क्या कश्मीर में जानवरों की बलि पर लगा बैन? सच जानिए
सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है ये दावा
सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है ये दावा(फोटो: क्विंट हिंदी)

क्या कश्मीर में जानवरों की बलि पर लगा बैन? सच जानिए

दावा

जम्मू-कश्मीर में तनावपूर्ण माहौल के बीच, सोशल मीडिया पर ये खबर चल रही है कि घाटी में पशुओं की हत्या पर बैन लग गया है. टीवी न्यूज चैनल मिरर नाउ का एक कथित स्क्रीनशॉट भी ट्विटर पर शेयर किया जा रहा है, जिसमें स्क्रीन पर प्लैश हो रहा है कि कश्मीर में पशुओं की कुर्बानी पर बैन लगा दिया गया है.

Loading...

एक्टिविस्ट शेहला राशिद ने भी इस स्क्रीनशॉट को शेयर कर लिखा, 'अब आप कश्मीर में सिर्फ नागरिकों को मार सकते हैं.' हालांकि उन्होंने इस ट्वीट को डिलीट कर दिया है.

(स्क्रीनशॉट: ट्विटर)
(स्क्रीनशॉट: ट्विटर)

ऐसे दो स्क्रीनशॉट शेयर किए जा रहे हैं. एक में लिखा है: 'अब कोई जानवरों की हत्या नहीं कर सकता', वहीं एक पर लिखा है, 'कश्मीर में पशुओं की कुर्बानी पर बैन.'

ये स्क्रीनशॉट तब वायरल हो रहे हैं, जब देशभर में बकरीद मनाई जा रही है. कश्मीर में अभी भी कम्युनिकेशन ब्लैकआउट है और कई चीजों पर प्रतिबंध लगाए गए हैं.

ये भी पढ़ें : पूर्व ISI प्रमुख के बेटे ने कश्मीर हिंसा बताकर फर्जी वीडियो फैलाया

सच्चाई क्या है?

वायरल हो रहे स्क्रीनशॉट के साथ छेड़छाड़ की गई है. स्क्रीनशॉट को ध्यान से देखने पर पता चलता है कि मिरर नाउ के स्क्रीनशॉट में टिकर नहीं दिख रहा है.

(स्क्रीनशॉट: Altered by Quint)

वहीं ये पूरा वाक्य भी अजीब तरह से लिखा गया है- 'कोई अब पशु की हत्या नहीं करेगा.'

(स्क्रीनशॉट: Altered by Quint)

तीसरा, चैनल के लोगो के पास ही 'सब्सक्राइब नाउ' का लोगो लगा है. किसी भी आम न्यूज चैनल की स्क्रीन पर इस तरह के सब्सक्रिप्शन का ऑफर नहीं दिखता है.

(स्क्रीनशॉट: Altered by Quint)

वही चैनल, लेकिन दूसरी फोटो

इसी तरह की एक दूसरी फोटो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है, जिसमें वही बात लिखी है.

(स्क्रीनशॉट)

जहां इस स्क्रीनशॉट में भी वाक्य की संरचना गलत है, वहीं इसमें मिरर नाउ के रिपोर्टर की फोटो का भी गलत तरीके से इस्तेमाल किया गया है. स्क्रीनशॉट के मुताबिक, इस स्टोरी को 'प्रमोद माधव' नाम के रिपोर्टर ने रिपोर्ट किया था.

लेकिन इंटरनेट पर ढूंढने के बाद, हमने मिला की यही रिपोर्टर पिछले कई दिनों से केरल में आई बाढ़ पर रिपोर्ट कर रहा है.

मिरर नाउ की एडिटर, फे डिसूजा ने भी ट्वीट वायरल होने के बाद इसपर सफाई जारी की है.

अपने ट्वीट में फे ने लिखा कि ये स्क्रीन फेक है. ये झूठी और फोटोशॉप्ड है.

1. सबसे नीचे टिकर गायब है

2. ये वो फॉन्ट नहीं है जो चैनल इस्तेमाल करता है

3. इस स्टोरी को मिरर नाउ ने नहीं चलाया है

शेहला राशिद ने भी बाद में ट्वीट कर लिखा कि स्क्रीनशॉट फेक है और इसके साथ छेड़छाड़ की गई है.

अभी तक, कश्मीर में पशुओं की बलि पर कोई रोक नहीं लगाई गई है.

ये भी पढ़ें : आर्टिकल 370 हटने के बाद कश्मीरी महिलाओं का विरोध मार्च? सच जानिए

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our वेबकूफ section for more stories.

    Loading...