ADVERTISEMENT

राजस्थान में सरकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए वैक्सीन की दोनों डोज जरूरी

राजस्थान में 93% लोगों को पहली डोज लग चुकी है, जबकि 53 फीसदी लोगों को दूसरी डोज लगी है.

Updated
राज्य
2 min read
<div class="paragraphs"><p>राजस्थान में सरकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए वैक्सीन की दोनों डोज जरूरी</p></div>
i

राजस्थान (Rajasthan) के स्वास्थ्य मंत्री (Health Minister) का पदभार संभालते ही बुधवार को परसादी लाल मीणा (parsadi lal meena) ने कोरोना नियंत्रण के लिए प्रदेश भर में मॉल, सिनेमा हॉल और सरकारी कार्यालयों में आने वाले लोगों के लिए कोरोना टीकाकरण की दोनों डोज लेने पर सख्ती दिखाने के निर्देश दे दिए. इसके साथ ही मीणा ने कहा कि सरकारी योजनाओं का लाभ लेने वाले लोगों के लिए भी कोविड वैक्सीन की दूसरी डोज लेना अनिवार्य होगा.

ADVERTISEMENT

मीणा ने कहा कि अब से दो डोज लगवाने वाले लोगों को ही सरकारी योजनाओं का लाभ मिल सकेगा. इसके लिए वे संबंधित विभागों को भी लिखेंगे ताकि ज्यादा से ज्यादा दूसरी डोज लेने के लिए लोग आ सकें और राजस्थान जल्द फुल वैक्सीनेट हो सके.

उन्होंने कहा कि राजस्थान में वैक्सीनेशन के तहत 80 फीसदी से ज्यादा लोगों को पहली डोज लग चुकी है लेकिन दूसरी डोज लेने वालों की तादाद अभी काफी कम है.

स्वास्थ्य मंत्री का कहना था कि पहली डोज लेकर दूसरी डोज लेने वालों का गैप काफी बढ़ गया है. जिन लोगों के पहली डोज लग गई और दूसरी डोज का टाइम निकल गया, उन लोगों के घरों पर टीम भेजकर वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाएंगे. इसके लिए सभी सीएमएचओ और स्वास्थ्य अधिकारियों को टाइम बाउंड प्रोग्राम तैयार करके देंगे, ताकि लोगों का समय पर वैक्सीनेशन पूरा हो सके.

ADVERTISEMENT

राजस्थान में वैक्सीनेशन की स्थिति

राजस्थान में अब तक कुल 6,6070775 डोज वैक्सीन की लग चुकी हैं. इसमें 43145303 लोगों को पहली खुराक लगी है. वहीं दूसरी डोज लगवाने वालों की संख्या 22905472 ही है. राजस्थान में पहली डोल और दूसरी डोज लगवाने वालों में अंतर करीब दो करोड़ लोगों का है.

इसको लेकर केन्द्र सरकार भी राजस्थान को बार—बार चेता चुकी है. राज्य सरकार के आंकड़ों के मुताबिक राजस्थान में वैक्सीन लेने योग्य जनसंख्या में से 93 प्रतिशत को पहली डोज लग चुकी है. वहीं दूसरी डोज अब तक 53 प्रतिशत लोगों को ही लग सकी है.

कुछ दिन पहले ही हुआ मंत्रिमंडल विस्तार

हाल ही में राजस्थान में मंत्रिमंडल विस्तार हुआ है. परसादी लाल मीणा को भी इसी फेरबदल में स्वास्थ्य मंत्रालय मिला है. इससे पहले स्वास्थ्य विभाग राजस्थान में रघु शर्मा के पास था.

इनपुट- पंकज सोनी

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT