवार से मुलाकात की. वहीं साहू समाज के कुछ और लोग युवक के अंतिम संस्कार में शामिल होना चाहते थे, जिन्हें पुलिस ने गांव पहुंचने से पहले ही रोक दिया.

इस मामले में पुलिस ने 11 में से 9 लोगों को गिरफ्तार किया है. कलेक्टर पीएस एल्मा ने बताया कि, धारा 144 लगाई गई है. इसके साथ ही हम कानून-व्यवस्था की भी समीक्षा कर रहे हैं.
Chhattisgarh Bandh: 8 अप्रैल को बेमेतरा के बिरनपुर गांव में दो बच्चों में कहासुनी हुई थी, जिसके बाद हिंसा हुई.

बिरनपुर गांव में भारी बल पुलिस तैनात

(फोटो: क्विंट)

छावनी में तब्दील हुआ बेमेतरा

किसी अनहोनी को ध्यान में रखते हुए पूरे जिले को छावनी में तब्दील कर दिया गया है. सबसे ज्यादा फोर्स बिरनपुर गांव में लगाई गई है. बीरनपुर गांव की ओर जाने वाले सभी रास्तों पर बैरिकेड्स लगाए गए हैं. फिलहाल गांव में तनाव की स्थिति बनी हुई है. इसको देखते हुए बेमेतरा कलेक्टर पीएस एल्मा और पुलिस अधीक्षक कैंप कर रहे हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×