ADVERTISEMENTREMOVE AD

उत्तराखंड: पहाड़ भी 4 दिन तपेंगे, बर्फ पिघलने और हिमस्खलन का खतरा बढ़ा

Uttarakhand : बढ़ते पारे की वजह से फसलों और सब्जियों को भी भारी नुकसान हो सकता है.

Published
राज्य
1 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

उत्तराखंड (Uttarakhand) के कई इलाकों में जंगलों में आग लगने से वातावरण में बढ़ी गर्मी के कारण बर्फ पिघलने और हिमस्खलन (Avalanche) का खतरा बढ़ गया है. इस बीच मौसम विभाग ने 9 से12 अप्रैल तक पर्वतीय जिलों में तापमान के सामान्य से बहुत अधिक रहने की आशंका जताते हुए रेड अलर्ट जारी किया है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

बढ़ते पारे की वजह से फसलों और सब्जियों को भी भारी नुकसान हो सकता है. विभाग की ओर एडवाइजरी भी जारी की गई है. मौसम विभाग के वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक बिक्रम सिंह ने बताया कि 9, 10, 11 और 12 अप्रैल को उत्तरकाशी, टिहरी, चमोली, रुद्रप्रयाग, पिथौरागढ़, अल्मोड़ा, बागेश्वर, नैनीताल और चंपावत में सामान्य से बहुत ज्यादा तापमान रहने का अनुमान है.

इस दौरान इन जिलों में कुछ स्थानों पर वनाग्नि की घटनाएं भी बढ़ सकती हैं. फसलों और सब्जियों पर भी गर्मी का असर दिखेगा.

वहीं उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग, पिथौरागढ़ और बागेश्वर जिलों में उच्च हिमालयी क्षेत्रों (3500 मीटर से ज्यादा) वाले इलाकों में बर्फ पिघलने से हिमस्खलन होने का भी खतरा है. विभाग ने किसानों को तेज धूप से फसल को झुलसने से बचाने के लिए नियमित तौर पर सिंचाई करने के निर्देश दिए हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

0
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×