पुराना वीडियो शेयर कर दावा- TMC कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर किया हमला

ओडिशा में 3 महीने पहले हुए पुलिस पर हमले का वीडियो पश्चिम बंगाल का बताकर शेयर किया जा रहा है

Published
पुराना वीडियो शेयर कर दावा- TMC कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर किया हमला

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है. वीडियो में कुछ लोग पुलिस की गाड़ी और पुलिसकर्मियों पर हमला करते देखे जा सकते हैं. दावा किया जा रहा है कि वीडियो पश्चिम बंगाल का है और पुलिस पर हमला करते दिख रहे लोग TMC कार्यकर्ता हैं.

वीडियो ऐसे समय पर वायरल हो रहा है जब पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद से ही हिंसा की खबरें आ रही हैं. हिंसा में हुई हत्याओं को लेकर बीजेपी और टीएमसी की तरफ से ये दावा किया जा रहा है कि उनकी पार्टी के कार्यकर्ता इस हिंसा में मारे गए हैं.

दावा

सोशल मीडिया पर वीडियो अलग-अलग कैप्शन के साथ वायरल है. लेकिन, हर कैप्शन में दावा यही है कि वीडियो में पुलिस के साथ हिंसा कर रहे लोग TMC कार्यकर्ता हैं.

पोस्ट का अर्काइव देखने के लिए&nbsp; <a href="https://archive.is/rLAhn">यहां </a>क्लिक करें
पोस्ट का अर्काइव देखने के लिए  यहां क्लिक करें
सोर्स : स्क्रीनशॉट/ट्विटर

ट्विटर पर ये वीडियो कई यूजर इसी दावे के साथ शेयर कररहे हैं. ऐसे पोस्ट्स का अर्काइव यहां, यहां और यहां देखा जा सकता है.

पड़ताल में हमने क्या पाया?

गूगल पर वायरल वीडियो में दिख रहे घटनाक्रम से जुड़े कीवर्ड (Mob Attack Police Vehicle) सर्च करने से हमें इंडिया टुडे वेबसाइट पर  3 मई, 2021 को पब्लिश हुई एक रिपोर्ट मिली. रिपोर्ट के मुताबिक ओडिशा के मयूरभंज में पुलिस ने जब लोगों से कोरोना गाइडलाइन का पालन करने को कहा, तो स्थानीय लोगों ने पुलिस पर ही हमला कर दिया.

रिपोर्ट के साथ एक वीडियो भी है. जिसमें तोड़फोड़ का शिकार हुई पुलिस की गाड़ी भी देखी जा सकती है. लेकिन, चूंकि ये इंडिया टुडे की रिपोर्ट का वीडियो रात में शूट किया गया है और वायरल वीडियो दिन के समय का है, इसलिए पुष्टि नहीं होती कि वायरल वीडियो भी इसी घटना का है.

यूट्यूब पर Odisha Police attacked कीवर्ड सर्च करने से हमें ओडिशा की 3 महीने पुरानी घटना का वीडियो मिला, जो वायरल वीडियो से मेल खाता है. Kalinga TV के वेरिफाइड यूट्यूब चैनल पर 13 जनवरी 2021 को अपलोड किया गया एक वीडियो मिला. वीडियो के टाइटल से पता चलता है कि मामला ओडिशा के भदरक का है. जहां पुलिस कस्टडी में एक शख्स की मौत के बाद स्थानीय लोगों ने पुलिस वैन में आग लगा दी.

3 महीने पुराने इस वीडियो के विजुअल पूरी तरह वायरल वीडियो से मेल खाते हैं. पुलिस की गाड़ी और वीडियो में दिख रहे कुछ लोगों से पता चल रहा है कि दोनों वीडियो एक ही हैं.

पुराना वीडियो शेयर कर दावा- TMC कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर किया हमला
सोर्स : Altered by Quint

मामले से जुड़े कीवर्ड्स गूगल सर्च करने से ओडिशा के क्षेत्रीय न्यूज चैनल कनक न्यूज पर भी हमें इस घटना का वीडियो मिला. .

कनक न्यूज की वीडियो रिपोर्ट और वायरल वीडियो की लोकेशन एक ही है. इन विजुअल्स से समझिए.

पुराना वीडियो शेयर कर दावा- TMC कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर किया हमला
फोटो : Altered by Quint

ओडिशा टीवी ने भी 13 जनवरी की इस घटना को रिपोर्ट किया.

पुराना वीडियो शेयर कर दावा- TMC कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर किया हमला
सोर्स : स्क्रीनशॉट/ट्विटर

ओडिशा में क्यों हुआ पुलिस पर हमला?

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस मृतक बपी महालिक के रिश्तेदार से पूछताछ करने पहुंची थी. लेकिन, बपी अचानक पुलिस को देख डर गया और भागने लगा. पुलिस भी इस गलतफहमी में बपी के पीछे भागने लगी कि वही आरोपी है. भागते-भागते बपी एक तालाब में कूदा और डूबने से उसकी मौत हो गई. इस घटना के बाद स्थानीय लोग भड़क गए और पुलिस पर हमला कर दिया.

ओडिशा के एक स्थानीय पत्रकार ने क्विंट से बातचीत में कन्फर्म किया कि वीडियो भदरक का ही है.  स्थानीय पुलिस अधिकारी ने क्विंट से हुई बातचीत में कहा कि घटना जनवरी 2021 में टिहड़ी पुलिस थाना क्षेत्र में हुई थी. जहां कुछ लोगों ने पुलिस पर हमला कर दिया था .

मतलब साफ है कि ओडिशा की करीब 3 महीने पुरानी घटना का वीडियो पश्चिम बंगाल में TMC कार्यकर्ताओं की पुलिस से मारपीट का बताकर शेयर किया जा रहा है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!