ADVERTISEMENT

IB के नाम पर बंगाल, तमिलनाडु के चुनावी नतीजों का फेक आकलन वायरल

वायरल हो रही रिपोर्ट के मुताबिक पश्चिम बंगाल की नंदीग्राम सीट पर बीजेपी जीत हासिल करेगी

Published
दावा किया  है कि तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल चुनाव के नतीजों का एक आकलन सामने आया है
i

चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में होने जा रहे विधानसभा चुनावों की वोटिंग शुरू हो चुकी है. इसी बीच सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल चुनाव के नतीजों का एक आकलन सामने आया है, दावा किया जा रहा है ये आकलन इटेलीजेंस ब्यूरो (IB) और इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमेटी (I-PAC) का है.

सर्वे को फेसबुक और ट्विटर पर शेयर किया जा रहा है.

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://perma.cc/N2PR-SWS6">यहां </a>क्लिक करें
पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
सोर्स : स्क्रीनशॉट/फेसबुक

ऐसे ही एक दावे का आर्काइव यहां देखें

ADVERTISEMENT
IB के नाम पर बंगाल, तमिलनाडु के चुनावी नतीजों का फेक आकलन वायरल
सोर्स : स्क्रीनशॉट/ट्विटर

ऐसे ही एक पोस्ट का आर्काइव यहां भी देखें

ADVERTISEMENT

चुनावों के सर्वे नहीं करता इंटेलीजेंस ब्यूरो

इंटेलीजेंस ब्यूरो (IB) केंद्रीय गृह मंत्रालय के अंतर्गत काम करने वाली भारतीय जांच एजेंसी है. द वायर की रिपोर्ट के मुताबिक, इसकी स्थापना आजादी से पहले 1857 में हुई थी.

इकनॉमिक एंड पॉलिटिकल वीकली के साल 2005 के आर्टिकल के मुताबिक, गृह मंत्रालय ने कहा कि राजनीतिक और सामाजिक टकराव से जुड़ी सूचना का प्रमुख सोर्स IB है.

इंटेलीजेंस ब्यूरो चुनावी नतीजों के आकलन के लिए सर्वे नहीं कराता है
ADVERTISEMENT

प्रेस इंफॉर्मेशन ब्यूरो ने भी IB नाम पर शेयर की जा रही सर्वे रिपोर्टस को फेक बताया है.

IB के नाम पर बंगाल, तमिलनाडु के चुनावी नतीजों का फेक आकलन वायरल
सोर्स : स्क्रीनशॉट/ट्विटर
ADVERTISEMENT

I-PAC के सर्वे में टीएमसी की हार का आकलन?

वायरल हो रही दोनों ही सर्वे रिपोर्ट्स में बीजेपी को हारता दिखाया गया है. लेकिन, I-PAC के नाम पर वायरल हो रहे सर्वे में दिखाया गया है कि पश्चिम बंगाल की नंदीग्राम सीट पर बीजेपी जीत रही है. हालांकि, I-PAC के ऑफिशियल हैंडल से ट्वीट कर इस सर्वे को फेक बताया जा चुका है.

ADVERTISEMENT

वायरल हो हे कथित सर्वे डॉक्यूमेंट को ध्यान से देखने पर इसमें ‘Prateek Jain’ के हस्ताक्षर भी देखे जा सकते हैं.

I-PAC के को-फाउंडर और डायरेक्टर प्रतीक जैन ने ट्वीट कर बताया कि यहां उनके नाम की स्पेलिंग तक गलत लिखी है.

वायरल स्क्रीनशॉट में तृणमूल कांग्रेस के लिए ‘AITMC’ लिखा हुआ है. जबकि पार्टी के नाम के लिए ‘TMC’ या ‘AITC’ का इस्तेमाल होता है, ‘AITMC नहीं.

I-PAC एक पॉलिटिकल स्ट्रैटजी बनाने वाली कंपनी है, जिसके संस्थापक प्रशांत किशोर हैं. कई चुनावों में उन पार्टियों ने जीत हासिल की है, जिनकी स्ट्रैटजी प्रशांत किशोर ने बनाई थी.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT