ममता ने नहीं कहा- 42 सीटें जीतने पर हिंदुओं को रुला दूंगी

एक साल पुरानी अखबार की क्लिप को एडिट कर गलत नैरेटिव सेट करने के लिए शेयर किया जा रहा है

Published
वायरल क्लिप में ममता बनर्जी का बताया जा रहा एक कथित हिंदू विरोधी बयान दिख रहा है
i

बंगाली भाषा के अखबार Bartaman की एक क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. क्लिप में ममता बनर्जी का बताया जा रहा एक कथित हिंदू विरोधी बयान दिख रहा है.  यही फोटो साल 2019 में भी शेयर की गई थी. अब पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के बीच इसे दोबारा शेयर किया जा रहा है.

हमारी पड़ताल में सामने आया कि ये क्लिप एडिटेड है. असली क्लिप में आर्टिकल 20 अप्रैल, 2019 को पब्लिश किया गया था. असली आर्टिकल की हेडलाइन वायरल क्लिप से बिल्कुल अलग है.

दावा

न्यूज पेपर की हेडलाइन में लिखा है - हमें 42 सीटें दीजिए, हम दिखाएंगे कि हिंदुओं को कैसे रुलाना है (हिंदी अनुवाद)

फोटो फेसबुक और ट्विटर पर शेयर की जा रही है. द क्विंट वॉट्सएप फैक्ट चेकिंग टिपलाइन पर भी हमें ये मैसेज मिला.

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://perma.cc/LS74-NGU7">यहां </a>क्लिक करें
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
सोर्स : स्क्रीनशॉट/फेसबुक

इसी दावे के अन्य फेसबुक पोस्ट के अर्काइव यहां और यहां देखे जा सकते हैं. ट्विटर पर यही क्लिप 2019 में भी शेयर हुई थी. 2 साल पुरानी पोस्ट का अर्काइव यहां और यहां देखा जा सकता है.

पड़ताल में हमने क्या पाया

वायरल फोटो को गूगल पर रिवर्स सर्च करने से हमें एक फेसबुक पोस्ट मिली. जिसमें इसी क्लिप में दूसरी हेडलाइन है. बांग्ला की इस हेडलाइन का हिंदी अनुवाद है - हमें 42 सीटें दीजिए और हम आपको दिखाएंगे दिल्ली को कैसे हिलाना है.

हेडलाइन के जरिए हमें Bartaman पत्रिका की वेबसाइट पर असली आर्टिकल मिला.

ऊपर - वायरल हो रही क्लिप की हेडलाइन, नीचे- असली खबर की हेडलाइन
ऊपर - वायरल हो रही क्लिप की हेडलाइन, नीचे- असली खबर की हेडलाइन
सोर्स : Altered by Quint

वायरल फोटो से बंगाली भाषा में लिखे (দিল্লী) को हटाकर Hindu (হিন্দু) जोड़ दिया गया. इसी तरह ''दिल्ली को हिलाने'' (কাঁপাতে) की जगह 'रुलाने' शब्द जोड़ दिया गया.

ममता बनर्जी ने ये बयान अप्रैल 2019 में टीएमसी कैंडिडेट अपूर्बा सरकार के लिए प्रचार करते वक्त दिया था.

मतलब साफ है कि 2019 की खबर की क्लिप को एडिट कर सोशल मीडिया पर ये गलत नैरेटिव सेट करने के लिए शेयर किया जा रहा है कि ममता बनर्जी ने हिंदू-विरोधी बयान दिया.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!