ADVERTISEMENT

Nupur Sharma की गिरफ्तारी नहीं, राजस्थान में किसानों के प्रदर्शन का है वीडियो

वायरल वीडियो राजस्थान का है. जहां चूरू जिले के तारानगर में धरने के दौरान किसानों और पुलिस में झड़प हो गई थी.

Published
Nupur Sharma की गिरफ्तारी नहीं, राजस्थान में किसानों के प्रदर्शन का है वीडियो
i

बीजेपी की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) की गिरफ्तारी का बताकर सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया जा रहा है. वीडियो में भीड़ के बीच से एक महिला को घसीटते पुलिसकर्मी दिख रहे हैं. बता दें कि नुपुर शर्मा की पैगंबर मोहम्मद (Prophet Muhammad) पर की गई आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद से देश के अलग-अलग हिस्सों में उनके खिलाफ विरोध प्रदर्शन हुए हैं. और उनकी गिरफ्तारी की मांग की गई है.

ADVERTISEMENT

हालांकि, पड़ताल में हमने पाया कि वीडियो नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी का नहीं है, बल्कि राजस्थान के चूरू जिले के तारानगर में हुए किसानों के प्रदर्शन का है. एसडीएम ऑफिस के सामने अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे किसानों की पुलिस के साथ झड़प भी हुई थी, ये वीडियो उसी वक्त का है. रिपोर्ट लिखे जाने तक नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी से जुड़ी कोई मीडिया रिपोर्ट नहीं आई है.

दावा

Singer Osama Deewana नाम के एक फेसबुक यूजर ने वीडियो शेयर कर लिखा, ''Nupur Sharma Arrested''

वीडियो की हाफ स्क्रीन में एक शख्स को ये बताते हुए भी सुना जा सकता है ये वही नूपुर शर्मा है जिसने मोहम्मद साहब को लेकर टिप्पणी की थी. फाइनली उन्हें पकड़ लिया गया है.

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)

रिपोर्ट लिखे जाने तक तक वीडियो को 38,000 से ज्यादा लाइक और 8 लाख 56 हजार से ज्यादा व्यू मिल चुके हैं. वीडियो को फेसबुक और ट्विटर पर कई यूजर्स ने शेयर किया है. इनमें से कुछ के आर्काइव आप यहां, यहां, यहां और यहां देख सकते हैं.

ADVERTISEMENT

पड़ताल में हमने क्या पाया

वीडियो को ध्यान से देखने पर इसमें मौजूद पुलिसकर्मियों की वर्दी में हमें पुलिस का लोगो दिखा. हमने राजस्थान पुलिस की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर फोटो गैलरी में एक पुलिस अधिकारी की तस्वीर को जूम किया. जूम करने के बाद वर्दी पर दिख रहे बिल्ले से वायरल वीडियो में दिख रही पुलिस की वर्दी से मिलाकर देखा. साफ हो रहा है कि दोनों एक ही हैं.

वायरल वीडियो में दिख रही वर्दी राजस्थान पुलिस की ही है 

फोटो : Altered by Quint

हमें Amar Ujala में 16 जून को छपी चूरू के तारानगर में किसानों के धरना प्रदर्शन से जुड़ी रिपोर्ट मिलीं. रिपोर्ट के मुताबिक, चूरू के तारागनर में बीमा क्लेम और क्रॉप कटिंग सहित अन्य मांगों को लेकर किसान पिछले 100 दिन से धरना दे रहे थे, जिसके बाद पुलिस और किसानों में झड़प हो गई.''

हमनें 16 जून 2022 को ही Patrika में पब्लिश एक वीडियो रिपोर्ट भी मिली. वीडियो का टाइटल था, ''तारानगर में पुलिस व किसान हुए आमने-सामने''. हमने स्टोरी में इस्तेमाल किए गए वीडियो और वायरल वीडियो के में तुलना की. दोनों ही वीडियोज में पुलिस कर्मी जिस महिला को पकड़कर ले जाती दिख रही हैं वो दिख रही है.

इसके अलावा महिला की एक तरफ गुलाबी रंग की साड़ी पहने महिला को दोनों वीडियोज में देखा जा सकता है. वर्दी में सिर पर गुलाबी रंग का कपड़ा डाले हुई महिला पुलिसकर्मी को भी दोनों वीडियोज में देखा जा सकता है.

वायरल वीडियो की पत्रिका की रिपोर्ट से तुलना

फोटो : Altered by Quint

दोनों तस्वीरों में एक जैसे एलीमेंट्स के लिए एक जैसे एरो (तीर का निशान) का इस्तेमाल किया गया है. दोनों तस्वीरों में एक जैसी ही गुलाबी साड़ी पहने महिला को देखा जा सकता है. साथ ही, मुंह में कपड़ा लपेटे पुलिसकर्मी और ऊपर लगे बैरिकेड्स भी देखे जा सकते हैं.

इसके अलावा, वो महिला भी दोनों ही वीडियो में दिख रही हैं, जो वायरल वीडियो में नूपुर शर्मा बताई जा रही हैं. दोनों में उन्होंने हल्के पीले रंग के कपड़े पहने हुए हैं.

ADVERTISEMENT

हमने वीडियो में दिख रही महिला के बारे में इस झड़प से जुड़ी और जानकारी के लिए फेसबुक पर कीवर्ड सर्च की मदद से सर्च किया. हमें वायरल वीडियो का ही एक लंबा वर्जन मिला, जिसे Vikash Kaswan नाम के एक फेसबुक यूजर ने 16 जून 2022 को अपलोड किया था. कैप्शन में, वीडियो में दिख रही महिला का नाम भूमि बिरमी बताया गया था.

हमने भूमि बिरमी के बारे में ज्यादा जानकारी सर्च करने के लिए फिर से गूगल पर कीवर्ड सर्च किया. हमें ABP News पर इस धरने से जुड़ी एक खबर मिली जिसमें संबोधन करने वालों में भूमि बिरमी के बारे में भी बताया गया था.

हमें फेसबुक पर भूमि बिरमी नाम से एक फेसबुक आईडी भी मिली, जिसमें 15 जून 2022 को इस घटना का वीडियो अपलोड किया गया था. फेसबुक प्रोफाइल से पता चलता है कि भूमि बिरमी भारतीय किसान यूनियन (BKU) की महिला मोर्चा की अध्यक्ष भी हैं.

हमने भूमि बिरमी से भी संपर्क किया है. उनका जवाब आते ही स्टोरी को अपडेट किया जाएगा.

मतलब साफ है कि वायरल वीडियो नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी का नहीं है. राजस्थान में चूरू जिले के तारानगर किसानों और पुलिस के बीच हुई झड़प का वीडियो नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी का बता गलत दावे से शेयर किया जा रहा है.

(अगर आपके पास भी ऐसी कोई जानकारी आती है, जिसके सच होने पर आपको शक है, तो पड़ताल के लिए हमारे वॉट्सऐप नंबर 9643651818 या फिर मेल आइडी webqoof@thequint.com पर भेजें. सच हम आपको बताएंगे. हमारी बाकी फैक्ट चेक स्टोरीज आप यहां पढ़ सकते हैं )

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×