ADVERTISEMENTREMOVE AD

Madhya Pradesh नहीं, उत्तर प्रदेश का है बीजेपी नेताओं में मारपीट का ये वीडियो

Fact Check: वायरल वीडियो उत्तर प्रदेश के संत कबीरनगर का है और साल 2019 का है. तब दो बीजेपी नेताओं के बीच मारपीट हुई थी.

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

सोशल मीडिया पर मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) का बताकर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें किसी मीटिंग के बीच एक शख्स दूसरे शख्स पर जूते से हमला करता दिख रहा है.

क्या है दावा?: वीडियो को मध्य प्रदेश और वहां होने वाले चुनावों से जुड़े हैशटैग के साथ शेयर किया जा रहा है. दिखाने की कोशिश की जा रही है कि ये घटना मध्य प्रदेश की है और हालिया है. मध्य प्रदेश में 17 नवंबर को विधानसभा चुनावों के लिए वोटिंग होनी है.

Fact Check: वायरल वीडियो उत्तर प्रदेश के संत कबीरनगर का है और साल 2019 का है. तब दो बीजेपी नेताओं के बीच मारपीट हुई थी.

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/X)

(ऐसे पोस्ट के आर्काइव आप यहां, यहां और यहां देख सकते हैं.)

ADVERTISEMENTREMOVE AD

सच क्या है?: ये वीडियो न तो मध्य प्रदेश का है और न ही हालिया है.

  • ये वीडियो उत्तर प्रदेश के संत कबीर नगर का है, जहां मार्च 2019 में दो बीजेपी नेताओं के बीच मारपीट की ये घटना हुई थी.

हमने सच का पता कैसे लगाया?: ये वीडियो पहले भी वायरल हो चुका है. साल 2022 में यही वीडियो दिल्ली का बताकर झूठे दावे से शेयर किया गया था.

  • पड़ताल में हमें ANI का X पर किया गया एक पोस्ट मिला, जिसे 6 मार्च 2019 को शेयर किया गया था.

  • इसमें इसी घटना का दूसरे एंगल से शूट किया गया वीडियो इस्तेमाल किया गया था.

  • कैप्शन के मुताबिक, बीजेपी सांसद शरद त्रिपाठी और बीजेपी के ही विधायक राकेश सिंह बघेल के बीच बहस हो गई थी. ये बहस किसी परियोजना के शिलान्यास को लेकर हुई थी.

0
  • हमें क्विंट हिंदी के संवाददाता पीयूष राय का भी एक पोस्ट मिला, जिसमें बताया गया था कि ये झगड़ा शिलापट में सांसद का नाम न होने की वजह से शुरू हुआ था. इस पोस्ट में वही वीडियो इस्तेमाल किया गया था जो वायरल हो रहा है.

  • इसके बाद सांसद त्रिपाठी ने विधायक बघेल पर जूतों से हमला कर दिया.

घटना से जुड़ी न्यूज रिपोर्ट्स: हमें इस घटना से जुड़ी कई न्यूज रिपोर्ट्स भी मिलीं.

  • India Today की रिपोर्ट के मुताबिक, यूपी में जिला कार्य योजना समिति की बैठक में बघेल और त्रिपाठी में मारपीट हो गई.

  • बघेल ने बीजेपी के अन्य सदस्यों के साथ त्रिपाठी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर जिलाधिकारी कार्यालय के बाहर प्रदर्शन भी किया था.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

सांसद शरद त्रिपाठी का हो चुका है निधन: वीडियो में दिख रहे सांसद शरद त्रिपाठी का 30 जून 2021 को निधन हो गया है. त्रिपाठी लिवर की समस्या से जूझ रहे थे. उन्हें गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

निष्कर्ष: साफ है कि उत्तर प्रदेश का 4 साल पुराना वीडियो मध्य प्रदेश का हाल का बताकर गलत दावे से शेयर किया जा रहा है.

(अगर आपके पास भी ऐसी कोई जानकारी आती है, जिसके सच होने पर आपको शक है, तो पड़ताल के लिए हमारे वॉट्सऐप नंबर 9643651818 या फिर मेल आइडी webqoof@thequint.com पर भेजें. सच हम आपको बताएंगे. हमारी बाकी फैक्ट चेक स्टोरीज आप यहां पढ़ सकते हैं)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×