ADVERTISEMENT

Agnipath Scheme के विरोध में प्रदर्शन का बता पाकिस्तान का पुराना वीडियो वायरल

वायरल वीडियो पाकिस्तान का है और 2021 का है. इसका Agnipath Scheme से नहीं है कोई भी संबंध

Published
Agnipath Scheme के विरोध में प्रदर्शन का बता पाकिस्तान का पुराना वीडियो वायरल
i

'अग्निपथ' योजना (Agnipath Scheme) से जोड़कर सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया जा रहा है, जिसमें हजारों की भीड़ मेट्रो पुल के नीचे नारे लगाती दिख रही है. दावा किया जा रहा है कि वीडियो 14 जून को पेश की गई केंद्र की अग्निपथ योजना के विरोध (Agnipath Protest) में हुए एक प्रोटेस्ट को दिखाता है.

अग्निपथ योजना का उद्देश्य आर्मी, नौसेना और वायुसेना में सैनिकों को शॉर्ट-टर्म आधार पर भर्ती करना है. योजना के ऐलान के बाद से देश के 11 राज्यों में हिंसक विरोध प्रदर्शन हुए हैं.
ADVERTISEMENT

योजना के विरोध में आर्म्ड फोर्स की तैयारी करने वाले उम्मीदवारों ने, 20 जून को भारत बंद का आह्वान भी किया था जिस वजह से सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

हालांकि, हमने पाया कि ये वीडियो 2021 का है. जब तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (TLP) के पूर्व प्रमुख खादिम हुसैन रिज़वी के चालीसवें (चेहल्लुम) के मौके पर पाकिस्तान के लाहौर में भीड़ जमा हुई थी.

बता दें कि ये वीडियो कुछ हफ्ते पहले नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) विवाद से जोड़कर भी शेयर किया गया था.

दावा

वीडियो शेयर कर दावा किया गया कि ये वीडियो 'अग्निपथ' योजना के विरोध को दर्शाता है.

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)

ऐसे ही दूसरे पोस्ट के आर्काइव आप यहां और यहां देख सकते हैं.

ADVERTISEMENT

पड़ताल में हमने क्या पाया

वीडियो वेरिफिकेशन टूल InVID का इस्तेमाल कर, हमने वीडियो को कई कीफ्रेम में बांटा और उनमें से कुछ पर रिवर्स इमेज सर्च किया.

हमें 'Labbaik News' नाम के एक यूट्यूब चैनल पर 4 जनवरी 2021 को अपलोड किया गया वीडियो मिला.

वीडियो का टाइटल था, 'Allama Khadim Hussain Rizvi Chehlum | TLP Chehlum 2021'

इसके बाद, हमने जरूरी कीवर्ड का इस्तेमाल कर न्यूज रिपोर्ट्स चेक कीं. हमें 3 जनवरी 2021 को 'Baaghi TV' नाम की वेबसाइट पर पब्लिश एक रिपोर्ट मिली.

रिपोर्ट के मुताबिक, लाहौर में अल्लामा खादिम हुसैन रिज़वी के चेहल्लुम में हजारों लोग शामिल हुए थे.

पाकिस्तान के न्यूजपेपर Dawn की रिपोर्ट के मुताबिक, TLP प्रमुख का 19 नवंबर 2020 को 54 वर्ष की आयु में निधन हो गया था.

इसके अलावा, हमें Getty Images पर भी इस जनसम्मेलन से जुड़ी तस्वीरें मिलीं, जो 2021 में पब्लिश की गईं थी. तस्वीरों में वायरल वीडियो की तरह ही लोगों को मेट्रो पुल के नीचे बैठे देखा जा सकता है.

फोटो के डिस्क्रिप्शन में लिखा हुआ है, " लाहौर में 3 जवरी 2021 को कट्टरपंथी धार्मिक राजनीतिक दल तहरीक-ए-लब्बैक के कार्यकर्ता, पार्टी के दिवंगत खादिम हुसैन रिजवी के लिए, उनके चेहल्लुम के दौरान प्रार्थना करते हुए.''

ये तस्वीर पाकिस्तान के लाहौर की है

(फोटो: Getty Images/Altered by The Quint)

मतलब साफ है, पाकिस्तान का एक पुराना वीडियो सोशल मीडिया पर इस झूठे दावे से शेयर किया जा रहा है कि ये 'अग्निपथ' योजना के खिलाफ हो रहे विरोध प्रदर्शन को दिखाता है.

(अगर आपके पास भी ऐसी कोई जानकारी आती है, जिसके सच होने पर आपको शक है, तो पड़ताल के लिए हमारे वॉट्सऐप नंबर 9643651818 या फिर मेल आइडी webqoof@thequint.com पर भेजें. सच हम आपको बताएंगे. हमारी बाकी फैक्ट चेक स्टोरीज आप यहां पढ़ सकते हैं )

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×