ADVERTISEMENT

MP: कई शहरों में बढ़ा टोटल लॉकडाउन, इंदौर, भोपाल की हालत गंभीर

12 शहरों में कम से कम 10 दिन का टोटल लॉकडाउन

Published
राज्य
2 min read
MP: कई शहरों में बढ़ा टोटल लॉकडाउन, इंदौर, भोपाल की हालत गंभीर

मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस संकट गहराताजा रहा है और अब इस संकट की मार आम लोगों, कारोबारियों, रोज कमाकर खाने वालों पर पड़ने वाली है. एक दिन में करीब 5 हजार कोरोना वायरस केस मिलने के बाद प्रदेश के बड़े शहरों इंदौर, जबलपुर, उज्जैन सहित 12 शहरों में टोटल लॉकडउन एक हफ्ते से ज्यादा वक्त के लिए बढ़ा दिया गया है. बता दें कि इसके पहले पूरे राज्य में शुक्रवार शाम से सोमवार सुबह तक के लिए लॉकडाउन लगाया गया था. इन शहरों में अब ये टोटल लॉकडाउन जारी रहेगा.

ADVERTISEMENT

12 शहरों में कम से कम 10 दिन का टोटल लॉकडाउन

कोरोना संक्रमण गंभीर होता देख जिन 12 जिलों में कोरोना की सबसे ज्यादा मार पड़ी हैं, वहां लॉकडाउन बढ़ाया गया है. इंदौर शहर में अब 19 अप्रैल सुबह 6 बजे तक का टोटल लॉकडाउन रहेगा. इस तरह से इन 12 शहरों में कुल 10 दिन का टोटल लॉकडाउन हो जाएगा.

अपर मुख्य सचिव ने बताया है कि इंदौर के अलावा उज्जैन, जबलपुर, बड़वानी, राजगढ़, विदिशा, बालाघाट, नरसिंहपुर, सिवनी, राऊ, महू, शाजापुर में भी लॉकडाउन को अब बढ़ाने का फैसला लिया गया है. इन सभी शहरों में लॉकडाउन 19 अप्रैल की सुबह तक जारी रहेगा. वहीं बालाघाट, नरसिंहपुर, सिवनी, जबलपुर जिलों में 22 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन जारी रहेगा.

नए कोरोना आंकड़े 5000 पार

10 अप्रैल को जिलों की क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक हुई जिसमें मुख्यमंत्री ने एक दिन में 5000 कोरोना केस सामने आने की स्थिति पर चिंता जताई. ऐसी परिस्थितियों पर काबू पाने के लिए सरकार ने सख्ती बढ़ाने का फैसला किया है.

इंदौर, भोपाल महानगरों में सबसे ज्यादा केस

जिस तरह से पहली वेव के दौरान इंदौर एक बड़ा हॉटस्पॉट बनकर उभरा था. उसी तरह इस बार भी इंदौर में कोरोना की स्थिति गंभीर है. इंदौर के बाद राजधानी भोपाल की स्थिति खराब है. वहीं तीसरे नंबर पर जबलपुर से सबसे ज्यादा नए केस आ रहे हैं.

कई शहरों में पहले से ही लंबा लॉकडाउन

राज्य के रतलाम जिले में 9 अप्रैल से ही 9 दिन का लॉकडाउन लगाया गया है, ये लॉकडाउन 19 अप्रैल की सुबह तक जारी रहेगा. इसके अलावा कटनी, खरगोन और बैतूल जिलों में 17 अप्रैल तक टोटल लॉकडाउन रहेगा. छिंदवाड़ा में 8 अप्रैल के बाद से 7 दिन के लिए लॉकडाउन रहेगा.

मुख्यमंत्री की कोरोना वायरस संकट पर हुई बैठक में अधिकारियों ने कई सारे सुझाव दिए. जैसे सरकारी ऑफिस में कर्मचारियों की संख्या आधी बुलाई जाए. जरूरी इंजेक्शन एमआरपी रेट पर ही बेचे जाएं. कोरोना का फ्री इलाज सरकार की तरफ से कराया जाए.
ADVERTISEMENT

रिपोर्ट्स के मुताबिक राज्य में कोरोना संक्रमित 34 परसेंट मरीज हॉस्पिटल में भर्ती होकर अपना इलाज करा रहे हैं. वहीं 66 परसेंट लोग होम आइसोलेशन में रह रहे हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×