ADVERTISEMENTREMOVE AD

राहुल गांधी ने उदयपुर में कन्हैयालाल के हत्यारों पर नहीं दिया ये बयान

दावा है कि राहुल गांधी ने उदयपुर में कन्हैयालाल के हत्यारों को बच्चा कहा और उन्हें माफ कर छोड़ देने की बात कही.

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) का एक वीडियो शेयर कर दावा किया जा रहा है कि इसमें वो राजस्थान के उदयपुर में हुई कन्हैयालाल की हत्या को लेकर टिप्पणी कर रहे हैं. ये दावा राजस्थान में चल रहे विधानसभा चुनावों के बीच किया जा रहा है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

दावा : वीडियो के साथ शेयर हो रहे टेक्स्ट में दावा किया गया है कि इसमें राहुल गांधी उदयपुर में कन्हैयालाल के हत्यारों को छोड़ देने की बात कहते दिख रहे हैं.

दावा है कि राहुल गांधी ने उदयपुर में कन्हैयालाल के हत्यारों को बच्चा कहा और उन्हें माफ कर छोड़ देने की बात कही.

पोस्ट का अर्काइव यहां देखें

सोर्स : स्क्रीनशॉट/X (पूर्व में ट्विटर)

रिपोर्ट लिखे जाने तक वीजियो को 13000 से ज्यादा बार देखा जा चुका है. (यही दावा करते अन्य पोस्ट्स के अर्काइव यहां, यहां और यहां देखें)

0

क्या ये सच है ? : ये वीडियो जुलाई 2022 का है और इसमें राहुल गांधी कन्हैयालाल के हत्यारों को माफ करने की बात नहीं कह रहे. इसमें राहुल केरल के वायनाड में उनके कार्यालय में तोड़फोड़ करने वालों के बारे में बोलते दिख रहे हैं. ये घटना जून 2022 में हुई थी.

ADVERTISEMENT

हमने ये सच कैसे पता लगाया ? : कुछ कीवर्ड सर्च करने पर हमें The Times of India में छपी एक न्यूज रिपोर्ट मिली, जिसमें बताया गया है कि टीवी एंकर और कुछ बीजेपी समर्थकों पर राहुल गांधी के बयान को तोड़-मरोड़कर पेश करने के आरोप में FIR दर्ज की गई है.

  • रिपोर्ट में बताया गया है कि वायनाड में राहुल के कार्यालय पर हमले को लेकर दिए गए उनके बयान को कन्हैयालाल मर्डर से जोड़कर ''सांप्रदायिक द्वेष फैलाने के लिए'' गलत संदर्भ में पेश किया गया.

  • रिपोर्ट के आखिर में हमें राहुल गांधी का वायनाड ऑफिस में हमले को लेकर दिया गया बयान मिला. इसमें राहुल हमला करने वालों को ''बच्चे'' कहते दिख रहे हैं. साथ ही कह रहे हैं कि उन्हें माफ कर दिया जाए और कोई एक्शन ना लिया जाए.

दावा है कि राहुल गांधी ने उदयपुर में कन्हैयालाल के हत्यारों को बच्चा कहा और उन्हें माफ कर छोड़ देने की बात कही.

रिपोर्ट 3 जुलाई 2022 को पब्लिश की गई थी

सोर्स : स्क्रीनशॉट/TOI

ADVERTISEMENTREMOVE AD

अन्य सोर्स : हमें एक वीडियो भी मिला, जिसमें वायरल वीडियो से मिलते हुए विजुअल थे. वीडियो यूट्यूब चैनल News18 Kerala पर अपलोड किया गया था.

वीडियो 2 जुलाई 2022 को अपलोड किया गया था और इसके टाइटल में बताया गया है कि राहुल ने कार्यालय पर हमला करने वालों को लेकर कहा कि उन्हें बच्चों पर कोई गुस्सा नहीं है.

ADVERTISEMENT

वीडियो में 1:00 मिनट पर वायनाड कार्यालय पर हमले के बारे में एक पत्रकार के सवाल का जवाब देते हुए राहुल गांधी कहते हैं "सबसे पहले, यह मेरा कार्यालय है, लेकिन मेरा कार्यालय होने से पहले, यह लोगों का कार्यालय है. यह वायनाड के लोगों की आवाज का कार्यालय है. इसलिए, यह काफी घटना है."

"देश में हर जगह आप यह विचार देखते हैं कि हिंसा से समस्याएं हल हो जाएंगी लेकिन हिंसा कभी भी समस्याओं का समाधान नहीं करती है. हालांकि, जिन बच्चों ने ऐसा किया, मेरा मतलब है कि वे भी बच्चे हैं. इसलिए, यह ठीक नहीं है, ऐसा करना अच्छी बात नहीं है. उन्होंने गैर-जिम्मेदाराना तरीके से काम किया है. मेरे मन में उनके प्रति कोई गुस्सा या दुश्मनी नहीं है, उन्होंने मूर्खतापूर्ण काम किया है. इसलिए हमें इसे वहीं छोड़ देना चाहिए."
राहुल गांधी, कांग्रेस नेता
ADVERTISEMENTREMOVE AD

इसी दौरान एक रिपोर्टर ने राहुल को टोकते हुए कहा, 'आप उन्हें बच्चे कह रहे हैं, जबकि उन्होंने ..।'

राहुल ने तुरंत जवाब देते हुए कहा, "वे बच्चे हैं, मुझे नहीं लगता कि वे इस प्रकार की चीजों के नतीजों को समझते हैं. मुझे लगता है कि जहां तक ​​उनका संबंध है, हमें माफ कर देना चाहिए."

ADVERTISEMENT

ऐसा ही दावा : द क्विंट ने साल 2022 में इसी दावे की पड़ताल की थी. जब न्यूज चैनल Zee News इसी इंटरव्यू के विजुअल शेयर कर दावा किया था कि राहुल गांधी कन्हैयालाल के हत्यारों का पक्ष ले रहे हैं. मीडिया संस्थान ने भ्रामक दावा करने को लेकर बाद में माफी भी मांगी थी.

दावा है कि राहुल गांधी ने उदयपुर में कन्हैयालाल के हत्यारों को बच्चा कहा और उन्हें माफ कर छोड़ देने की बात कही.

रिपोर्ट 5 जुलाई 2022 को अपडेट की गई थी 

सोर्स : The Quint

ADVERTISEMENTREMOVE AD

निष्कर्ष : साफ है कि वायनाड कार्यालय पर हुए हमले पर बात करते राहुल गांधी का वीडियो गलत संदर्भ के साथ शेयर किया जा रहा है.

(अगर आपके पास भी ऐसी कोई जानकारी आती है, जिसके सच होने पर आपको शक है, तो पड़ताल के लिए हमारे वॉट्सऐप नंबर  9540511818 या फिर मेल आइडी webqoof@thequint.com पर भेजें. सच हम आपको बताएंगे. हमारी बाकी फैक्ट चेक स्टोरीज आप यहां पढ़ सकते हैं)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×