ADVERTISEMENT

वैक्सीन की जगह खाली इंजेक्शन लगाती नर्स,भारत का नहीं है वीडियो

मैक्सिको में युवक को बिना वैक्सीन के खाली इंजेक्शन लगाती हेल्थवर्कर का वीडियो भारत का  बताकर वायरल

Published
वैक्सीन की जगह खाली इंजेक्शन लगाती नर्स,भारत का नहीं है वीडियो
i

रोज का डोज

निडर, सच्ची, और असरदार खबरों के लिए

By subscribing you agree to our Privacy Policy

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक हेल्थवर्कर एक युवक को खाली सिरिंज लगाती दिख रही है. वीडियो भारत का बताकर शेयर किया जा रहा है.

वेबकूफ की पड़ताल में सामने आया कि वीडियो भारत नहीं मेक्सिको का है. वीडियो ऐसे वक्त पर शेयर किया जा रहा है जब भारत वैक्सीन के 14 करोड़ डोज का आंकड़ा पार कर चुका है. हेल्थ मिनिस्ट्री ने 26 अप्रैल को आंकड़े जारी कर बताया कि भारत में वैक्सीन के 14,19,11,223 डोज लगाए जा चुके हैं.

ADVERTISEMENT

दावा

ट्विटर पर वीडियो के साथ शेयर किया जा रहा कैप्शन है - Watch closely. The injection is withdrawn without administering the vaccine! So be alert big racket in hospital in India

हिंदी अनुवाद - ध्यान से देखिए, बिना वैक्सीन के ही इंजेक्शन लगाया जा रहा है. भारत के अस्पतालों में सावधान रहें.

पोस्ट का अर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
सोर्स : स्क्रीनशॉट/ट्विटर
ADVERTISEMENT

कई यूजर्स ने इस वीडियो को महाराष्ट्र का बताकर शेयर किया और मुंबई म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन को ट्वीट में टैग भी किया. ऐसे पोस्ट्स का अर्काइव यहां और यहां देखा जा सकता है.

द क्विंट की वॉट्सएप टिपलाइन पर भी ये वीडियो कई रीडर्स ने पड़ताल के लिए भेजा.

ADVERTISEMENT

पड़ताल में हमने क्या पाया

वायरल वीडियो के कीफ्रेम्स को गूगल पर रिवर्स सर्च करने से हमें कोलंबिया के अखबार El Tiempo की रिपोर्ट हमें मिली.

रिपोर्ट से क्लू लेकर हमने गूगल पर मामले से जुड़े अलग-अलग कीवर्ड सर्च किए. हमें ऐसी कई रिपोर्ट्स मिलीं जिनसे पुष्टि होती है कि वीडियो मैक्सिको का है.

मैक्सिको की इंडिपेंडेंट न्यूज वेबसाइट Aristegui Noticias के आर्टिकल से पता चलता है कि वीडियो ‘मैक्सिकन इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल सिक्योरिटी’ (IMSS) का है.

ADVERTISEMENT

हेल्थवर्कर ने खाली सिरिंज लगाई थी. मामला सामने आने के बाद उसे नौकरी से निकाल दिया गया था. IMSS ने भी इस मामले की जानकारी देता ट्वीट भी किया था. जिससे पता चलता है कि मामला 3 अप्रैल का है. युवक को बाद में वैक्सीन लगा दी गई थी.

ADVERTISEMENT

IMSS के स्पष्टीकरण में बताया गया है कि वॉलेंटियर से गलती हुई थी. और मैक्सिको सिटी के हेल्थ सेक्रिट्रिएट को इसका खेद है.

मतलब साफ है कि मैक्सिको का वीडियो सोशल मीडिया पर भारत का बताकर शेयर किया जा रहा है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
450

500 10% off

1620

1800 10% off

4500

5000 10% off

or more

प्रीमियम

3 माह
12 माह
12 माह

गणतंत्र दिवस स्पेशल डिस्काउंट. सभी मेंबरशिप प्लान पर 10% की छूट

मेंबर बनने के फायदे
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×