ADVERTISEMENT

बदरुद्दीन ने नहीं कहा ‘इस्लामिक देश बन जाएगा भारत ’, फेक है वीडियो

वीडियो को एडिट करके ये दिखाने की कोशिश की गई है कि अजमल ने देश को मुस्लिम राष्ट्र बनाने वाला बयान दिया है.

बदरुद्दीन ने नहीं कहा ‘इस्लामिक देश बन जाएगा भारत ’
i

AIUDF के प्रमुख बदरुद्दीन अजमल की एक एडिट की हुई क्लिप इस झूठे दावे से वायरल हो रही है कि उन्होंने कहा है कि अगर कांग्रेस-AIDUF गठबंधन की सरकार असम में सत्ता में आती है तो भारत ''इस्लामिक देश'' बन जाएगा.

AIUDF ने कांग्रेस चुनाव से पहले कांग्रेस और 6 अन्य दलों के साथ महागठबंधन किया है.

दावा

ABP News की पत्रकार आस्था कौशिक ने 36 सेकंड के इस वीडियो को इस दावे से शेयर किया है, ''All India United democratic front party के बदरूद्दीन अजमल कह रहे हैं कि भारत जल्द ही इस्लामिक स्टेट बनेगा! क्या अब कांग्रेस पार्टी इसपर अपनी राय ज़ाहिर करेगी? क्योंकि इसी AIUDF के साथ असम में कांग्रेस गठबंधन है!''

इस ट्वीट को 15,000 हजार से भी ज्यादा बार देखा जा चुका था. हालांकि, बाद में इस वीडियो को हटा लिया गया.

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://archive.is/MG5V1">यहां </a>क्लिक करें
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

स्तंभकार रतन शारदा ने भी इस वीडियो को ट्वीट करके दावा किया था, ''देश में मुगलों ने 800 सालों तक राज किया. एक दिन ये देश इस्लामिक देश बन जाएगा.''

हालांकि, बाद में ट्वीट डिलीट कर लिया गया था.

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://archive.is/bNdYo">यहां </a>क्लिक करें
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

एक्टर परेश रावल ने रतन शारदा के ट्वीट को को रिट्वीट करके कहा था, ''As expected no outrage from liberals!'' यानी 'ऐसी ही उम्मीद थी. उदारवादियों ने इस पर कोई नाराजगी नहीं जाहिर की.'

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://archive.is/clwsA">यहां </a>क्लिक करें
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://archive.is/Dho6v">यहां </a>क्लिक करें
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

'Asianetnews हिंदी' के ट्विटर हैंडल से भी इस वीडियो को ऐसे ही दावे के साथ शेयर किया गया था.

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://archive.is/dttSz">यहां </a>क्लिक करें
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

कर्नाटक की सांसद और बीजेपी नेता शोभा करंदलाजे ने इस क्लिप को शेयर करते हुए लिखा था, ''असम को शरिया स्टेट बनाने की डरावनी योजना का पता चल गया है.''

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://archive.is/tMLpy">यहां </a>क्लिक करें
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://archive.is/t7ViT">यहां </a>क्लिक करें
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://archive.is/buuT2">यहां </a>क्लिक करें
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://archive.st/archive/2021/3/www.facebook.com/whg4/">यहां </a>क्लिक करें
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
(सोर्स: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://archive.st/archive/2021/3/www.facebook.com/o71c/">यहां </a>क्लिक करें
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
(सोर्स: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)

क्विंट को Whatsapp टिपलाइन पर भी इस वायरल हो रही वीडियो क्लिप से संबंधित कई क्वेरी आईं.

वायरल हो रही क्लिप में बदरुद्दीन क्या कहते हुए दिख रहे हैं?

वीडियो में उन्हें ये कहते हुए सुना जा सकता है, ''मुगलों ने भारत पर 800 सालों तक राज किया. ये देश इस्लामिक देश बन जाएगा. सरकार कौन बनाएगा? हमारे UPA-महागठबंधन की सरकार होगी, इंशा अल्लाह. और उस सरकार में आपकी पार्टी (UDF), ताला और चाबी (पार्टी का चिह्न) का गठबंधन होगा, इंशा अल्लाह. भारत में कोई भी हिंदू नहीं बचेगा, सभी मुस्लिम बन जाएंगे.''

ADVERTISEMENT

पड़ताल में हमने क्या पाया

हमने यूट्यूब पर ‘AIUDF Badruddin’ कीवर्ड सर्च किया. हमें साल 2019 में अपलोड किया गया एक वीडियो मिला. जिसका कैप्शन था: 'मौलाना बदरुद्दी अजमल की बारपेटा में स्पीच.'

21 मिनट लंबे इस वीडियो के 4 मिनट 30 सेकंड में बदरुद्दीन लोगों को संबोधित करते हुए कह रहे हैं, ''मैं बहुत कुछ कहना चाहता हूं, लेकिन हमारे पास ज्यादा समय नहीं है. ये चुनाव हमारे लिए बच्चों का खेल नहीं है. ये पंचायत चुनाव नहीं है और न ही विधानसभा चुनाव. ये चुनाव इस बात का फैसला करेगा कि दिल्ली की पीएम कुर्सी पर कौन बैठेगा. क्या आप मोदी को प्रधानमंत्री के तौर पर देखना चाहते हैं?''

वीडियो के 5 मिनट 49 सेकंड में उन्हें मुगलों के बारे में कहते हुए सुना जा सकता है.

उन्होंने आगे कहा ‘’क्या आप जानते हैं कि भारत में मुगलों ने 800 सालों तक शासन किया लेकिन उन्होंने कभी भी ऐसा सपना नहीं देखा कि भारत को इस्लामिक राष्ट्र बनाना है. अगर वे चाहते तो इन 800 सालों के दौरान देश में कोई हिंदू नहीं बचता सब मुस्लिम बन गए होते. लेकिन क्या उन्होंने ऐसा किया?... यहां तक उन्होंने ऐसा करने की कोशिश भी नहीं की. उनके पास ऐसा करने की हिम्मत नहीं थी.’’

उन्हें वीडियो के 6 मिनट 22 सेकंड से अंग्रेजों के बारे में यह कहते हुए सुना जा सकता है कि उन्होंने देश में 200 सालों तक शासन किया. ''उन्होंने भारत को ईसाई राष्ट्र बनाने का साहस नहीं किया. उसके बाद जब भारत को आजादी मिली तो देश में कांग्रेस ने 70 सालों में 55 सालों तक शासन किया. नेहरू (जवाहरलाल नेहरू), शास्त्री (लाल बहादुर शास्त्री), राजीव गांधी से लेकर सिंह (मनमोहन सिंह) और नरसिम्हा राव तक, किसी भी कांग्रेसी नेता ने देश को हिंदू राष्ट्र बनाने का सपना नहीं देखा.''

इसके बाद उन्होंने कहा, "लेकिन मोदी जी, यह सपना मत देखिए. आपका सपना झूठा हो जाएगा. अब आपको ताला और चाबी (पार्टी का चिह्न) के लिए वोट करना है न कि मोदी, बीजेपी, आरएसएस और हिमंत को. फिर, हम यह सुनिश्चित कर पाएंगे कि रमजान के बाद जो सरकार बनेगी, उसमें मोदी पीएम नहीं होंगे.''

इस वीडियो में उन्हें यह भी कहते हुए सुना जा सकता है, ''हम (यूपीए महागठबंधन) सरकार बनाएंगे और आपकी पार्टी AIUDF सरकार की सहयोगी होगी...हम सोचते थे कि हमारी लड़ाई बीजेपी या कुमार दीपक दास के साथ है. अब हिमंत खालिक साहब को पैसा दे रहे हैं. खालिक साहब हर रोज 2 से ढाई घंटे के लिए हिमंत बिस्वा शर्मा के घर जाते हैं. हिमंत से मिले बिना उनका खाना नहीं पचता.

वीडियो के 7 मिनट 57 सेकंड में वे कहते हैं, ''सरकार कौन बनाएगा? हमारे यूपीए-महागठबंधन की सरकार बनेगी, इंशा अल्लाह. और उस सरकार में आपकी पार्टी, ताला और चाबी सरकार की सहयोगी होगी, इंशा अल्लाह.''

वायरल हो रहे वीडियो को काफी अच्छे से एडिट करके ये दिखाने की कोशिश की गई है कि अजमल ने ऐसा बयान दिया है.

AIUDF का स्पष्टीकरण

AIUDF के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से इस लंबे वीडियो की एक क्लिप ट्वीट की गई है और लिखा गया है कि, ''ये है ओरिजिनल वीडियो. इस वीडियो की अलग-अलग क्लिप को जोड़कर ये वीडियो बनाया गया है.''

न्यूज एजेंसी ANI ने बदरुद्दीन अजमल के हवाले से लिखा कि “यह 100 प्रतिशत नकली है. अलग-अलग भाषणों के कुछ हिस्सों को जोड़कर ये पेश किया गया है कि अगर कांग्रेस-AIUDF गठबंधन सत्ता में आता है, तो यह असम को इस्लामिक राज्य बना देगा.''

उन्होंने कहा कि अगर आप असली वीडियो देखेंगे तो पाएंगे कि मैं लोगों से पूछ रहा था कि जब हिमंत बिस्वा शर्मा ने मुझे मुगल कहा था, तो मैंने पूछा था कि मुगलों ने भारत पर 800 वर्षों तक शासन किया, लेकिन क्या उन्होंने भारत को एक इस्लामिक राज्य बनाने के बारे में भी सोचा?

मतलब साफ है कि AIUDF प्रमुख बदरुद्दीन अजमल के एडिटेड वीडियो को कई यूजर्स ने सोशल मीडिया पर इस गलत दावे से शेयर किया है कि अगर पार्टी और इसके गठबंधन की सरकार आती है तो देश एक इस्लामिक राष्ट्र बना जाएगा.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT