ADVERTISEMENTREMOVE AD

महाराष्ट्र के अमरावती की रैली का वीडियो अयोध्या का बताकर वायरल

वीडियो को अमरावती लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस उम्मीदवार बलवंत बसवंत वानखेड़े की जीत के बाद बनाया गया था.

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें कुछ युवाओं को जश्न मानते और किसी को उकसाते हुए देखा जा सकता है.

दावा: वीडियो को शेयर कर यह दावा किया जा रहा है कि यह वीडियो अयोध्या (Ayodhya) का है और अयोध्या में बीजेपी की हार के बाद ऐसे जश्न मना रहे हैं.

वीडियो को अमरावती लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस उम्मीदवार बलवंत बसवंत वानखेड़े की जीत के बाद बनाया गया था.

(इस पोस्ट का अर्काइव यहां देखें)

(Altered by quint hindi)

(ऐसे ही दावे करने वाले अन्य पोस्ट के अर्काइव यहां, यहां और यहां देख सकते हैं.)

ADVERTISEMENTREMOVE AD

क्या यह दावा सही है ? नहीं, यह दावा सही नहीं है. वीडियो उत्तर प्रदेश के अयोध्या का नहीं है बल्कि महाराष्ट्र के अमरावती का है.

  • यह वीडियो लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद बनाया गया था.वीडियो के संज्ञान में आने के बाद महाराष्ट्र पुलिस ने 07 लोगों को गिरफ्तार भी किया है.

  • इस वीडियो को अमरावती लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस उम्मीदवार बलवंत बसवंत वानखेड़े की जीत के बाद बनाया गया था, वीडियो में देखा जा सकता है की लोगों ने कुछ अश्लील इशारे भी किए.

  • वीडियो अमरावती के राजकमल चौक के पास बनाया गया है.

हमनें सच का पता कैसे लगाया ? हमनें इस वीडियो को ध्यान से देखा और पाया कि युवाओं की भीड़ के पीछे एक बोर्ड था जिसपर हमें अबानगरी दिखाई दिया. अबानगरी City टाइप करने पर हमें इंस्टाग्राम की एक रील पर हूबहू यही लोकेशन दिखाई दी. इस रील में यह लोकेशन साफ थी और इस बोर्ड के नीचे राजकमल चौक लिखा था.

वीडियो को अमरावती लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस उम्मीदवार बलवंत बसवंत वानखेड़े की जीत के बाद बनाया गया था.

इस वायरल बोर्ड पर अबानगरी लिखा नजर आ रहा था.

(सोर्स - स्क्रीनशॉट)

गूगल पर अबानगरी सर्च करने पर हमनें पाया कि यह महाराष्ट्र के अमरावती में हैं.

Geo लोकेशन: Google Maps पर राजकमल चौक ढूंढने पर हमें यही लोकेशन मिल गई.

वायरल वीडियो और Google Map पर सर्च की गई लोकेशन से यह साबित हो गया कि यह वीडियो इसी लोकेशन यानी की महारष्ट्र के अमरावती के राजकमल चौक का है.

वीडियो को अमरावती लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस उम्मीदवार बलवंत बसवंत वानखेड़े की जीत के बाद बनाया गया था.

दोनों तस्वीरों में समानताएं देखीं जा सकती हैं.

(सोर्स - Altered by Quint Hindi)

ADVERTISEMENTREMOVE AD

वीडियो पर पुलिस का बयान: इसके बाद हमनें इस घटना के बारे में अधिक जानकारी जुटाने के लिए इससे सम्बंधित कीवर्ड्स Google और Youtube पर सर्च किए.

  • हमारी सर्च में हमें RCN डिजिटल नाम के एक Youtube चैनल पर यही वीडियो दिखाई दिया, जिसे 07 जून 2024 को अपलोड किया गया था.

  • वीडियो मराठी में था और इसमें बताया गया था कि अमरावती लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस उम्मीदवार बलवंत बसवंत वानखेड़े की जीत के बाद निकली रैली में राजकमल चौक के पास कुछ लोगों ने अभद्र और अश्लील इशारे किए.

  • वीडियो में पुलिस ने बताया कि कोतवाली पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया है, IPC 294, महाराष्ट्र पुलिस अधिनियम 125, 110 और 117 के तहत करीब 25 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है, जिनमें से 07 को गिरफ्तार किया गया है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

निष्कर्ष: लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद महराष्ट्र के अमरावती का एक वीडियो अयोध्या का बताकर वायरल किया जा रहा है.

(अगर आपक पास भी ऐसी कोई जानकारी आती है, जिसके सच होने पर आपको शक है, तो पड़ताल के लिए हमारे वॉट्सऐप नंबर  9540511818 या फिर मेल आइडी webqoof@thequint.com पर भेजें. सच हम आपको बताएंगे. हमारी बाकी फैक्ट चेक स्टोरीज आप यहां पढ़ सकते हैं.)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×