ADVERTISEMENT

Agnipath Scheme से पहले की है युवक की आत्महत्या की घटना, वायरल दावा झूठा है

युवक की आत्महत्या की घटना हरियाणा के भिवानी की है जिसे 'Agnipath' योजना से जोड़कर शेयर किया जा रहा है.

Published
Agnipath Scheme से पहले की है युवक की आत्महत्या की घटना, वायरल दावा झूठा है
i

केंद्रीय रक्षा मंत्रालय की नई अग्निपथ योजना (Agnipath Scheme) के विरोध के बीच, सोशल मीडिया पर एक न्यूजपेपर की कटिंग वायरल हो रही है. फोटो में भारतीय सेना में भर्ती न होने की वजह से एक युवक की आत्महत्या करने से जुड़ी खबर है. सरकार की ओर से 'अग्निपथ' योजना शुरू किए जाने के बाद कई राज्यों में विरोध प्रदर्शन (Agnipath Protest) और हिंसा हुई है.

ADVERTISEMENT

हालांकि, हमने पाया कि युवक की आत्महत्या की घटना से जुड़ी खबर की जो फोटो वायरल हो रही है, वो हरियाणा के भिवानी की है और ये घटना 'अग्निपथ' योजना आने से पहले हुई थी. घटना अप्रैल 2022 की है, जब एक 23 साल के युवक ने भारतीय सेना में शामिल न हो पाने के बाद आत्महत्या कर ली थी.

दावा

न्यूजपेपर की कटिंग में लिखा हुआ है, ''बापू! इस जन्म में फौजी नहीं बन पाया, अगले जन्म में जरूर बनूंगा''

वायरल कटिंग शेयर कर कैप्शन में वर्तमान सरकार पर कटाक्ष करते हुए आत्महत्या के लिए 'अग्निपथ' योजना को जिम्मेदार बताया गया है.

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

ऐसे ही दूसरे पोस्ट के आर्काइव यहां, यहां और यहां देख सकते हैं.

ADVERTISEMENT

पड़ताल में हमने क्या पाया

न्यूजपेपर कटिंग की फोटो को गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च करने पर, हमें Today Haryana नाम की एक वेबसाइट पर पब्लिश एक आर्टिकल मिला.

ये रिपोर्ट 29 अप्रैल 2022 को पब्लिश हुई थी. वायरल न्यूजपेपर कटिंग की फोटो का इस्तेमाल इसी रिपोर्ट में किया गया था.

29 अप्रैल 2022 को पब्लिश रिपोर्ट का स्क्रीनशॉट

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/वेबसाइट)

आर्टिकल के मुताबिक, ये घटना हरियाणा के भिवानी में हुई थी, जहां एक युवक ने कई बार प्रयास के बाद भी भारतीय सेना में भर्ती न हो पाने की वजह से ये कदम उठाया था.

गूगल पर 'army aspirant suicide Bhiwani Haryana' कीवर्ड का इस्तेमाल कर सर्च करने पर हमें घटना से जुड़ी रिपोर्ट India Today, Indian Express, और Hindustan Times पर भी मिलीं.

Hindustan Times की रिपोर्ट के मुताबिक, सेना में भर्ती की तैयारी करने वाला 23 साल के उम्मीदवार ने तीन बार भर्ती देखी, लेकिन अंतिम कट-ऑफ में जगह नहीं बना सका. कोरोना महामारी की वजह से वो सेना में शामिल नहीं हो पाया. महामारी के दौरान पिछले तीन सालों से सेना में भर्ती नहीं की गई, जिस वजह से उसकी उम्र भी निकल गई.

रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें 29 अप्रैल की एक पुरानी पोस्ट भी मिली, जिसमें Dainik Bhaskar पेपर की कटिंग थी. तारीख में 'शुक्रवार, 29 अप्रैल' देखा जा सकता है.

यहां से क्लू लेकर हमने उसी तारीख के Dainik Bhaskar के ऑनलाइन वर्जन की तलाश की और हमें घटना से जुड़ा आर्टिकल मिला.

दैनिक भास्कर में छपी 29 अप्रैल 2022 की रिपोर्ट

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/Dainik Bhaskar/Altered by The Quint)

ADVERTISEMENT

क्या है 'अग्निपथ' योजना?

केंद्र की नई 'अग्निपथ' योजना के खिलाफ पूर देश में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार, हरियाणा, तेलंगाना, ओडिशा, प्रश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश, पंजाब, झारखंड और असम सहित देश के 11 राज्यों में हिंसा की घटनाएं भी हुई हैं. प्रदर्शनकारियों ने गाड़ियों, पुलिस थानों और ट्रेनों में आग लगा दी है.

बता दें कि केंद्र ने 14 जून को 'अग्निपथ' योजना शुरू की है. इसके तहत थल, वायु और नौसेना में शॉर्ट टर्म के लिए कॉन्ट्रैक्ट के आधार पर सैनिकों की भर्ती की जायेगी.

इस योजना के तहत हर साल भर्ती होने वाले 40 से 50 हजार सैनिकों में से सिर्फ 25 प्रतिशत को ही स्थायी तौर पर नौकरी दी जाएगी.

विरोध के बीच, सरकार ने इस योजना के तहत भर्ती के लिए ऊपरी आयु सीमा 21 से बढ़ाकर 23 कर दी है.

युवक की आत्महत्या की घटना 'अग्निपथ' योजना की शुरुआत से पहले की है जिसे झूठे दावे से शेयर किया जा रहा है.

(अगर आपके पास भी ऐसी कोई जानकारी आती है, जिसके सच होने पर आपको शक है, तो पड़ताल के लिए हमारे वॉट्सऐप नंबर 9643651818 या फिर मेल आइडी webqoof@thequint.com पर भेजें. सच हम आपको बताएंगे. हमारी बाकी फैक्ट चेक स्टोरीज आप यहां पढ़ सकते हैं )

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×