ADVERTISEMENT

क्वीन एलिजाबेथ ने नहीं दी PM मोदी को बधाई, फेक है बिलबोर्ड की फोटो

ओरिजिनल फोटो अप्रैल 2020 की है. जिसमें कोरोना महामारी को लेकर आशा भरा संदेश लिखा था.

Updated
ये फोटो एडिटेड करके गलत दावे से वायरल हो रही है
i

लंदन के पिकैडली स्क्वायर में लगे बिलबोर्ड की एक एडिटेड फोटो सोशल मीडिया पर झूठे दावे से वायरल हो रही है. दावा किया जा रहा है कि क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय ने यूनाइटेड किंगडम को कोविड वैक्सीन देने के लिए पीएम मोदी को शुक्रिया अदा किया है.

ओरिजिनल फोटो अप्रैल 2020 की है. जिसमें कोरोना महामारी को लेकर आशा भरा संदेश लिखा था. इसे एडिट करके “Thank you PM Modi for sending us COVID-19 vaccines. You’re a good boy” लिख दिया गया है. यानी कोविड-19 वैक्सीन देने के लिए पीएम मोदी को शुक्रिया.

दावा

इस फोटो को फेसबुक यूजर पवन कुमार ने शेयर किया था. इसे 1000 से ज्यादा लाइक मिल चुके हैं. फेसबुक के फैक्ट चेकिंग टूल के अनुसार इस स्टोरी को लिखते समय तक पोस्ट को 12 लाख से भी ज्यादा बार देखा जा चुका है.

यूजर ने फोटो को इस कैप्शन के साथ शेयर किया था, ''लंदन में महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने इंग्लैंड को कोरोना वैक्सीन की मदद देने के लिए #मोदीजी को धन्यवाद ज्ञापन देते हुए बिलबोर्ड लगाया है । ये हमारे देश के लिए कितने गर्व की बात है कि- हिंदुस्तान पर 200 वर्षों तक शासन करनेवाले अंग्रेज भी आज हमसे मदद ले रहे हैं, और हमारी प्रशंसा भी कर रहे हैं । धन्यवाद मोदीजी, जो आज आपने पुनः हमे गर्वोंवित किया ।''

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://perma.cc/A44S-URH4">यहां </a>क्लिक करें
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
(सोर्स: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)
 पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://perma.cc/MV5Z-KYCH">यहां </a>क्लिक करें
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
(सोर्स: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)
 पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://archive.st/archive/2021/3/twitter.com/vk5v/">यहां </a>क्लिक करें
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://archive.st/archive/2021/3/twitter.com/ow1d/">यहां </a>क्लिक करें
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

पड़ताल में हमने क्या पाया

फोटो को रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें ऐसी कई मीम- टेंप्लेट बनाने वाली वेबसाइट मिलीं जहां से यूजर क्वीन की फोटो वाले बिलबोर्ड का टेक्स्ट बदल सकता है. अप्रैल 2020 में ये बिलबोर्ड लगाने के बाद से इस पर कई मीम बनाए जा चुके हैं जो काफी पॉपुलर हुए है.

ओरिजिनल फोटो में लिखा हुआ है, ''हम अपने दोस्तों के साथ फिर से रहेंगे; हम फिर से अपने परिवार के साथ होंगे; हम फिर से मिलेंगे,'' इस मैसेज को क्वीन एलिजाबेथ की तरफ से लिखा गया था. इसे BBC लंदन ने 8 अप्रैल 2020 को शेयर किया था.

इस फोटो को BBC लंदन ने 8 अप्रैल 2020 को शेयर किया था
इस फोटो को BBC लंदन ने 8 अप्रैल 2020 को शेयर किया था
(फोटो: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

हमें Getty Images पर ओरिजिनल बिलबोर्ड की अलग ऐंगल से खींची गई फोटो मिली. जिसमें न्यूज एजेंसी AFP के फोटोग्राफर ग्लेन कर्क को क्रेडिट दिया गया है. बिलबोर्ड को सेंट्रल लंदन के पिकैडली स्क्वायर में लगाया गया था.

ये फोटो AFP के फोटोग्राफर ग्लेन कर्क ने खींची थी
ये फोटो AFP के फोटोग्राफर ग्लेन कर्क ने खींची थी
(फोटो: फोटो: स्क्रीनशॉट/Getty Images)

यूके की सरकार ने 2 मार्च को घोषणा की थी कि वे कोविड-19 वैक्सीन भारत से लेंगे. लेकिन हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली जिसमें ये बताया गया हो कि लंदन में पीएम मोदी को धन्यवाद कहने के लिए बिलबोर्ड लगाया गया है.

यूके सरकार के प्रवक्ता ने Reuters को बताया कि उन्होंने AstraZeneca’ की COVID-19 वैक्सीन की 10 करोड़ डोज के लिए ऑर्डर किया है. इनमें से 1 करोड़ डोज सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से आएंगी.

मतलब साफ है कि क्वीन एलिजाबेथ के मैसेज वाले बिलबोर्ड की एक पुरानी फोटो को एडिट करके गलत दावे से शेयर किया जा रहा है कि इस बिलबोर्ड तो पीएम मोदी को कोविड 19 वैक्सीन देने के लिए शुक्रिया अदा करने के लिए लगाया गया है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT