ADVERTISEMENT

कमला हैरिस ने नहीं कहा 'वही लोग मर रहे हैं जिन्हें कोरोना वैक्सीन लग चुकी है'

कमला हैरिस ने कहा कि जो लोग कोविड की वजह से बीमार हुए, उनमें से ज्यादातर को वैक्सीन नहीं लगी. वायरल वीडियो एडिटेड है

Published
<div class="paragraphs"><p>कमला हैरिस ने नहीं कहा कि कोरोना वैक्सीन लेने वाले हो रहे हैं कोरोना से पीड़ित</p></div>
i

(वीडियो देखने से पहले आपसे एक अपील है. उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, बिहार और असम में ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं के बीच कोरोना वैक्सीन को लेकर फैल रही अफवाहों को रोकने के लिए हम एक विशेष प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं. इस प्रोजेक्ट में बड़े पैमाने पर संसाधनों का इस्तेमाल होता है. हम ये काम जारी रख सकें इसके लिए जरूरी है कि आप इस प्रोजेक्ट को सपोर्ट करें. आपके सपोर्ट से ही हम वो जानकारी आप तक पहुंचा पाएंगे जो बेहद जरूरी हैं.

धन्यवाद - टीम वेबकूफ)

ADVERTISEMENT

अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस (Kamala Harris) का एक वीडियो सोशल मीडिया पर कई यूजर्स शेयर कर रहे हैं. इसे शेयर कर दावा किया जा रहा है कि उन्होंने कहा है कि ''जो लोग Covid-19 की वजह से अस्पताल में भर्ती किए गए थे या इसकी वजह से मर रहे हैं उन्हें वैक्सीन की 2 से 3 डोज लगाई जा चुकी थीं.

हालांकि, हमने पाया कि ओरिजिनल वीडियो को एडिट कर झूठा दावा किया गया है. ओरिजिनल वीडियो में हैरिस को ये कहते हुए सुना जा सकता है कि ''लगभग हर वो शख्स जो अभी हॉस्पिटल में है या कोविड 19 की वजह से बीमार हुआ है, उसे टीका नहीं लगा है.''

जुलाई 2021 में डेट्रॉइट में आयोजित एक वैक्सीन मोबिलाइजेशन इवेंट में उन्होंने कहा था, "वास्तव में हर वो शख्स जिसकी कोविड की वजह से मौत हुई है, हाल में हमने देखा है कि उसे वैक्सीन नहीं लगी थी.''

दावा

वीडियो को शेयर कर कैप्शन में लिखा जा रहा है "इस विडियो में अमेरिका की उपराष्ट्रपति ये कह रही हैं कि हाल में अमेरिका में जितने भी लोग कोविड से बीमार हुए हैं और अस्पताल में भर्ती हुए हैं..उन सब को 2 या 3 वैक्सीन लग चुकी थीं और जितने भी लोग मरे हैं उनका भी पूर्ण टीका करण हो चुका था ! सवाल ये है कि हमारी सरकारें किस कि दलाली करने में लगी हुई हैं..?"

<div class="paragraphs"><p>पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://perma.cc/3KPQ-9LC6">यहां</a> क्लिक करें</p></div>

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)

इस दावे को ट्विटर पर इस कैप्शन के साथ शेयर किया गया है, '''असल में हर कोई जो हॉस्पिटल में कोविड की वजह से भर्ती है...उसे टीका लगाया जा चुका है' - वी.पी. कमला हैरिस." नवंबर 2021 में भी इसी तरह के दावे वायरल हुए थे.

इस तरह के और भी पोस्ट के आर्काइव आप यहां और यहां देख सकते हैं. हमने पाया कि ये वीडियो WhatsApp में भी शेयर किया जा रहा है.

ADVERTISEMENT

पड़ताल में हमने क्या पाया

हमने InVID टूल का इस्तेमाल कर वीडियो को कई कीफ्रेम में बांटा और उनमें रिवर्स इमेज सर्च किया. हमें वाइट हाउस की ऑफिशियल यूट्यूब चैनल पर 12 जुलाई 2021 को प्रकाशित एक वीडियो मिला.

हमें वाइट हाउस की वेबसाइट पर इस संबोधन का ट्रांसक्रिप्शन भी मिला, लेकिन इसमें वो बातें नहीं लिखीं थीं जो वायरल दावे में कही जा रही हैं.

अपने संबोधन में हैरिस ने कहा, ''करीब हर वो शख्स जो कोविड की वजह से अस्पताल में है, उसे वैक्सीन नहीं लगी है. मैं इसे दोहराने जा रही हूं. असल में - ये फैक्ट है - ध्यान दीजिए -(हंसी और तालियां). वास्तव में, इस समय जो भी शख्स कोरोना की वजह से बीमार है और अस्पताल में है, उसका टीकाकरण नहीं हुआ है.''

वो आगे कहती हैं, "और इससे भी ज्यादा, अफसोस की बात है, लगभग हर वो शख्स जिसकी हाल ही में कोविड की वजह मौत हुई है, उसका टीकाकरण नहीं हुआ था

वायरल वीडियो को एडिट कर 'अनवैक्सीनेटेड' शब्द को 'वैक्सीनेटेड' से बदल दिया गया है.

डॉक्टरों, स्वास्थ्य विशेषज्ञों और भारत के केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने बार-बार COVID-19 के प्रभाव और प्रसार को कम करने के लिए व्यापक तौर पर टीकाकरण पर जोर दिया है.

मतलब साफ है, एक एडिटेड वीडियो को इस झूठे दावे से शेयर किया जा रहा है कि अमेरिका की उपराष्ट्रपति ने कहा है कि कोविड 19 की वजह से जो लोग अस्पताल में भर्ती हुए या जिनकी इस वजह से मौत हो गई, उनमें से अधिकांश को टीका लगाया जा चुका है.

(ये स्टोरी द क्विंट के कोविड-19 और वैक्सीन पर आधारित फैक्ट चेक प्रोजेक्ट का हिस्सा है, जो खासतौर पर ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं के लिए शुरू किया गया है.)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT