ADVERTISEMENT

द्रौपदी मुर्मू - रामनाथ कोविंद की फोटो 2 साल पुरानी है 'विरासत सौंपने' की नहीं

दावा है कि Ramnath Kovind ने राष्ट्रपति पद Draupadi Murmu को सौंपते वक्त धार्मिक रीति रिवाजों का पालन किया

Published

सोशल मीडिया पर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू (Draupadi Murmu) और पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ram Nath Kovind) की एक फोटो वायरल हो रही है. देखने में ये फोटो किसी पूजा-पाठ की लग रही है. दावा किया जा रहा है कि फोटो उस वक्त की है जब पूर्व राष्ट्रपति कोविंद ने अपना पद द्रौपदी मुर्मू को सौंपा. हालांकि, हमारी पड़ताल में सामने आया कि ये फोटो साल 2020 की है जब रामनाथ कोविंद झारखंड के देवघर में स्थित प्रसिद्ध बाबा वैद्यनाथ मंदिर में पूजा-अर्चना करने गए थे और इस कार्यक्रम में उस वक्त झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू भी थीं.

ADVERTISEMENT

दावा

फोटो के साथ शेयर हो रहा कैप्शन है : #विरासत सौंपना या सत्ता हस्तांतरण करना, अपने आप में यज्ञ है। यज्ञ देवों और महादेव के साक्षित्व में होता है। राष्ट्रपति पद का हस्तांतरण देखिए। राजनैतिक औपचारिकताएं होती रहेंगी, वैदिक प्रतिबद्धता प्रथमतः हो रही है.. अब शुभ और लाभ दोनों ही मिलेंगे इस राष्ट्र को

पोस्ट का अर्काइव यहां देखें 

सोर्स : स्क्रीनशॉट/ट्विटर

यही दावा करते अन्य पोस्ट्स के अर्काइव आप यहां, यहां, यहां और यहां देख सकते हैं.

ADVERTISEMENT

पड़ताल मे ंहमने क्या पाया 

Google Lense के जरिए इस फोटो का सोर्स सर्च करने पर हमें यही फोटो प्रभात खबर की 29 फरवरी, 2020 की रिपोर्ट में मिली. इससे साफ हुआ कि फोटो कम से कम 3 साल पुरानी है और इसका 2022 में द्रौपदी मुर्मू के राष्ट्रपति बनने से कोई संबंध नहीं है.

प्रभात खबर की रिपोर्ट में लिखा है कि देश के प्रथम नागरिक राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देवघर में बाबा वैद्यनाथ मंदिर में पूजा-अर्चना कर देश की सुख-समृद्धि की कामना की.

साल 2020 की है ये फोटो

फोटो : स्क्रीनशॉट/प्रभात खबर

ADVERTISEMENT

अब प्रभात खबर की रिपोर्ट से अंदाजा लेकर हमने रामनाथ कोविंद के फरवरी 2020 के रांची दौरे से जुड़ी और रिपोर्ट्स सर्च करनी शुरू कीं. हिंदी अखबार पत्रिका की 29 फरवरी 2020 की रिपोर्ट में भी पूजा पाठ करते उस वक्त के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उस वक्त की झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू की फोटो मिली, जो कि अब देश कि राष्ट्रपति हैं. दैनिक भास्कर पर भी रामनाथ कोविंद के देवघर दौरे की रिपोर्ट और पूजा-पाठ की तस्वीरें हैं.

ADVERTISEMENT

लाइव हिंदुस्तान वेबसाइट पर इस पूजा-अर्चना के बाद का वीडियो भी मिला, जिसमें रामनाथ कोविंद और द्रौपदी मुर्मू मंदिर के बाहर इकट्ठा हुई जनता का अभिवादन करते दिख रहे हैं. देवघर जिला प्रसासन की तरफ से भी पूजा- अर्चना करते रामनाथ कोविंद का वीडियो ट्वीट किया गया था.

ADVERTISEMENT

द्रौपदी मुर्मू के राष्ट्रपति बनने से पहले उनके पूजा अर्चना में शामिल होने के कई हाल के वीडियो भी सामने आए थे, जिनको लेकर सवाल भी उठाए गए थे कि क्या उनका शुद्धिकरण किया गया? हालांकि क्विंट ऐसे किसी दावे की पुष्टि नहीं करता है. लेकिन, रामनाथ कोविंद के साथ उनकी हाल की बताई जा रही वायरल फोटो 2 साल पुरानी है. ये दावा गलत है कि पूर्व राष्ट्रपति कोविंद ने यज्ञ करके द्रौपदी मुर्मू को अपना पद सौंपा.

ADVERTISEMENT

(अगर आपके पास भी ऐसी कोई जानकारी आती है, जिसके सच होने पर आपको शक है, तो पड़ताल के लिए हमारे वॉट्सऐप नंबर 9643651818 या फिर मेल आइडी webqoof@thequint.com पर भेजें. सच हम आपको बताएंगे. हमारी बाकी फैक्ट चेक स्टोरीज आप यहां पढ़ सकते हैं)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी पर लेटेस्ट न्यूज और ब्रेकिंग न्यूज़ पढ़ें, news और webqoof के लिए ब्राउज़ करें

टॉपिक:  Ramnath Kovind   Draupadi Murmu 

ADVERTISEMENT
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×