ADVERTISEMENTREMOVE AD

मुख्तार अब्बास नकवी के बारे में फैला रहे भ्रम, नहीं अपनाया हिंदू धर्म

वीडियो असल में एक धार्मिक कार्यक्रम के लिए मुख्तार अब्बास नकवी को आमंत्रित करते स्वामी स्वात्मानन्देंद्र का है

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

सोशल मीडिया पर केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi) का एक वीडियो शेयर कर ये दावा किया जा रहा है कि उन्होंने हिंदू धर्म अपना लिया है. वीडियो में नकवी को मंत्रोच्चारण के बीच कुछ साधू-संत शॉल पहनाते दिख रहे हैं. असल में वीडियो तब का है जब नकवी को स्वामी स्वात्मानन्देंद्र ने एक धार्मिक महोत्सव लिए आमंत्रित किया था. खुद मुख्तार अब्बास नकवी ने क्विंट की वेबकूफ टीम को इमेल पर दिए जवाब में सोशल मीडिया पर किए जा रहे दावों को सिरे से खारिज कर दिया.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

दावा

वीडियो के साथ शेयर किया जा रहा कैप्शन है : मुख्तार अब्बास नकवी ने अपना धर्म बदल लिया

वीडियो असल में एक धार्मिक कार्यक्रम के लिए मुख्तार अब्बास नकवी को आमंत्रित करते स्वामी स्वात्मानन्देंद्र का है

पोस्ट का अर्काइव यहां देखें 

सोर्स : स्क्रीनशॉट/ट्विटर

वीडियो ट्विटर के साथ फेसबुक पर भी वायरल है. यहां, और यहां देख सकते हैं.

0

पड़ताल में हमने क्या पाया 

वायरल वीडियो को की-फ्रेम्स में बांटकर रिवर्स सर्च करने से हमें मुख्तार अब्बास नकवी के वेरिफाइड फेसबुक अकाउंट से किया गया पोस्ट मिला, जिसमें यही वीडियो शेयर किया गया था.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

नकवी के पोस्ट से पता चलता है कि ये वीडियो उस वक्त का है जब स्वामी स्वात्मानन्देंद्र सरस्वती ने उन्हें 'शारदा स्वरुप राजश्यामला सरन्नावरात्रि महोत्सव' के लिए आमंत्रित किया था. इस पोस्ट में ऐसा कुछ भी नहीं लिखा है जिससे पुष्टि होती हो कि नकवी ने धर्म परिवर्तन किया है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

नकवी के पोस्ट से क्लू मिलने के बाद वीडियो को ध्यान से देखने पर ये स्पष्ट भी होता है कि स्वामी स्वात्मानन्देन्द्र सरस्वती ने मंत्रोच्चारण के बाद शॉल और श्रीफल दिया और फिर उन्हें आमंत्रण पत्र (Invitation) दिया.

मुख्तार अब्बास नकवी ने आमंत्रण लेते हुए तस्वीर भी अपनी फेसबुक पोस्ट पर शेयर की थी. स

वीडियो असल में एक धार्मिक कार्यक्रम के लिए मुख्तार अब्बास नकवी को आमंत्रित करते स्वामी स्वात्मानन्देंद्र का है
ADVERTISEMENTREMOVE AD

सिर्फ मुख्तार अब्बास नकवी ही नहीं, स्वात्मनन्देंद्र सरस्वती की सितंबर माह की ही कई तस्वीरें 'विशाखा श्री शारदा पीठम' के वेबपेज पर उपलब्ध हैं, जिनमें वो नामचीन हस्तियों को महोत्सव के लिए आमंत्रित करते दिख रहे हैं.

इनमें DRDO के चेयरमैन सतीश रेड्डी, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, बीजेपी नेता और राज्यसभा सदस्य सुब्रमण्यम स्वामी शामिल हैं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

ऐसी कोई मीडिया रिपोर्ट हमें नहीं मिली, जिससे पुष्टि होती हो कि मुख्तार अब्बास नकवी ने हिंदू धर्म अपनाया. जाहिर है केंद्रीय मंत्री का धर्म परिवर्तन करना एक बड़ी खबर होती.

हमने इस दावे को लेकर प्रतिक्रिया के लिए केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी से संपर्क किया. क्विंट की वेबकूफ टीम को मेल पर दिए जवाब में उन्होंने सोशल मीडिया पर किए जा रहे दावों को सिरे से खारिज कर दिया.

21 सितंबर, 2021 के दिन श्री श्री श्री स्वात्मनन्देंद्र सरस्वती महास्वामी नई दिल्ली स्थित अंत्योदय भवन के मेरे ऑफिस में आए थे. उन्होंने मुझे 'श्री शारदा स्वरूपा राजश्यामला शरण नवरात्रि महोत्सव' के लिए आमंत्रित किया था, जो कि 7 से 15 अक्टूबर के बीच आयोजित होगा. इसी मौके के कुछ वीडियो और फोटो सोशल मीडिया पर गलत दावे से गलत इरादों के साथ शेयर किए जा रहे हैं.
मुख्तार अब्बास नकवी, केंद्रीय मंत्री
ADVERTISEMENTREMOVE AD

साफ है कि जिस वीडियो को शेयर कर ये दावा किया जा रहा है कि मुख्तार अब्बास नकवी ने हिंदू धर्म अपनाया. असल में वो धार्मिक कार्यक्रम के लिए नकवी को आमंत्रित करते स्वामी स्वात्मानन्देंद्र का है.

(केंद्रीय मंत्री का जवाब आने के बाद इस स्टोरी को अपडेट किया गया है)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×