ADVERTISEMENTREMOVE AD

Fact Check: फरमानी नाज ने नहीं कहा- 'हिंदू धर्म में शामिल हो जाऊंगी',फेक है दावा

फरमानी नाज ने खुद अपने ट्विटर हैंडल पर वीडियो डालकर इस दावे को गलत बताया है.

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुजफ्फरनगर की रहने वाली इंडियन आइडल फेम फरमानी नाज (Farmani Naaz) का गाए एक गीत 'हर हर शंभू महादेवा' के मशहूर होते ही कथित तौर पर देवबंद से जुड़े एक मौलाना ने फरमानी के गाने को गैर इस्लामिक बताते हुए उन्हें तौबा(प्रायश्चित) करने की सलाह दे डाली.

ऐसे में फरमानी नाज के नाम पर एक मैसेज सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा. जिसमें उनके हवाले से लिखा गया कि उन्होंने कहा है कि उनके पूर्वज हिंदू थे और वो भी हिंदू धर्म अपना लेंगी.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

हालांकि, पड़ताल में हमने पाया कि वायरल दावा सही नहीं है. इस दावे को सही साबित करने वाली कोई न्यूज रिपोर्ट नहीं है. इसके अलावा, फरमानी ने भी अपनी ओरिजिनल ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो पोस्ट करके इसे फर्जी बताया है.

0

दावा

@FarmaniNaaaz नाम के एक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर लिखा गया, ''मेरे पूर्वज पहले हिंदू थे,, इसीलिए मैंने “हर हर शंभू” भजन गाया,, जल्द ही हिंदू धर्म में शामिल हो जाऊंगी!''

फरमानी नाज ने खुद अपने ट्विटर हैंडल पर वीडियो डालकर इस दावे को गलत बताया है.

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

स्टोरी लिखे जाने तक इस ट्वीट को 8,000 से ज्यादा रिट्वीट और करीब 48,000 लाइक्स मिल चुके हैं.

सोशल मीडिया पर कई लोगों ने इस दावे को शेयर किया है. इनमें से कुछ के आर्काइव आप यहां, यहां और यहां देख सकते हैं.

ADVERTISEMENT

पड़ताल में हमने क्या पाया

हमने '@FarmaniNaazz' ट्विटर हैंडल को चेक किया और पाया कि इसके बायो में लिखा हुआ है कि ये एक 'फैन पेज' है.

फरमानी नाज ने खुद अपने ट्विटर हैंडल पर वीडियो डालकर इस दावे को गलत बताया है.

@FarmaniNaaz का ट्विटर अकाउंट

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

हमने अकाउंट से किए गए 'हिंदू पूर्वजों' वाले ट्वीट के कमेंट चेक किए. हमें सिंगर नाज के असली अकाउंट '@farmaninaaz786' की ओर से अपलोड किया गया एक वीडियो मिला.

इस वीडियो में नाज ने स्पष्ट किया है कि उनके नाम से बने फर्जी अकाउंट से ट्वीट कर ये कहा गया है कि मैंने हिंदू धर्म अपनाने की बात की है और मेरे पूर्वज हिंदू थे, जबकि मैंने ऐसा कुछ भी नहीं कहा.

इस दावे को झूठा बताते हुए उन्होंने अपील की कि ऐसी फेक जानकारी पोस्ट करने वालों को रिपोर्ट कीजिए और उनसे सवाल कीजिए कि ऐसी झूठी बातें किसी के बारे में बिना सोचे-समझे नहीं लिखना चाहिए. वो आगे कहती हैं कि बहुत से लोग मेरे नाम से ऐसे फर्जी अकाउंट बनाकर गलत कमेंट कर रहे हैं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD
नाज ने आगे अपनी ओरिजिनल ट्विटर आईडी '@Farminanaaz786' भी बताई और कहा कि आप मेरे अकाउंट में जाकर देख सकते हैं कि मैंने ऐसा कुछ भी नहीं कहा. उन्होंने कहा कि वो अपने धर्म से खुश हैं.

हमने दावे से जुड़ी न्यूज रिपोर्ट्स भी चेक कीं ताकि पता कर सकें कि क्या फरमानी ने ऐसा कुछ बोला है. लेकिन हमें ऐसी कोई रिपोर्ट नहीं मिली.

मतलब साफ है कि फरमानी नाज के नाम से बने एक फर्जी ट्विटर अकाउंट से ये झूठा दावा किया गया कि उन्होंने धर्म अपनाने की बात की है.

(अगर आपके पास भी ऐसी कोई जानकारी आती है, जिसके सच होने पर आपको शक है, तो पड़ताल के लिए हमारे वॉट्सऐप नंबर 9643651818 या फिर मेल आइडी webqoof@thequint.com पर भेजें. सच हम आपको बताएंगे. हमारी बाकी फैक्ट चेक स्टोरीज आप यहां पढ़ सकते हैं)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×