ADVERTISEMENT

कर्नाटक: बाढ़ से 9 की मौत, कई लापता, प्रभावित इलाकों का दौरा करेंगे CM

Karnataka Floods: मौसम विभाग ने कर्नाटक के तटीय इलाकों में सात जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया है.

Published
राज्य
2 min read
<div class="paragraphs"><p>इमरजेंसी रिस्पांस टीम बाढ़ में फसे लोगों की मदद करते हुए</p></div>
i

कर्नाटक (Karnataka) में भारी बारिश के कारण बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में 9 लोगों की मौत हो गई और तीन अन्य लापता हैं. मूसलाधार बारिश के चलते शनिवार 24, जुलाई को पूरे कर्नाटक में बाढ़ जैसे हालात बने हुए हैं. लगातार हो रही बारिश से उत्तरी कर्नाटक के 12 जिले, तटीय कर्नाटक और मलनाड क्षेत्र प्रभावित हुए हैं. मौसम विभाग ने कर्नाटक के तटीय इलाकों में सात जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया है, जिसमें तीन और दिनों तक बारिश की आशंका जताई गई है.

राज्य सरकार से मिली जानकारी के मुताबिक, उत्तर कन्नड़ में चार लोगों की मौत हुई है, जिनमें से दो लोग बेलगावी से हैं, और एक-एक कोडागु, धारवाड़ और चिक्कमगलुरु जिलों से हैं.

यह अनुमान है कि लगभग 830 घरों को नुकसान पहुंचा है, 15 स्कूल भवन क्षतिग्रस्त हो गए हैं और महिलाओं और बच्चों सहित 8,733 लोगों को राज्य भर में सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है.

<div class="paragraphs"><p>इमरजेंसी रिस्पांस टीम बाढ़ में फसे लोगों की मदद करते हुए</p></div>

इमरजेंसी रिस्पांस टीम बाढ़ में फसे लोगों की मदद करते हुए

(फोटो: ट्विटर/@indiannavy)

राज्य सरकार ने 80 राहत केंद्र खोले हैं. पश्चिमी घाट क्षेत्र में भारी बारिश जारी रहने पर उत्तरी कर्नाटक के जिलों और तटीय कर्नाटक क्षेत्र में जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) और राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (SDRF) को बचाव कार्यों के लिए 12 जिलों में तैनात किया गया है.

राज्य भर के बांधों की ओर पानी का प्रवाह लगातार बढ़ रहा है, बांधों से पानी छोड़ा जा रहा है और इससे नदियां खतरे के स्तर को पार कर रही हैं, जिससे लोगों की सुरक्षा खतरे में पड़ रही है.
ADVERTISEMENT
<div class="paragraphs"><p>इमरजेंसी रिस्पांस टीम बाढ़ में फसे लोगों की मदद करते हुए</p></div>

इमरजेंसी रिस्पांस टीम बाढ़ में फसे लोगों की मदद करते हुए

(फोटो: ट्विटर/@indiannavy)

ADVERTISEMENT

बाढ़ ने कोडागु जिले में राज्य के राजमार्गों को क्षतिग्रस्त कर दिया है. हासन, चिकमगलूर और शिवमोग्गा जिलों के कई गांवों में पानी भर गया है.

इस बीच, भारतीय मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि उडुपी, मैंगलोर, कारवार, चिकमगलूर, शिवमोग्गा और हासन जिलों में और पांच दिनों तक भारी बारिश जारी रहेगी. पूरे राज्य में पहले ही रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है.

बाढ़ प्रभावित बेलागवी का दौरा करेंगे CM येदियुरप्पा

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा आज बाढ़ प्रभावित बेलगावी जिले का दौरा करेंगे. येदियुरप्पा सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्रों, राहत केंद्रों का दौरा करेंगे और अधिकारियों द्वारा किए गए राहत उपायों की निगरानी करेंगे.

येदियुरप्पा ने जानकारी दी थी कि 25 जुलाई को आलाकमान उनके भविष्य पर फैसला करेगा कि क्या उन्हें मुख्यमंत्री के रूप में बने रहना है या 26 जुलाई को कार्यालय में दो साल पूरे होने के जश्न के बाद सेवानिवृत्त होना है.
ADVERTISEMENT

बाद में, वह उपमुख्यमंत्री गोविंद करजोल, जो बेलगावी के जिला प्रभारी मंत्री हैं, सांसद मंगला अंगड़ी, विधायक और अन्य जिला अधिकारियों के साथ बाढ़ की स्थिति से निपटने के लिए की गई कार्रवाई पर चर्चा करने जा रहे हैं.

(IANS के इनपुट्स के साथ)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT