ADVERTISEMENTREMOVE AD

राहुल गांधी ने हिंदुओं को 'हिंसक' नहीं कहा, अधूरा वीडियो वायरल

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने राहुल गांधी का जो 11 सेकेंड का क्लिप शेयर किया है, वो भ्रामक है.

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

संसद में विपक्ष के नेता राहुल गांधी का एक वीडियो इंटरनेट पर इस दावे के साथ शेयर किया जा रहा है कि उन्होंने पूरे हिंदू समुदाय के लोगों पर आपत्तिजनक टिप्पणी की है.

उन्होंने क्या कहा?: 11 सेकेंड की इस क्लिप में, राहुल गांधी को हिंदी में ये कहते सुना जा सकता है, "जो लोग अपने आप को हिंदू कहते हैं, वो चौबीस घंटा हिंसा, नफरत, असत्य की बात करते हैं."

ये वीडियो किसने शेयर किया?: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने ये वीडियो शेयर कर लिखा, "विपक्ष के नेता राहुल गांधी द्वारा खुद को हिंदू कहने वाले हर व्यक्ति को "हिंसक" कहना कांग्रेस का हिंदुओं के प्रति घृणा और नफरत को दर्शाता है. ये उनके इंडी गठबंधन की हिंदुओं के प्रति नफरत जैसा ही है. "मोहब्बत की दुकान" का दावा करने का पाखंड सामने आ गया है."

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने राहुल गांधी का जो 11 सेकेंड का क्लिप शेयर किया है, वो भ्रामक है.

इस पोस्ट का अर्काइव यहां देखा जा सकता है.

(सोर्स: X (पूर्व में ट्विटर)/स्क्रीनशॉट)

ADVERTISEMENTREMOVE AD

इस पोस्ट पर अब तक छह लाख से ज्यादा व्यूज आ चुके हैं. इसी तरह के दावे के दूसरे पोस्ट का आर्काइव यहां देख सकते हैं.

क्या है सच्चाई?: ये वीडियो अधूरा है. इस वीडियो के लंबे वर्जन में देखा जा सकता है कि राहुल गांधी अपने बयान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर निशाना साध रहे हैं.

हमनें सच का पता कैसा लगाया ?: हमें राहुल गांधी के भाषण का पूरा वर्जन संसद टीवी के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर मिला. ये 1 जुलाई को पब्लिश किया गया था.

  • वीडियो में राहुल गांधी बीजेपी सरकार की आलोचना करते दिख रहे हैं और उन्होंने आरोप लगाया कि पिछले 10 सालों से ये सरकार व्यवस्थित तरीके से संविधान को निशाना बना रही है.

  • इसके बाद उन्होंने भगवान शिव की एक तस्वीर के बारे में बात की और बताया कि कैसे उन्होंने (विपक्ष के साथ) डर का सामना करने और अहिंसा के बारे में सीखा.

  • इसके बाद गांधी ने अभयमुद्रा के बारे में बात की और कहा कि विकास का अगला कदम दूसरों को भयभीत न करना, दूसरों को निडर बनने में मदद करना और दूसरों को अहिंसक बनने में मदद करना है.

  • राहुल गांधी ने आगे कहा कि हमारे सभी धर्म साहस की बात करते हैं. उन्होंने कहा कि इस्लाम, सिख, ईसाई और जैन धर्म निडर होने की बात करते हैं और अभयमुद्रा को बढ़ावा देते हैं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

वीडियो में करीब 18:37 मिनट पर, राहुल गांधी कहते हैं,

भगवान शिव कहते हैं डरो मत, डराओ मत. अभयमुद्रा दिखाते हैं, अहिंसा की बात करते हैं, त्रिशूल को जमीन में गाड़ देते हैं. और जो लोग अपने आप को हिंदू कहते हैं, वो चौबीस घंटा हिंसा, नफरत और असत्य की बात करते हैं. आप हिंदू हो ही नहीं. हिंदू धर्म में साफ लिखा है, सत्य के साथ खड़ा होना चाहिए. सत्य से पीछे नहीं हटना चाहिए. सत्य से नहीं डरना चाहिए. अहिंसा हमारा प्रतीक है.
संसद में राहुल गांधी

इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राहुल गांधी के भाषण पर सवाल उठाते हुए कहा कि उन्हें पूरे समुदाय पर निशाना नहीं साधना चाहिए. पीएम मोदी ने कहा, "ये बहुत गंभीर मामला है. पूरे हिंदू समुदाय को हिंसक कह देना काफी गंभीर बात है.''

ADVERTISEMENTREMOVE AD

पीएम मोदी की इस बात पर राहुल गांधी ने जवाब में कहा, "बीजेपी को, आपको. नहीं नहीं नहीं, नरेंद्र मोदी जी पूरा हिंदु समुदाय नहीं हैं. बीजेपी और आरएसएस पूरा हिंदु समुदाय नहीं हैं."

द क्विंट ने अपने यूट्यूब चैनल पर पीएम मोदी और गांधी के बीच हुए विवाद का हिस्सा भी पब्लिश किया है. आप इसे नीचे देख सकते हैं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

निष्कर्ष: ये साफ है कि राहुल गांधी के भाषण का अधूरा हिस्सा ये झूठा दावा करने के लिए किया जा रहा है कि उन्होंने पूरे हिंदू समाज को हिंसक कहा.

(अगर आपक पास भी ऐसी कोई जानकारी आती है, जिसके सच होने पर आपको शक है, तो पड़ताल के लिए हमारे वॉट्सऐप नंबर  9540511818 या फिर मेल आइडी webqoof@thequint.com पर भेजें. सच हम आपको बताएंगे. हमारी बाकी फैक्ट चेक स्टोरीज आप यहां पढ़ सकते हैं.)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×