ADVERTISEMENTREMOVE AD

PM मोदी ने चुनावी भाषणों में एक नहीं, कई बार बोला 'हिंदू - मुसलमान'

न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में प्रधानमंत्री ने दावा किया कि उन्होंने अपने भाषण में 'हिंदू या मुसलमान' नहीं कहा

Published
छोटा
मध्यम
बड़ा
ADVERTISEMENTREMOVE AD

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने News 18 को दिए इंटरव्यू में दावा किया कि उन्होंने अपने भाषण में हिंदू या मुसलमान शब्द का इस्तेमाल नहीं किया. क्विंट हिंदी की फैक्ट चेकिंग टीम 'वेबकूफ' ने पीएम के इस दावे की पड़ताल की है.

क्या पीएम का दावा सच है ? : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने हालिया भाषणों में कई बार हिंदू और मुसलमान शब्द का इस्तेमाल किया है. हमने प्रधानमंत्री के पिछले एक हफ्ते के भाषण ही सुने तो उनमें हमें 5 बार हिंदू - मुसलमान शब्द का इस्तेमाल मिला.

यही नहीं, बीजेपी के ऑफिशियल सोशल मीडिया हैंडल्स से लोकसभा चुनाव 2024 की वोटिंग शुरू होने के बाद यानी 19 अप्रैल 2024 के बाद कई बार हिंदू - मुसलमान शब्द का इस्तेमाल किया गया है.

जिस दिन प्रधानमंत्री ने ये दावा किया कि वो हिंदू मुस्लिम नहीं करते, उसके अगले ही दिन 15 मार्च को महाराष्ट्र में दिए एक भाषण में उन्होंने कांग्रेस पार्टी पर ये आरोप लगाया कि वो 15% बजट मुसलमानों पर खर्च करना चाहती है.

0

पीएम ने क्या कहा ? : न्यूज चैनल News 18 को दिए इंटरव्यू में एंकर रूबिका लियाकत पीएम मोदी से सवाल करती हैं ''स्टेज पर आपने जब मुसलमानों का जिक्र किया तो घुसपैठिया, ज्यादा बच्चे पैदा करने वाला, इसकी क्या जरूरत आन पड़ी ? '' इस सवाल के जवाब में पीएम मोदी ने कहा

मैं हैरान हूं जी. जब ज्यादा बच्चों की बात होती है तो सिर्फ मुसलमानों की बात जोड़ देते हैं. क्यों मुसलमानों के साथ अन्याय करते हैं आप ? उनके बच्चों को पढ़ा नहीं पा रहे हैं. किसी भी समाज के हों. गरीबी जहां है वहां बच्चे भी ज्यादा हैं.

इसके बाद एंकर सवाल करती हैं कि ''आप कह रहे हैं मुसलमान अलग था, ज्यादा बच्चे पैदा करने वाली बात अलग?''. तब पीएम कहते हैं. ''मैंने ना हिंदू कहा है ना मुसलमान कहा है, मैंने कहा है कि इतने बच्चे हों जिसका आप लालन पालन कर सकें. सरकार को करना पड़े ऐसी स्थिति मत करो.''

18:05 मिनट पर प्रधानमंत्री कहते हैं ''मैं जिस दिन हिंदू - मुसलमान करूंगा, मैं सार्वजनिक जीवन में रहने योग्य नहीं रहूंगा.''

सबसे पहले प्रधानमंत्री के उन हालिया भाषणों पर नजर डालते हैं, जिसमें वो हिंदू या मुसलमान कहते दिख रहे हैं.
ADVERTISEMENTREMOVE AD

महाराष्ट्र के डिंडोरी में (15 मई 2024)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महाराष्ट्र के डिंडोरी में दिए इस भाषण में 13:25 मिनट के बाद प्रधानमंत्री कहते हैं ''कांग्रेस उस समय चाहती थी कि देश के बजट का 15% सिर्फ मुसलमानों पर खर्च हो.''

ADVERTISEMENTREMOVE AD

बिहार के हाजीपुर में (13 मई 2024)

अपने भाषण में 9:25 मिनट पर प्रधानमंत्री कहते हैं,

आरजेडी-कांग्रेस की प्राथमिकता, आप लोग नहीं, बल्कि उनका अपना वोट बैंक है. अभी आपने सुना होगा, बिहार में जंगलराज लाने वाले जो व्यक्ति हैं, जो चारा घोटाले में अदालत ने सजा की हुई है, गुनहगार माना है. उन्होंने कहा कि मुसलमानों को आरक्षण दिया जाना चाहिए, वो भी पूरा का पूरा. यानि दलितों-पिछड़ों-आदिवासियों को मिलने वाला पूरा आरक्षण. ये अब सिर्फ मुसलमानों को देना चाहते हैं.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
ADVERTISEMENTREMOVE AD

बिहार के सारण में (13 मई 2024)

अपने भाषण में 23 : 59 मिनट के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इंडिया गठबंधन पर पिछड़ों का आरक्षण छीनकर मुसलमानों को देने का आरोप लगाते हुए कहते हैं.

इसी मुद्दे पर मैंने कांग्रेस को भी चुनौती दी थी. मैंने कहा था, कांग्रेस लिखकर दे कि वो देश में SC, ST, OBC का आरक्षण मुस्लिमों में नहीं बांटेंगे. वो धर्म के आधार पर आरक्षण नहीं लगाएंगे. आज तीन हफ्ता हो गया. कांग्रेस और उसके साथियों के मुंह पर ताला लगा हुआ है. RJD वाले भी इधर-उधर की बातें कर रहे हैं, लेकिन कांग्रेस के वादों-इरादों को खारिज नहीं कर रहे. इसलिए मैं आज बिहार के हर पिछड़े, हर दलित, हर आदिवासी को गारंटी देता हूं, ये जंगलराज वाले, कांग्रेस वाले चाहें जितनी कोशिश कर लें, मोदी दलितों, पिछड़ों के आरक्षण की लूट नहीं होने देगा.
ADVERTISEMENTREMOVE AD

पश्चिम बंगाल के हावड़ा में (12 मई, 2024)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने इस भाषण में 19:53 मिनट पर कहा

TMC के MLA खुलेआम हिंदुओं को धमकी देते हैं. वो कहते हैं कि यहां हिन्दू कम बचे हैं, हम हिंदुओं को भागीरथी में डुबो देंगे. TMC उसका भी बचाव करती है, उसे सही ठहराती है. तुष्टीकरण का ऐसा खुला खेल, इतना अमानवीय चेहरा.
ADVERTISEMENTREMOVE AD

पश्चिम बंगाल के बैरकपुर में (12 मई 2024)

इस भाषण में 11: 17 मिनट के बाद प्रधानमंत्री आरोप लगाते हैं कि पश्चिम बंगाल में हिंदुओं को दोयम दर्जे का नागरिक बना दिया गया है. आगे विपक्ष पर ये भी आरोप लगाते हैं कि वो पिछड़े समुदायों का आरक्षण मुसलमानों को देंगे. पीएम ने कहा

इन लोगों ने बंगाल में हिंदुओं को दोयम दर्जे का नागरिक बना कर रख दिया है. साथियों, तुष्टिकरण की जिद में अब इंडी अलायंस, SC-ST-OBC को मिलने वाला आरक्षण भी छीनना चाहता है. ये लोग कह रहे हैं कि ये आरक्षण अब मुसलमानों को दिया जाए. और वो भी आधा-अधूरा नहीं, थोड़ा सा नहीं, पूरा का पूरा आरक्षण मुसलमानों को दिया जाए. क्या आपको ये बात मंजूर है? क्या आप इसे स्वीकार करेंगे?
ADVERTISEMENTREMOVE AD

महाराष्ट्र के नांदुरबार में (10 मई 2024)

इस भाषण में 28 : 30 मिनट पर पीएम मोदी कहते हैं, ''कर्नाटका में रातों रात जितने भी मुसलमान लोग हैं, उन सबको रातों रात ओबीसी बना दिया, एक ऑर्डर निकाल दिया. मुख्यमंत्री ने ठप्पा मार दिया. जो OBC को आऱक्षण मिलता है, उसका सबसे बड़ा हिस्सा जो रातों रात ओबीसी बन गए, उन्होंने लूट लिया.'' 

ADVERTISEMENTREMOVE AD

बीजेपी के ऑफिशियल सोशल मीडिया हैंडल पर हिंदू - मुसलमान शब्द

हमने भारतीय जनता पार्टी के सोशल मीडिया हैंडल्स चेक किए, तो इनसे किए गए पोस्ट में भी कई बार हिंदू और मुसलमान शब्द का इस्तेमाल किया गया है. ज्यादातर बार प्रधानमंत्री के भाषण शेयर करते हुए ही हिंदू और मुसलमान शब्द इन पोस्ट्स में इस्तेमाल हुए हैं. एक - एक कर देखिए.

बीजेपी (@BJP4India)

  • JP नड्डा का भाषण शेयर करते हुए मुस्लिम शब्द का इस्तेमाल

    सोर्स : स्क्रीनशॉट/X/BJP

ADVERTISEMENTREMOVE AD

बीजेपी उत्तरप्रदेश (@BJP4UP)

  • 5 मई 2024 के पोस्ट में हिंदू शब्द 

    सोर्स : स्क्रीनशॉट/X/BJP Uttar pradesh

ADVERTISEMENTREMOVE AD

बीजेपी कर्नाटक (@BJP4Karnataka)

  • बीजेपी कर्नाटक के पोस्ट में हिंदू शब्द का इस्तेमाल

    सोर्स : स्क्रीनशॉट/X/बीजेपी कर्नाटक

ADVERTISEMENTREMOVE AD

बीजेपी महाराष्ट्र @BJP4Maharashtra

  • CM योगी का भाषण शेयर करते हुए हिंदी शब्द का इस्तेमाल

    सोर्स : स्क्रीनशॉट/बीजेपी महाराष्ट्र

ADVERTISEMENTREMOVE AD

(इस दावे को लेकर हमने प्रधानमंत्री कार्यालय के अधिकारियों से संपर्क किया है, जवाब आने पर इस रिपोर्ट को अपडेट किया जाएगा)

निष्कर्ष : मतलब साफ है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ये दावा सच नहीं है कि उन्होंने अपने भाषणों में हिंदू और मुसलमान नहीं कहा है.

(अगर आपके पास भी ऐसी कोई जानकारी आती है, जिसके सच होने पर आपको शक है, तो पड़ताल के लिए हमारे वॉट्सऐप नंबर  9540511818 या फिर मेल आइडी webqoof@thequint.com पर भेजें. सच हम आपको बताएंगे. हमारी बाकी फैक्ट चेक स्टोरीज आप यहां पढ़ सकते हैं.)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×