ADVERTISEMENT

Commonwealth Games 2022: हिमा दास ने बर्मिंघम में नहीं जीता गोल्ड, झूठा है दावा

इस पुराने वीडियो को हाल के वीडियो की तरह शेयर कर संबित पात्रा और वीरेंद्र सहवाग ने भी हिमा दास को बधाई दी थी.

Published
Commonwealth Games 2022: हिमा दास ने बर्मिंघम में नहीं जीता गोल्ड, झूठा है दावा
i

सोशल मीडिया पर 2:20 मिनट का एक वीडियो इस दावे के साथ कई लोगों ने शेयर किया है कि इंडियन एथलीट हिमा दास (Hima Das) ने 28 जुलाई से शुरू होकर 8 अगस्त तक चलने वाले बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स (CWG) 2022 में गोल्ड मेडल जीता है.

वीरेंद्र सहवाग (Virendra Sehwag) और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेशनल स्पोक्सपर्सन संबित पात्रा (Sambit Patra) ने भी हिमा को ''गोल्ड मेडल'' जीतने पर बधाई दी. हालांकि, बाद में ये बधाई वाले ट्वीट्स डिलीट कर लिए गए.

ADVERTISEMENT
हमने पाया कि वायरल वीडियो 2018 का है. तब हिमा ने फिनलैंड के टेंपेयर में IAAF वर्ल्ड अंडर -20 एथलेटिक्स चैंपियनशिप में महिलाओं की 400 मीटर फाइनल रेस में शीर्ष स्थान हासिल करके इतिहास रचा था.

दिलचस्प बात ये भी है कि सहवान ने 2018 में भी उन्हें इस ऐतिहासिक उपलब्धि के लिए ट्वीट कर बधाई दी थी.

इसके अलावा ट्रैक एंड फील्ड इवेंट, जिसमें हिमा दास ने हिस्सा लिया है. वो अभी शुरू भी नहीं हुआ.

ADVERTISEMENT

दावा

Pegasus नाम के एक यूजर ने 30 जुलाई को ट्विटर पर वीडियो को इस कैप्शन के साथ शेयर किया, "हिमा दास ने बर्मिंघम CWG में 400 मीटर गोल्ड जीता."

स्टोरी लिखे जाने तक वीडियो को 1.5 मिलियन से ज्यादा व्यूज मिल चुके हैं.

पोस्ट का आर्काइव देखने क लिए यहां क्लिक करें

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

सहवाग ने भी ट्वीट कर लिखा, ''क्या जीत है! इंडियन एथलीट पूरी तरह आ चुके हैं. कॉमनवेल्थ गेम्स में 400 मीटर में गोल्ड मेडल जीतने पर हिमा दास को बहुत-बहुत बधाई. फक्र है. (आर्काइव यहां देखें)

बाद में उन्होंने ट्वीट डिलीट कर लिया.

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

फेसबुक और ट्विटर पर किए गए ऐसे ही दावों के आर्काइव यहां, यहां, यहां और यहां देखे जा सकते हैं.

ADVERTISEMENT

पड़ताल में हमने क्या पाया

वीडियो वेरिफिकेशन टूल InVID का इस्तेमाल कर हमने वीडियो को कई कीफ्रेम में बांटा और उनमें से कुछ पर रिवर्स इमेज सर्च किया.

कीवर्ड का इस्तेमाल कर रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें Financial Express पर 13 जुलाई 2018 को पब्लिश एक आर्टिकल मिला. इसमें इस्तेमाल की गई तस्वीर में हिमा दास को उसी ड्रेस में देखा जा सकता है जो उन्होंने वायरल वीडियो में पहन रखा है.

आर्टिकल में बताया गया है कि हिमा दास ने फिनलैंड के टेंपेयर में IAAF वर्ल्ड अंडर -20 एथलेटिक्स चैंपियनशिप में महिलाओं की 400 मीटर फाइनल रेस में शीर्ष स्थान हासिल किया. वो विश्वस्तर पर गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली इंडियन महिला एथलीट बनीं और उन्होंने इतिहास रच दिया.

हिमा ने 51.46 सेकेंड में दौड़ पूरी कर गोल्ड जीता था.

ADVERTISEMENT

हमें भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (AFI) के फेसबुक पेज पर 13 जुलाई 2018 को पोस्ट किया गया वीडियो भी मिला

वीडियो का टाइटल था, 'देखिए: हिमा की ऐतिहासिक रेस-नई 400 मीटर वर्ल्ड जूनियर चैंपियन.' इस वीडियो को 66 लाख से ज्यादा व्यूज मिल चुके हैं.

नीचे आप 2018 के वीडियो और वायरल वीडियो के बीच तुलना भी देख सकते हैं.

बाएं वायरल वीडियो, दाए AFI वीडियो

(फोटो: Altered by The Quint)

मतलब साफ है 2018 का वीडियो सोशल मीडिया पर इस झूठे दावे से शेयर किया जा रहा है कि हिमा दास ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में गोल्ड मेडल जीता.

(अगर आपके पास भी ऐसी कोई जानकारी आती है, जिसके सच होने पर आपको शक है, तो पड़ताल के लिए हमारे वॉट्सऐप नंबर 9643651818 या फिर मेल आइडी webqoof@thequint.com पर भेजें. सच हम आपको बताएंगे. हमारी बाकी फैक्ट चेक स्टोरीज आप यहां पढ़ सकते हैं)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी पर लेटेस्ट न्यूज और ब्रेकिंग न्यूज़ पढ़ें, news और webqoof के लिए ब्राउज़ करें

टॉपिक:  वेबकूफ   Webqoof   Hima Das 

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×