ADVERTISEMENT

बढ़ते कोरोना केस की वजह से कर्नाटक में फिर लॉकडाउन?झूठा है ये दावा

पीएम मोदी के साथ मीटिंग के बाद बीएस येदियुरप्पा ने राज्य में किसी भी तरह के लॉकडाउन या कर्फ्यू से इनकार किया है.

Published
एक साल पहले का वीडियो हाल का बताकर शेयर
i

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा का मार्च 2020 का वीडियो हाल का बताकर शेयर किया जा रहा है. इसमें वो कोरोना महामारी की शुरुआत में लॉकडाउन की घोषणा करते हुए दिख रहे हैं.

17 मार्च को पीएम मोदी और अन्य मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक के बाद बढ़ते कोविड मामलों को देखते हुए बीएस येदियुरप्पा ने एक और लॉकडाउन या कर्फ्यू से इनकार किया है.

दावा

कई सोशल मीडिया यूजर्स ने वीडियो को इस कैप्शन के साथ शेयर किया है, ''राज्य में एक सप्ताह के लिए कोरोना आपातकाल. मॉल, सिनेमा और पब बंद कर दिए गए हैं.

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://perma.cc/BCB2-GZ5R">यहां </a>क्लिक करें
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
(फोटो: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)

ये वीडियो यूट्यूब पर भी शेयर किया गया है.

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://perma.cc/VEG2-KYYG">यहां</a> क्लिक करें
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
(फोटो: स्क्रीनशॉट/यूट्यूब)

क्विंट की Whatsapp टिपलाइन में इस वीडियो से जुड़ी एक क्वेरी भी आई.

पड़ताल में हमने क्या पाया

हमें यूट्यूब पर 13 मार्च 2020 को अपलोड किया गया स्थानीय न्यूज चैनल NewsFirst Kannada का ओरिजिनल वीडियो मिला. इस वीडियो पर वही लोगो लगा है जो वायरल वीडियो में दिख रहा है.

ये वीडियो मार्च 2020 का है
ये वीडियो मार्च 2020 का है
(फोटो: स्क्रीनशॉट/यूट्यूब)

मुख्यमंत्री ने मार्च 2020 में कोरोनावायरस की वजह से कलबुर्गी के एक बुजुर्ग की मौत के बाद, एक सप्ताह के लिए लॉकडाउन की घोषणा की थी. सभी यूनिवर्सिटी, कॉलेज, मॉल, पब, सिनेमा हॉल और नाइट क्लब बंद कर दिए गए थे.

इसके अलावा, उपमुख्यमंत्री डॉ. अश्वथ नारायण सीएन ने भी ट्विटर पर इस बात की पुष्टि कीहै कि वायरल हो रहा वीडियो एक साल पहले हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस का है.

डॉ. अश्वथ नारायण सीएन का ट्वीट
डॉ. अश्वथ नारायण सीएन का ट्वीट
(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

हमने राज्य के स्वास्थ्य विभाग से भी बात की. उन्होंने भी कन्फर्म किया कि इस तरह का फैसला नहीं लिया गया है.

बुधवार, 17 मार्च को पीएम मोदी ने सभी राज्यों और केंद्रशासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल मीटिंग की थी. उन्होंने कहा था कि कोविड-19 की दूसरी बढ़ती हुई वेव को तुरंत रोकना होगा.

मीटिंग के बाद हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में येदियुरप्पा ने कहा कि राज्य में कोई लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा. उन्होंने लोगों से कोविड-19 से जुड़े दिशा-निर्देशों के पालन का अनुरोध भी किया. The Times of India की रिपोर्ट के मुताबिक कोविड के बढ़ते मामलों से निपटने के लिए राज्य में टेस्टिंग और टीकाकरण अभियान में तेजी लाई जाएगी.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT