ADVERTISEMENT

UPTET का पेपर लीक, CM ने आरोपियों पर गैंगस्टर और NSA लगाने की घोषणा की

परीक्षा में बैठने के लिए छात्रों को फिर से आवेदन फीस नहीं देनी होगी

Updated
राज्य
3 min read
UPTET का पेपर लीक, CM ने आरोपियों पर गैंगस्टर और NSA लगाने की घोषणा की
i

राज्य में भर्तियों में 'पारदर्शिता' और 'निष्पक्षता' बनाए रखने पर जोर देते हुए, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को यूपी टीईटी-2021 पेपर-लीक में शामिल लोगों के खिलाफ गैंगस्टर और एनएसए लगाने की घोषणा की.उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (UPTET) का पेपर लीक हो जाने की वजह से कैंसल कर दिया गया है. यह परीक्षा आज 28 नवंबर को दो शिफ्ट में होने वाली थी. दोनों शिफ्टों की परीक्षा को कैंसल कर दिया गया है.

पेपर लीक होने की जांच STF को सौंपी गई है, रिपोर्ट्स के अनुसार मामले में प्रयागराज, मथुरा और शामली से कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है.

ADVERTISEMENT

ऐसे बेईमान तत्वों को बख्शा नहीं जाएगा: योगी

देवरिया में एक जनसभा को संबोधित करते हुए यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जो लोग इस दुष्कर्म में शामिल हैं उन्हें पता होना चाहिए कि उनके खिलाफ गैंगस्टर अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया जा रहा है और राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम लागू करने के साथ-साथ उनकी संपत्ति को भी जब्त कर लिया जाएगा. सीएम ने जोर देकर कहा कि “यदि कोई युवाओं के जीवन के साथ खिलवाड़ करने की कोशिश कर रहा है, तो उसे परिणामों के बारे में पता होना चाहिए.

एक महीनें बाद फिर होगी परीक्षा

रिपोर्ट्स के अनुसार अब परीक्षा एक महीने बाद दोबारा कराई जाएगी. जल्द ही परीक्षा की नई तारीखों की घोषणा की जाएगी. परीक्षा रद्द होने की जानकारी नियामक प्राधिकारी संजय कुमार उपाध्याय ने दी.

बताया गया कि उत्तर प्रदेश के कई जिलों में UPTET का पेपर लीक हो गया था, जिस वजह से ही इसे कैंसल करने का फैसला लिया गया. दोबारा होने वाली परीक्षा में बैठने के लिए छात्रों को फिर से आवेदन फीस नहीं देनी होगी.

दुबारा होने वाली परीक्षा का पूरा खर्चा सरकार उठायेगी न अभियर्थियों को दुबारा फॉर्म भरना होगा ना ही कोई फीस देनी होगी. इसके साथ ही परीक्षा में शामिल होने आए सभी अभियर्थियों को अपने घर वापिस जाने के लिए बस का कोई किराया नहीं देना होगा. वह सिर्फ अपना एडमिट कार्ड दिखाकर उत्तर प्रदेश सरकार की बसों में मुफ्त यात्रा कर सकते है.

अलग अलग शहरों से अबतक 23 युवक गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि उत्तर प्रदेश के अलग अलग शहरो में अबतक 23 लोगों को हिरासत में लिया जा चुका है. सबसे ज्यादा युवकों को प्रयागराज से हिरासत में लिया गया है. इसके अलावा लखनऊ, मेरठ, शामली और अन्य शहरों से भी नकल माफियाओं को गिरफ्तार किया गया है. जो लोग पकड़े गए हैं उसमें कुछ लोग बिहार से हैं, जांच जारी है.

पेपर लीक होने पर उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा मंत्री डॉ. सतीश द्विवेदी ने कहा, "UPTET परीक्षा के पेपर लीक होने की सूचना मिली है. इसलिए दोनों पालियों की परीक्षा तत्काल प्रभाव से निरस्त की जा रही है. एक महीने के भीतर परीक्षार्थियों से बिना कोई शुल्क लिए पुन: परीक्षा कराई जाएगी. यूपी STF को जांच सौंपी गई है."

ADVERTISEMENT

विपक्ष ने सरकार को घेरा

UPTET का पेपर लीक हो जाने के कारण विपक्ष ने उत्तर प्रदेश सरकार को घेरना शुरू कर दिया है. उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट कर योगी सरकार पर निशाना साधा .अखिलेश यादव ने ट्ववीट कर लिखा, "UPTET 2021 की परीक्षा का पेपर लीक होने की वजह से रद्द होना बीसों लाख बेरोजगार अभ्यर्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है. भाजपा सरकार में पेपर लीक होना, परीक्षा व परिणाम रद्द होना आम बात है."

कांग्रेस लीडर प्रियंका गांधी और राष्ट्रीय लोक दल के नेता जयंत सिंह ने पेपर लीक होने पर उत्तर प्रदेश सरकार पर ट्वीट कर हमला बोला.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×