ADVERTISEMENTREMOVE AD

Varanasi: स्कॉर्पियो से आए आरोपियों ने छात्र को लाठी-डंडों से पीटा, मौत, 8 पर FIR

सौरभ का बीते दिनों पंचर की दुकान पर वाहन से छींटा पड़ने के बाद कुछ युवकों से विवाद हुआ था. पुलिस संभावना जता रही है कि इसी विवाद के चक्कर में उसकी हत्या की गई है.

Published
राज्य
3 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

यूपी (Uttar Pradesh) के वाराणसी में स्कॉर्पियो सवार 8 आरोपियों ने 10 सितंबर को एक छात्र को हॉकी और लाठी-डंडों से पीटकर-पीटकर अधमरा कर दिया था. इसके बाद घायल युवक को बीएचयू ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया था, जहां 11 सितंबर को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. बताया जा रहा है कि वारदात 10 सितंबर की देर रात सारनाथ थाना क्षेत्र स्थित पहड़िया के अकथा तिराहे के पास की है. मृतक छात्र के पिता ने सारनाथ थाने में आठ आरोपियों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कराया है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

क्या है पूरा मामला?

मृतक की पहचान वाराणसी के चौबेपुर थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत मढ़नी निवासी सौरभ यादव (20 वर्ष) के रूप में हुई. सौरभ प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करता था. मृतक के पिता बचाऊ यादव के अनुसार, नेवादा (चौबेपुर) निवासी अंकुश राजभर ने 10 सितंबर की रात करीब 9 बजे सौरभ को फोन कर रिंग रोड फेज-2 के शंकरपुर के पास बुलाया. वहां से दोनों बाइक से पहड़िया पहुंचे.

सौरभ का बीते दिनों पंचर की दुकान पर वाहन से छींटा पड़ने के बाद कुछ युवकों से विवाद हुआ था. पुलिस संभावना जता रही है कि इसी विवाद के चक्कर में उसकी हत्या की गई है.

आक्रोशित लोगों ने सड़क किया जाम

(फोटो: द क्विंट हिंदी)

बचाऊ यादव की शिकायत के अनुसार, अकथा तिराहे की मुख्य सड़क पर रात करीब 11:30 पर स्कॉर्पियो सवार मढ़नी के पड़ोसी गांव कमौली निवासी अभिषेक सिंह, रौनक सिंह, नितिन सिंह, मड़ियाहू (जौनपुर) के काजीहद कोट निवासी अश्विनी सिंह समेत अन्य तीन-चार युवकों ने सौरभ पर हमला कर बुरी तरह से जख्मी कर दिया. इसके बाद आरोपी गाजीपुर की ओर भाग निकले. मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मियों ने सौरभ को बीएचयू स्थित ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया, जहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया.

0
"बीते दिनों पंचर की दुकान पर वाहन से छींटा पड़ने के बाद कमौली के युवकों और सौरभ के बीच विवाद हुआ था. प्रथम दृष्टया मामला आपसी रंजिश का लग रहा है. गिरफ्तारी के लिए तीन टीम गठित की गई है. लगातार छापेमारी की जा रही है.
बृजेश कुमार सिंह, प्रभारी निरीक्षक, सारनाथ थाना

थाना प्रभारी बृजेश कुमार सिंह ने आगे बताया कि "पूछताछ के लिए कुछ लोगों को बुलाया गया है, लेकिन अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है. सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस जल्द ही आरोपियों गिरफ्तारी करेगी. इंस्पेक्टर के मुताबिक अंकुश, अभिषेक, रौनक, नितिन, अश्विनी के खिलाफ हत्या, धमकी, बलवा आदि धाराओं में केस दर्ज किया गया है. गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है.

सौरभ का बीते दिनों पंचर की दुकान पर वाहन से छींटा पड़ने के बाद कुछ युवकों से विवाद हुआ था. पुलिस संभावना जता रही है कि इसी विवाद के चक्कर में उसकी हत्या की गई है.

आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर लोगों ने किया हंगामा

(फोटो: द क्विंट हिंदी)

शव रखकर हंगामा

सौरभ की मौत के बाद आक्रोशित लोगों ने गौरा कला के मुख्य मार्ग पर शव रखकर जाम लगा दिया. वहीं, जिलाधिकारी और पुलिस आयुक्त को मौके पर बुलाने की मांग को लेकर लोगों ने जमकर हंगामा किया. सूचना मिलते ही एसीपी सारनाथ धनंजय मिश्रा कई थानों की फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और उन्होंने 48 घंटे में गिरफ्तारी का आश्वासन देकर लोगों को शांत कराया.

सौरभ का बीते दिनों पंचर की दुकान पर वाहन से छींटा पड़ने के बाद कुछ युवकों से विवाद हुआ था. पुलिस संभावना जता रही है कि इसी विवाद के चक्कर में उसकी हत्या की गई है.

पूछताछ करती पुलिस

(फोटो: द क्विंट हिंदी)

कौन हैं आरोपी और किस धारा में हुई FIR

सौरभ के पिता बचाऊ यादव ने अश्वनी सिंह निवासी कादीहद कोट थाना मड़ियाहूं जिला जौनपुर, अभिषेक सिंह ग्राम कमौली थाना चौबेपुर, रौनक सिंह और नितिन सिंह निवासी ग्राम पंचायत कमौली थाना चौबेपुर सहित चार अन्य अज्ञात के विरुद्ध सारनाथ थाने में तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया है.

सौरभ का बीते दिनों पंचर की दुकान पर वाहन से छींटा पड़ने के बाद कुछ युवकों से विवाद हुआ था. पुलिस संभावना जता रही है कि इसी विवाद के चक्कर में उसकी हत्या की गई है.

FIR की कॉपी

पुलिस ने आईपीसी की धारा 147, 148, 149, 302 और 506 के तहत मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×