ADVERTISEMENT

क्या नेहरू और इंदिरा गांधी ने खुद को दिया था भारत रत्न?

क्या नेहरू और इंदिरा गांधी ने खुद को दिया था भारत रत्न ? जानिए पूरी सच्चाई

Published
क्या नेहरू और इंदिरा गांधी ने खुद को दिया था भारत रत्न?
i

हाल ही में प्रधानंमत्री नरेंद्र मोदी को 'फिलिप कोटलर प्रेसिडेंशियल अवॉर्ड से सम्मानित किया गया. पीएम मोदी को यह अवॉर्ड देश को बेहतर नेतृत्व प्रदान करने के लिए दिया गया. पीएम मोदी को मिले इस अवॉर्ड पर तंज करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा, ''यह अवॉर्ड इतना प्रसिद्ध है कि इसकी कोई ज्यूरी नहीं है. इससे पहले यह अवॉर्ड किसी को नहीं दिया गया.”

ADVERTISEMENT

राहुल गांधी के इस ट्वीट के बाद टेक्सटाइल मिनिस्टर स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर कटाक्ष करते हुए सोशल साइट पर नेहरू और इंदिरा गांधी की तरफ इशारा करते हुए लिखा, “गांधी परिवार के लोगों ने अपने प्रधानमंत्री के कार्यकाल में खुद को ही भारत रत्न से सम्मानित किया था.”

क्या स्मृति ईरानी का दावा सच है?

भारत रत्न की स्थापना 2 जनवरी 1954 को हुई थी, जिसकी पूरी जानकारी गैजेट ऑफ इंडिया में पब्लिश हुई थी.

नियम के मुताबिक, भारत रत्न अवॉर्ड के लिए प्रधानमंत्री नामों का चुनाव कर राष्ट्रपति के पास भेजते हैं, उन नामों पर राष्ट्रपति की मुहर लगने के बाद ही इस अवॉर्ड की घोषणा की जाती है. नेहरू और इंदिरा ने खुद को यह अवॉर्ड दिया, इसका कोई तथ्य नहीं मिलता.

द वायर के एक आर्टिकल में स्वतंत्र स्कॉलर शारिक लालिवाला लिखते हैं कि खुद को भारत रत्न देने का कोई नियम नहीं है. किसी पीएम ने खुद को यह अवॉर्ड दिया है, ऑफिशियल गैजेट नोटिफिकेशन में ऐसा कहीं नहीं मिलता है. मरने के बाद भी किसी को भारत रत्न देने का प्रावधान है, लेकिन खुद को देने का नहीं.

किसने दिया नेहरू को भारत रत्न?

नेहरू ने कोल्ड वॉर के दौरान सोवियत यूनियन में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत की भूमिका को सफलतापूर्वक स्थापित किया था. नेहरू की इस सफलता पर राष्ट्रपति ने उनके लिए बैंकेट डिनर का आयोजन किया था. बाद में राजेंद्र प्रसाद ने उन्हें भारत रत्न देने की घोषणा की थी.

क्विंट से बात करते हुए सीनियर जर्नलिस्ट रशीद किदवई ने कहा:

“नेहरू के मामले में राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद ने खुद भारत रत्न देने का ऐलान किया था.’’ 

तथ्यों का हवाला देते हुए रशीद किदवई ने कहा कि तब राष्ट्रपति ने कहा था, ‘यह हमारा निर्णय है. मैं ये फैसला ले रहा हूं.’ उन्‍होंने कहा कि नेहरू ने खुद से अपना नाम अवॉर्ड के लिए घोष‍ित किया, ये सब बेबुनियाद बातें हैं.

ADVERTISEMENT

कब मिला इंदिरा को भारत रत्न?

इंदिरा गांधी को उनके प्रधानमंत्री कार्यकाल के दौरान 1971 में भारत रत्न से सम्मानित किया गया था. पूर्वी पाकिस्तान के मसले पर 14 दिनों तक पाकिस्तान से चली जंग में अहम भूमिका निभाने के लिए इंदिरा गांधी को भारत रत्न दिया गया था.

रशीद किदवई ने एबीपी न्यूज के एक लेख का हवाला देते हुए कहा कि उस वक्त के राष्ट्रपति वीवी गिरि‍ ने उन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया था.

अहम बात ये है कि नेहरू और इंदिरा, दोनों ने अपना कार्यकाल समाप्त होने के बाद भारत रत्न राष्ट्रपति को वापस कर दिया था.

इस तरह हमारी पड़ताल में नेहरू और इंदिरा गांधी का खुद को भारत रत्न देने का दावा झूठा निकला.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×